Tabligi jamat: टोंक में तब्लीगी जमात मरकज निजामुद्दीन से लौटै लोगों को सआदत अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में किया भर्ती

तब्लीगी जमात मरकज निजामुद्दीन दिल्ली से लौटे पांच जनों का प्रशासन तथा चिकित्सा विभाग की टीम ने मंगलवार रात सआदत अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया।

By: pawan sharma

Updated: 01 Apr 2020, 09:30 AM IST

टोंक. तब्लीगी जमात मरकज निजामुद्दीन दिल्ली से लौटे पांच जनों का प्रशासन तथा चिकित्सा विभाग की टीम ने मंगलवार रात सआदत अस्पताल के आइसोलेशन वार्ड में भर्ती किया। उपखण्ड अधिकारी रतनलाल योगी ने बताया कि दिल्ली निजामुद्दीन से टोंक में आने वालों की सूचना मिली थी।

इसके बाद सआदत अस्पताल के पीएमओ डॉ. नविन्द्र पाठक को निर्देश दिए गए थे। इसके बाद चिकित्सा विभाग की टीम ने धन्नातलाई, रजबन तथा नौशेमियां का पुल इलाके से दिल्ली से आए लोगों को अस्पताल में स्क्रीनिंग के लिए भर्ती किया है। इनके नमूने भेजे जाएंगे। रात 8 बजे तक चिकित्सा विभाग की टीम धन्ना तलाई से एक जने को अस्पताल ले आई थी, लेकिन बाकी लोगों को अस्ताल लाने का सिलसिला देर रात तक जारी था।


वायरस के संक्रमण के फैलने का अंदेशा

मालपुरा. मुख्यालय पर सरकारी कार्यालयों व बैंकों में लगे कई कर्मचारी अपने दुपहिया व चौपहिया वाहनों से अपने ड्यूटी पर डेली अप-डाउन कर रहे है, जिसके चलते सरकार द्वारा एक दूसरे जिले की सीमा सीज किए जाने का उद्देश्य भी पूर्ण नहीं हो रहा वहीं दूसरी ओर वायरस के संक्रमण के फैलने का अंदेशा बना रहता है।

एक ओर राज्य सरकार बाहरी जिलों व राज्यों से आने वाले लोगों की स्क्रीनिंग कर लॉकडाउन की पालना कराने के उद्देश्य से आश्रय स्थल बनाने में जुटी हुई है वहीं दूसरी ओर सरकारी कार्यालयों व बैंकों में कई कर्मचारी ऐसे है जो प्रतिदिन बाहरी जिलों से मुख्यालय पर अप डाउन कर रहे है, जिनकी प्रतिदिन स्क्रीनिंग नहीं हो पाती, जिससे जाने अंजाने में एक जिले से दूसरे जिले वायरस के फैलने का अंदेशा बना हुआ है।

कठोर कार्रवाई होगी
निवाई. केंद्र सरकार द्वारा सम्पूर्ण देश में किए लॉक डाउन के बाद भी बैंक सहित अन्य कई विभागों के कर्मचारी-अधिकारी मुख्यालय पर नहीं रह कर करीब 100 किलोमीटर तक से पास बनवा कर अप डाउन कर रहे है, जिससे स्थानीय अधिकारी-कर्मचारियों में सक्रमित होने का खतरा बढ़ गया है और सरकार का लॉक डाउन असफ ल हो रहा है। ऐसे समय में जिला व उपखंड प्रशासन को तत्काल प्रभाव से राष्ट्रीयकृत और निजी सेक्टर के कर्मचारियों व अधिकारियों को प्रतिदिन आने जाने पर रोक लगाए और मुख्यालय पर रहने के लिए आदेशित किया जाए।

बैंक व अन्य सरकारी अधिकारी कर्मचारी अपने-अपने संस्थान का आई कार्ड दिखाकर आ-जा रहे है। इधर, उपखंड अधिकारी जेपी बैरवा का कहना है कि बैक व अन्य सरकारी अधिकारी-कर्मचारियों का प्रतिदिन आने जाने का कोई पास जारी नहीं किए और सभी को मुख्यालय पर रहने के निर्देश दिए जा चुके है, जो भी कर्मचारी अप डाउन करता पाया उसके विरुद्ध कठोर कानूनी कार्यवाही अमल में लाई जाएगी।

बाहर के व्यक्तियो के पलायन पर रोक
टोडारायसिंह. कोरोना वायरस के बीच जिला कलक्टर के निर्देश पर उपखण्ड प्रशासन ने लॉक डाउन पर सख्ती कर दी है। इसके तहत क्षेत्र से कोई भी व्यक्ति अब बाहर नहीं जा पाएगा। उपखण्ड अधिकारी डॉ. सूरजसिंह नेगी ने बताया कि उच्च अधिकारियों के निर्देश पर अब क्षेत्र व बाहर के व्यक्तियो के पलायन पर रोक लगा दी है। इधर, अनुमति पत्र पर रोक लगने के बाद सोमवार को भी आधा दर्जन महिलाए व युवक एसडीएम कार्यालय पहुंच गए, जिन्हें अनुमति पत्र जारी नहीं हो पाया। एसडीएम ने मजदूरों को रोक के बीच सबंधित गांव में ही रहने की सलाह देते हुए एक पखवाड़े की खाद्य सामग्री वितरित की।

फोटो प्रतीकात्मक

Corona virus
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned