स्कूलों में लौटी रौनक, कलक्टर सहित विभागीय अधिकारियों ने लिया जायजा

स्कूलों में लौटी रौनक, कलक्टर सहित विभागीय अधिकारियों ने लिया जायजा

 

By: pawan sharma

Updated: 18 Jan 2021, 09:27 PM IST

टोंक. जिले के 9 से12वीं कक्षा तक सरकारी व गैर सरकारी स्कूलों में सोमवार को फिर से रौनक लौट आयी है। पिछले 300 दिनों पूर्व कोरोना संक्रमण के कारण लगे लॉकडाउन के बाद सरकार के आदेशाानुसार सभी स्कूले बन्द हो गई थी। कोरोना का प्रभाव कम होने पर राज्य सरकार की गाइड लाइन के मुताबिक सोमवार को फि र से सरकारी एवं प्राइवेट शिक्षण संस्थान खूल जाने से स्कूलों में रौनक लौट आई है।

लम्बे अंतराल के बाद सोमवार से खूले स्कूलों में ऑनलाइन पढ़ाई व कोरोना संक्रमण के खतरे को देखते हुए विद्यार्थीयो की संख्या दस फीसदी तक ही रही। स्कूल खुलने का पहला दिन होने के कारण कक्षा 9 से12 वीं तक के विद्यार्थियों की संख्या काफी कम रही। अतिरिक्त जिला शिक्षा अधिकारी मध्यमिक सीताराम गुप्ता ने बताया कि राज्य सरकार की गाइड लाइन के मुताबिक सोमवार को कक्षा 9 से 12 तक के विद्यार्थियों को ही स्कूल में पडऩे के लिये बुलाया गया है।

जिसके लिए जिलें के माध्यमिक व उच्च माध्यमिक विद्यालयों में 16 जनवरी को अभिभावकों की बैठक आयोजित की गई थी। जिसमे करीबन 13 हजार 999 अभिभावकों ने भाग लिया था। गुप्ता ने बताया कि टोंक जिले के कुल 332 विद्यालयों में 61 हजार विद्यार्थी अध्ययनरत है। उन्होने बताया कि बताया कि राज्य सरकार के निर्देशों के मुताबिक 18 से 22 जनवरी तक जिले के सभी स्कूलों का शिक्षा विभागीय अधिकारियों को निरीक्षण किया जाना है।

जिले की सभी 332 स्कूलों के निरीक्षण के लिये टोंक जिला मुख्यालय से 22 शिक्षा विभागीय अधिकारियों को लगाया गया है, जो स्कूल की व्यवस्था, राज्य सरकार की गाइडलाइन की पालना तथा विद्यार्थियों की संख्या की जांच करेंगे। गुप्ता ने यह भी बताय कि टोंक जिले में स्कूलों के निरीक्षण ेलिए राजस्थान माध्यमिक शिक्षा निदेशालय तथा संकुल शिक्षा परिषद के अधिकारियो को भी जिले में जिम्मेदारी सौंपी गई है। जिकी पालना में सोमवार को शिक्षा निदेशालय बीकानेर के अजमेर संभाग प्रभारी अरुण शर्मा, अनुसंधान अधिकारी व टोंक जिला प्रभारी दुष्यंत होरी, स्कूल परिषद जयपुर की उपायुक्त श्यामा राठौड ने भी स्कूलों का निरीक्षण किया।

तीन स्कूलों में 2 फरवरी से आएगें बच्चे
टोंक. सरकार के आदेशनुसार सोमवार को कोरोना गाइड लाईन की पालना करते हुए बंद शैक्षिक सस्थाएं खुल गई है वही टोंक जिला मुख्यालय पर स्थित तीन बडी़ राजकीय स्कूलों राजकीय सीनियर हायर सैकेन्ड्री स्कूल कोठी नातमाम, राजकीय दरबार सीनियर सैकेन्ड्री स्कूल सुभाष बाजार, व राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सिटी नम्बर 12 छावनी टोंक में फिलहाल बच्चों के प्रवेश पर रोक है। जिसका कारण इन स्कूलों में चल रही बीएसटीसी की परीक्षा का होना बताया गया है। अब यहां पर बीएसटीसी की परीक्षा के समाप्त होने पर कक्षा से 9 से 12 तक के विद्यार्थी 2 फरवरी को स्कूल आएगें।

वापस लौटना पड़ा
सोमवार को शहर के छावनी क्षेत्र में संचालित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सिटी नम्बर 12 मेंं गांधी पार्क क्षेत्र से कक्षा ग्यारह विज्ञान वर्ग कि छात्राएं हर्षिता, टीना, कुमकुम बुंदेल व विजय लक्ष्मी सुबह 10.30 बजे पहुंची। जहां पर बीएसटीसी की परीक्षा होने के कारण प्रधानाचार्य अशोक कुमार गुप्ता ने उनकों वापस लौटा दिया।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned