video: कार्यशाला में प्रारम्भिक शिक्षा के दौरान नवीन शिक्षण पद्धतियों पर प्रकाश डाला

pawan sharma

Publish: Oct, 13 2017 09:30:29 (IST)

Gulzar Bagh, Tonk, Rajasthan, India
video: कार्यशाला में प्रारम्भिक शिक्षा के दौरान नवीन शिक्षण पद्धतियों पर प्रकाश डाला

राजकीय शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान टोंक के माध्यम से निजी शिक्षण संस्था प्रधानों की एक दिवसीय कार्यशाला हुई।

उनियारा.

गढ़ परिसर स्थित राजकीय शिक्षक प्रशिक्षण संस्थान टोंक के माध्यम से निजी शिक्षण संस्था प्रधानों की एक दिवसीय कार्यशाला गुरुवार को आयोजित की गई। इसमें डाइट के मुख्य प्रशिक्षक व्याख्याता कन्हैयालाल मीना एवं प्रशिक्षक रामप्रसाद मीना ने निजी शिक्षण संस्थाओं में प्रारम्भिक शिक्षा के दौरान विद्यार्थियों को सीखने की प्रक्रिया को मध्य नजर रखकर इन पर आधारित नवीन शिक्षण पद्धतियों पर प्रकाश डाला।

 

 

इस दौरान आरपीईवीएस विष्णुदत्त दाधीच, निजी शिक्षण संस्था ब्लॉक अध्यक्ष भीम सिंह गौड़, वरिष्ठ अध्यापक डोडवाडी शंकरलाल मीना, निजी शिक्षण संस्था जिला उपाध्यक्ष महेश कुमार प्रवक्ता भवानी शंकर , पारस पांचाला आदि मौजूद थे।

 


प्रशिक्षण में भाग लेंगे निजी विद्यालय
पीपलू. स्वयंसेवी सेवी शिक्षण संस्था संघ शाखा तहसील पीपलू की बैठक अध्यक्ष शिवजीराम यादव की अध्यक्षता में हुई। सचिव पूरणमल कामड़ ने बताया कि डाइट टोंक द्वारा 14 अक्टूबर को पीपलू के राउमा विद्यालय में होने वाले प्रशिक्षण में निजी विद्यालयों को भी 200 रुपए का शुल्क देकर शामिल होने का निर्णय सर्वसम्मति से लिया गया।

 


सांसी समाज का सम्मेलन

टोंक. युवा सांसी समाज का जिला सम्मेलन शहर के एक निजी गार्डन में हुआ। इसमें मुख्य अतिथि पूर्व राज्यमंत्री गोपाल केसवात ने कहा कि समाज की तरक्की के लिए शिक्षा को बढ़ावा देना चाहिए। साथ ही समाज को एकजुट होकर कार्य करना होगा। समाज में फैली कुरीती मृत्यु भोज, मोखाण, पशु बलि आदि को बंद करना होगा।

 

समाज में नशाखोरी के खिलाफ अभियान चलाया जाएगा। इसके लिए जिला स्तर पर जनचेतना अभियान जल्द शुरू होगा। इस दौरान युवा जिलाध्यक्ष महेशकुमार सांसी, सचिव हीरालाल व कोषाध्यक्ष घनश्याम को बनाया गया। सम्मेलन में कुलदीपसिंह, ओमप्रकाश, रणजीतसिंह, भीमसिंह, विक्रमसिंह, बिकन सिंह आदि मौजूद थे।

 

 

संस्कारों की दे रहे सीख
टोंक. माध्यमिक सरस्वती विद्या मन्दिर यज्ञ के बालाजी मन्दिर परिसर में गुरुवार को विद्या भारती परिचय सम्मेलन का आयोजन हुआ। इसमें मुख्य अतिथि डॉ. रामेश्वर शर्मा थे। उन्होंने सरकारी क्षेत्र के बाद निजी क्षेत्र में विद्याभारती सबसे बड़ा संगठन है। विद्याभारती की ओर से शिक्षा व संस्कार को लेकर कई प्रकल्प संचालित किए जा रहे हैं। अध्यक्षता कर रहे डॉ. प्रेमशंकर, व्यवस्थापक निपुण सक्सैना ने विचार व्यक्त किए।

टोंक शिक्षक कार्यशाला

Rajasthan Patrika Live TV

1
Ad Block is Banned