वार्षिक समारोह के तहत शांतिनाथ मण्डल विधान का आयोजन किया

पयुर्षण पर्व के समापन पर आयोजित विधानमण्डल में पं. राजू टेमाणी के सान्निध्य में श्रद्धालुओं ने मंत्रोच्चारण के साथ अघ्र्य चढ़ाए।

By: pawan sharma

Published: 11 Sep 2017, 02:28 PM IST

मालपुरा.
श्रीमुनिसुव्रतनाथ दिगम्बर जैन मन्दिर टोडान में वार्षिक समारोह के तहत श्रीशांतिनाथ मण्डल विधान का आयोजन कर पर्युषण पर्व में उपवास करने वाले साधकों का सम्मान किया गया। पयुर्षण पर्व के समापन पर आयोजित विधानमण्डल में पं. राजू टेमाणी के सान्निध्य में श्रद्धालुओं ने मंत्रोच्चारण के साथ अघ्र्य चढ़ाए।

 

इस अवसर पर पर्युषण पर्व में 32 उपवास करने पर निर्मला टेमाणी, अभिषेक सेठी, विमला जैन टोंक, मिनाक्षी जैन, अलका जैन, सुनिता का 11 उपवास करने पर तथा विनिता व इन्द्रा सहित अन्य 5 उपवास करने वाले साधकों का मन्दिर कमेटी के राजाबाबू सेठी, मुकेश सेठी, अरविन्द सेठी, राजकुमार टेमाणी सहित सदस्यों की ओर से सम्मान किया गया।

 

 

टोंक. श्री दिगंबर जैन नसियां अमीरगंज टोंक में सामूहिक कलशाभिषेक कार्यक्रम का आयोजन किया गया। मीडिया प्रकोष्ठ मंत्री पवन कंटान एवं सांस्कृतिक मंत्री विकास अत्तार ने बताया कि शाम को आदिनाथ भगवान को रजत सिंहासन पर विराजमान कर स्वर्ण कलशों से श्रीजी पर अभिषेक का आयोजन किया गया।

 

इसके बाद दशलक्षण महापर्व में सभी प्रतियोगिताओं के इनाम वितरित किए गए, जिसमें लगभग 300 विजेताओं को इनाम देकर उनका सम्मान किया गया। इसके बाद हुई नृत्य डांस प्रतियोगिता 30 प्रतिभागी शामिल हुए, जिसमें सीनियर वर्ग में हेमा जैन कंटान-अंशु अतार रिंकी, नीलम जैन प्रथम, निधि द्वितीय, हेमा-मोनिका, सुनीता तृतीय स्थान पर रहे।

 

जूनियर वर्ग में अंशिका सर्राफ एवं परी सर्राफ एंड ग्रुप प्रथम, आर्शी जैन एंड ग्रुप द्वितीय स्थान पर रहे। इस मौके पर समाज अध्यक्ष धर्मचंद एवं मंत्री राजेश सर्राफ एवं पदमपुरा पद यात्रा संघ के सदस्य राजेश, बंटू शिवाडिय़ा, राजेश आरटी, सुनील आंडरा, संदीप आदि ने जीते हुए प्रतियोगियों को पुरस्कृत किया।

 

 

मालपुरा. दिगम्बर जैन जिला समन्वय महासमिति टोंक की ओर से रविवार को आचार्य सुकुमालनन्दी के सान्निध्य में संभाग अधिवेशन एवं जिला स्तरीय प्रतिभा सम्मान समारोह का आयोजन किया गया, जिसमें समाज की 101 प्रतिभाओं का सम्मान किया गया। समारोह के मुख्य अतिथि राष्ट्रीय अध्यक्ष अशोक जैन बडज़ात्या ने कहा कि समाज के लोगों में एकजुटता का अभाव है।

 

 

ऐसे में अल्पसंख्यक वर्ग में आने के बावजूद सरकारी योजनाओं का जैन समाज के लोगों को पूरा लाभ नहीं मिल पा रहा है। अध्यक्षता करते हुए राष्ट्रीय कार्याध्यक्ष महेन्द्र कुमार जैन ने कहा कि निजी विश्वविद्यालयों से डॉक्टर बनने में एक करोड़ रुपए खर्च होते है जबकि सहायता मात्र 50 हजार रुपए की मिल रही है, जिसको बढ़ाने के लिए संगठन को मिलकर कार्य करना होगा।

 

विशिष्ट अतिथि विधायक कन्हैयालाल चौधरी ने समाज के लोगों की ओर से रखी जाने वाली मांगों को सरकार तक पहुंचाने में उनका पूरा योगदान रहेगा। समारोह को सुरेन्द्र जैन पाण्ड्या, सुरेन्द्र कुमार जैन पाटनी, णमोकार जैन, टोडारायसिंह पालिकाध्यक्ष संत कुमार जैन ने भी सम्बोधित किया।

Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned