खराब मोटरसाइकिल की खरीद राशि देने के आदेश

जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोष मंच ने नई मोटरसाइकिल में आई खराबी के चलते खरीद राशि, मानसिक संताप व परिवाद व्यय देने के आदेश एक मोटरसाइकिल डीलर को दिए हैं।

By: pawan sharma

Published: 18 Feb 2020, 06:40 PM IST

टोंक. जिला उपभोक्ता विवाद प्रतितोष मंच ने नई मोटरसाइकिल में आई खराबी के चलते खरीद राशि, मानसिक संताप व परिवाद व्यय देने के आदेश एक मोटरसाइकिल डीलर को दिए हैं। अधिवक्ता वसी अहमद ने बताया कि परिवादी शिबली खान ने 19 अगस्त 2017 को शोरूम से एक मोटरसाइकिल खरीदी थी।

इसके बाद से ही मोटरसाइकिल के इंजन से ऑयल टपकने लगा। शोरूम पर शिकायत की तो उन्हें तकनीकी कमी बताकर सर्विस सेंटर पर मरम्मत करा दी। सर्विस के कुछ दिनों बाद फिर से इंजन से ऑयल टपकने लगा। इस पर दोबारा सर्विस कर दी गई, लेकिन फिर से ऑयल टपकने लगा। ऐसा कई बार मरम्मत के बाद भी चलता रहा।

शोरूम संचालक की ओर से हर बार आश्वासन देकर भेजा गया। मोटरसाइकिल में आई खराबी ठीक नहीं होने पर परिवादी ने मंच के समक्ष परिवाद दायर किया। मंच के अध्यक्ष राजेन्द्र कुमार अग्रवाल, सदस्य अर्चना श्रीवास्तव तथा कफील अहमद खान ने मामले की सुनवाई कर मोटरसाइकिल डीलर को आदेश दिए कि वह मोटरसाइकिल की मूलराशि में से 42 हजार 476 रुपए, मानसिक संताप 10 हजार रुपए तथा परिवाद व्यय 5 हजार रुपए परिवाद को दे।

निरीक्षण में नदारद मिला आयुष चिकित्सक, एसडीओ ने दिए सफाई व्यवस्था सुचारू रखने के निर्देश
बनेठा. कस्बा स्थित राजकीय आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र एवं राजकीय सीनियर उच्च माध्यमिक विद्यालय का उपखण्ड अधिकारी उनियारा प्रकाशचन्द्र रेगर ने सोमवार को निरीक्षण किया। निरीक्षण के दौरान एसडीओ को राजकीय आदर्श प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र बनेठा में आयुष चिकित्सक डॉ. पीएन अग्रवाल अनुपस्थित मिले। वहीं चिकित्सक डा. सिद्वार्थ मीणा से चिकित्सालय में मुख्यमंत्री नि:शुल्क दवा योजना, टीकाकरण, गर्भवती महिलाओं के उपचार सहित अन्य आवश्यक जानकारियां ली।

इस दौरान प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र परिसर में साफ-सफाई सहीं नहीं मिलने पर सुचारू सफाई व्यवस्था बनाए रखने के निर्देश दिए। इसके बाद उपखण्ड अधिकारी ने राजकीय सीनियर उच्च माध्यमिक विद्यालय में पहुंच कर विद्यार्थियों से अध्ययन संबंधी जानकारी लेते हुए सवाल-जवाब किया। वहीं शाला प्रधानाचार्य एसपी मीणा से शाला को बोर्ड परीक्षा परिणाम सर्वोत्तम रखने के लिए कमजोर विद्यार्थियों की अतिरिक्त कक्षाएं लगाए जाकर अधिक से अधिक प्रतिभाएं निखारने एवं शाला का बोर्ड परिणाम बेहतर रखने के निर्देश दिए।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned