महामारी का कहर: जिले में फिर आए 31 पॉजिटिव

कुल पॉजिटिव हो गए 1450

टोंक. जिले में कोरोना का कहर जारी है। बुधवार को भी जिले में 31 पॉजिटिव आए हैं। ऐसे में अब कुल पॉजिटिव की संख्या 1450 हो गई है। वहीं चिकित्सा विभाग आंकड़ों का दबाने का प्रयास कर रहा है।

By: jalaluddin khan

Updated: 23 Sep 2020, 09:10 PM IST

महामारी का कहर: जिले में फिर आए 31 पॉजिटिव
कुल पॉजिटिव हो गए 1450

टोंक. जिले में कोरोना का कहर जारी है। बुधवार को भी जिले में 31 पॉजिटिव आए हैं। ऐसे में अब कुल पॉजिटिव की संख्या 1450 हो गई है। वहीं चिकित्सा विभाग आंकड़ों का दबाने का प्रयास कर रहा है।

इससे संक्रमण बढऩे की आशंका बढ़ गई है। बकाया 733 नमूनों की जांच आनी बाकी है। वही चिकित्सा विभाग ने बुधवार को 398 नमूने और लिए हैं।

पांच जने हुए संक्रमित
आवां. कस्बे में बुधवार को पांच व्यक्तियों के कोरोना पॉजिटिव पाए जाने पर हरकत में आए प्रशासन ने मुस्तैदी दिखाते हुए कोविड-19 नियमों की अवहेलना कर रहे है दुकानदारों के चालान काटे।

तहसीलदार विनीता स्वामी ने मास्क नहीं लगाने वाले दुकानदारों और वाहन चालकों के चालान काट कर उन्हें कोविड-19 नियमों की पालना करने की हिदायत दी।


9 घंटे खुला बाजार
मालपुरा. उपखण्ड अधिकारी डॉ. राकेश कुमार मीणा के निर्देशानुसार बुधवार से शहर के बाजार की दुकानों को 9 घंटे खोलने की छुट के बाद लोगों व दुकानदारों ने राहत महसूस की।

मालपुरा शहर में कोरोना संक्रमण के पोजिटिव केस की संख्या में बढ़ोतरी के बाद उपखण्ड अधिकारी डॉ. राकेश कुमार मीणा ने 15 सितम्बर की शाम को आदेश जारी कर 16 व 17 सितम्बर को बाजार बंदरखने के आदेश जारी किए। इसके पश्चात बाजारों के खुलने का समय सुबह 10 से 2 बजे तक निर्धारित किया गया।

शहर के व्यापारियो की मांग के बाद उपखण्ड अधिकारी ने बुधवार से सुबह 8 से शाम 5 बजे तक खोलने की अनुमति प्रदान की।


लाम्बाहरिसिंह. कस्बे में बुधवार को कोरोना पॉजिटिव के सम्पर्क में आए 17 लोगों व बीओबी बैंक के 10कर्मचारियों समेत देवल गांव में एक जने का नमूने एकत्रित कर जांच के लिए भेजा गया। वहीं कस्बे में एक अध्यापक को अजमेर जेएलएन अस्पताल में उपचार के लिए भर्ती किया गया, जहां जांच में कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि हुई है।


पीपलू(रा.क.). पीपलू क्षेत्र के लगातार कोरोना पॉजिटिव केस सामने आ रहे हैं लेकिन चिकित्सा विभाग अब आंकड़े छुपाने में जुटा हैं। इतना ही नहीं पीपलू सामुदायिक अस्पताल में स्टॉफ से भी आंकड़ें छुपाए जाने लगे हैं। पॉजिटिव आने वाले मरीजों के कांटेक्ट ट्रेसिंग में भी लापरवाही बरती जाने लगी हैं। जहां विभाग द्वारा पॉजिटिव मरीजों को भी देर से सूचना दी जा रही हैं वहीं जिनकी पहली रिपोर्ट पॉजिटिव आई, उसके बाद दूसरी रिपोर्ट नेगेटिव आ रही हैं उसकी सूचना तक रोगी को नहीं दी जा रही हैं।

जिसके चलते रोगी अपनी रिपोर्ट के स्टेटस की जानकारी को लेकर लगातार चिंतित रह रहा हैं। पीपलू सामुदायिक अस्पताल के प्रभारी, स्टॉफ का एक जना व भर्ती मरीजों के पॉजिटिव आने के बाद बंद किया गया मेडिकल वार्ड फिर से शुरु कर दिया गया हैं। लेकिन अस्पताल में मरीजों के कम आने तथा भर्ती नहीं होने के चलते मेडिकल वार्ड पूरी तरह खाली नजर आया। मंगलवार को कुछ मरीजों के पट्टी, इंजेक्शन आदि लगाने का कार्य ही किया गया।


करे रहे औपचारिकता
निवाई. कोरोना संक्रमण को रोकने में चिकित्सा व प्रशासन नाकाम नजर आ रहा है। चिकित्सा विभाग द्वारा अब कोरोना संक्रमितों की सटीक जानकारी भी नहीं दे रहे है। बीसीएमओ व मेडिकल टीम द्वारा स्वास्थ्य जांच व सेम्पलिंग में केवल औपचारिकता पूरी की जा रही है। शहर व ग्रामीण क्षेत्र में उपखंड प्रशासन द्वारा कंटेनमेंट जोन व बफ र जोन कागजों में ही बनाए जा रही है। ए.सं.

jalaluddin khan Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned