श्रीमद्भागवत कथा को लेकर जलकलश यात्रा निकाली

श्रीमद्भागवत कथा को लेकर जलकलश यात्रा निकाली

Pawan Kumar Sharma | Publish: Sep, 16 2018 06:29:02 PM (IST) | Updated: Sep, 16 2018 06:29:03 PM (IST) Tonk, Rajasthan, India

गावं के तालाब किनारे विधि विधान से पूजनकर महिलाओं ने सिर पर कलश धारणकर बैण्डबाजों के साथ जलकलशयात्रा शुरू की

 

बंथली. गैरोली के जानकीरायजी मंदिर में शुरू हुई सात दिवसीय श्रीमद्भागवत कथा को लेकर महिलाओं ने बैण्डबाजों के साथ जलकलशयात्रा निकाली। कथा की शुरुआत कर कथा वाचक पं. रामेश्वर दाधीच ने कहा कि सतसंग में होने वाली प्रभु भक्ति दुखों का नाश करती है। कथा समिति के सियाराम प्रजापत, ओमप्रकाश गुर्जर ने बताया गावं के तालाब किनारे विधि विधान से पूजन कर महिलाओं ने सिर पर कलश धारणकर बैण्डबाजों के साथ जलकलश यात्रा शुरू की, जो गांव के भ्रमण के बाद जानकीराय मंदिर पहुंची।

भागवत कथा का समापन हुआ
नगरफोर्ट. मांडकला सरोवर तट स्थित धरणीधर मंदिर में भगवान धरणीधर के जन्मोत्सव के उपलक्ष में सात दिवसीय चल रही भागवत कथा का समापन हुआ। इस अवसर पर धाकड़ महासभा प्रदेश अध्यक्ष हेमराज धाकड़, प्रदेश महामंत्री नीलम धाकड़, नरेंद्र धाकड़, डॉ. प्रहलाद धाकड़, धाकड़ युवा महासभा जिलाध्यक्ष नवनीत धाकड़, समिति अध्यक्ष जग्गा पटेल, हरिशंकर आदि मौजूद थे।

उत्तम मार्दव धर्म की पूजा-अर्चना क
मालपुरा. ग्राम लावा में श्रीमुनि सुव्रतनाथ दिगम्बर जैन मन्दिर में चल रहे पर्युषण पर्व के तहत श्रद्धालुओं ने उत्तम मार्दव धर्म की पूजा-अर्चना की। वहीं श्रीअग्रवाल सेवा सदन पाण्डुक शिला में पं. अंकित शास्त्री के सान्निध्य में उत्तम मार्दव धर्म की पूजा-अर्चना की गई।
मार्दव धर्म की महिमा बताते हुए पं. अंकित शास्त्री ने कहा कि लोगों को हमेशा अपने जीवन में विनम्रता अपनानी चाहिए। आदिनाथ जैन मंदिर, पाण्डुक शिला स्थित शंातिनाथ मंदिर, अग्रवाल मंदिर बृजलालनगर, मंदिर चौधरियान, मंदिर तेरापंथियान, मंदिर टोडान, डिग्गी, टोरडी, पचेवर सहित कई मंदिरों में सुबह जिनेन्द्र भगवान का जिनाभिषेक, शांतिधारा कर दस लक्षण पर्व के अन्तर्गत उत्तम मार्दव धर्म की पूजा-अर्चना की गई।

श्रद्धालुओंं का तांता लग रहा

अलीगढ़. कस्बे में गणेश चतुर्थी से शुरू हुए गणेश महोत्सव के दौरान विभिन्न धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन किया जा रहा है। गणेश महोत्सव के तहत बालाकिला चौराहे स्थित गणेश जी मंदिर में रोशनी से सजावट की गई। मंदिर में दर्शनों के लिए सुबह व शाम को श्रद्धालुओंं का तांता लग रहा है।

वार्षिक मेला शुरू
बनेठा. ककोड़ कस्बे स्थित वीर तेजाजी धाम पर शनिवार को दो दिवसीय वार्षिक मेले शुरू हुआ। वीर तेजाजी समिति के अध्यक्ष जमनालाल माली व पुजारी छीतर लाल प्रजापत के सान्निध्य मेंवार्षिक मेले का आयोजन किया गया है।

बंथली क्षेत्र के गैरोली में जलकलशयात्रा निकालती महिलाएं।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पड़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते है । हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते है ।
OK
Ad Block is Banned