पुलिस उपाधीक्षक बनकर 80 हजार की ऑनलाइन ठगी


बैंक खाते से निकले पैसे

By: Vijay

Updated: 02 Sep 2020, 07:24 PM IST


मालपुरा. उपखंड के डिग्गी थाना अंतर्गत लावा निवासी के साथ पुलिस उप अधीक्षक बनकर भेजे लिंक को देखने की बात कह कर बैंक खाते से दो बार में 80 हजार रुपए पार कर लिए। थाना प्रभारी हीरालाल ने बताया कि लावा निवासी पुरुषोत्तम तिवाड़ी के पास 31 अगस्त को फोन आया कि वह पुलिस उप अधीक्षक बोल रहा है और उसको रुपयों की जरूरत है। उसके खाते में पैसे डलवा दो। उसने लिंक भेज कर उसे देख लेने को कहा। इस पर पुरुषोत्तम ने सोशल मीडिया पर आए लिंक को ऑन कर लिया। ऑन करते ही बैंक खाते से एक बार में 70 हजार एवं दूसरी बार 10 हजार निकल गए, जिसकी जानकारी लगते ही उन्होंने तत्काल पुलिस को मामले की जानकारी दी पुलिस ने साइबरक्राइम का मामला मानते हुए मामला दर्ज किया।
तालाब में डूबने से किसान की मौत
20 घंटे बाद अगले दिन मिला शव।
आवां.क्षेत्र के कनवाड़ा ग्राम पंचायत स्थित तालाब में डूबने से किसान की मौत हो गई। दूनी थाना प्रभारी गोविंद सिंह ने बताया कि63 वर्षीय किसान रामनिवास पुत्र छोटू लाल धाकड़ अन्य दिनों की भांति मंगलवार सुबह भैंसें लेकर खेत पर रखवाली के लिए जा रहा था। इस दौरान बांध की पाळ से गुजरते समय संभवत उसका पैर फिसलने से वह गहरे पानी में गिर गया और डूबने से उसकी मौत हो गई। शाम तक भी किसान जब खेत पर व घर पर भी नहीं पहुंचा तो उसके परिजनों की चिंता बढ़ गई। परिजनों ने किसान की तलाश शुरू की, लेकिन पता नहीं मिला। इस दौरान परिजनों को गांव के कुछ युवकों ने खेत के रास्ते में स्थित तालाब में डूबने का अंदेशा जताया। मंगलवार शाम को थाना प्रभारी गोविंद सिंह, पुलिस चौकी आवां से जितेंद्र सिंह, कांस्टेबल, मुकेश चौधरी आदि बांध पर पहुंचे और ग्रामीणों की मदद से किसान को पानी में तलाशना शुरू किया, लेकिन पता नहीं लगा। बुधवार सुबह पानी में किसान का शव नजर आया। बाद में ग्रामीणों की मदद से पुलिस ने शव को बाहर निकलवाया और दूनी अस्पताल में शव का पोस्टमार्टम कराकर उसे परिजनों के सुपुर्द कर दिया।

Vijay Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned