video: समारोह में मंत्री ने ज्योतिबाराव फुले को भारत रत्न देने कही बात तो विधायक ने की पांच लाख देने की घोषणा

महात्मा ज्योतिबा फुले को भारत रत्न मिलना चाहिए। फुले का योगदान देश में भुलाया नहीं जा सकता। वे देश के सच्चे समाज सुधारक थे।

By: pawan sharma

Published: 04 Jan 2018, 09:07 AM IST

टोंक. जिले में बुधवार को मां सावित्रीबाई फुले जयन्ती मनाई गई। शहर के महादेववाली स्थित महात्मा ज्योतिबाराव फुले सैनी छात्रावास में आयोजित समारोह में मुख्य अतिथि कृषि मंत्री प्रभुलाल सैनी ने ज्योतिबाराव फुले को भारत रत्न देने की आवाज उठाई।

 

 

उन्होंने कहा कि महात्मा ज्योतिबा फुले को भारत रत्न मिलना चाहिए। फुले का योगदान देश में भुलाया नहीं जा सकता। उन्होंने महिला व बालिका शिक्षा की देश में सबसे पहले शुरुआत की। वे देश के सच्चे समाज सुधारक थे। उन्होंने कुरीतियों को बंद करने के लिए आवाज उठाई थी।

 

 

 

उन्हीं की देन है कि देश में कई प्राचीन कुरीतियां बंद हो गई है। सैनी समाज आज उनके बताए मार्ग पर चल रहा है। इस दौरान विधायक अजीत मेहता ने छात्रावास के विकास के लिए 5 लाख रुपए विधायक कोष से देने की घोषणा की।

 

 

मेहता ने सावित्री बाई और महात्मा ज्योतिबाराव फुले की जीवनी पर प्रकाश डाला। इससे पहले मंत्री व विधायक ने सावित्री बाई फुले और महात्मा ज्योतिबाराव फुले की प्रतिमाओं पर माल्यार्पण किया। इसके बाद आयोजित कार्यक्रम में मंत्री सैनी ने कहा कि सावित्री बाई फुले का जीवन आदर्श जीवन था।

 

 

 

सावित्री बाई ने महिलाओं से लेकर दलितों तक का उत्थान किया। समय की भूल के चलते इतिहास में उनके इन कार्यों का इतना ज्यादा उल्लेख नहीं मिलता है। इस दौरान सैनी समाज की ओर से ज्योतिबाराव को भारत रत्न देने के लिए चलाए गए हस्ताक्षर अभियान में भी मंत्री ने हिस्सा लिया।

 

 

साथ ही समाज की ओर से छात्रावास में लगाई गई स्टॉलों का निरीक्षण किया और पानी-पताशी का स्वाद चखा। इस दौरान प्रधान जगदीश गुर्जर, जिला परिषद सदस्य खेमराज मीणा, उदयलाल गुर्जर, राधेश्याम डोई, रामअवतार टाक, शंकरलाल कच्छावा, राहुल सैनी, पुष्करलाल सैनी आदि मौजूद थे।

 

 

 

पहली महिला शिक्षिका थी सावित्री- चौधरी
पीपलू.सैनी माली समाज छात्रावास में बुधवार को सावित्री बाई फुले की जयंती मनाई गई। कार्यक्रम की शुरुआत मुख्य अतिथि जिला प्रमुख सत्य नारायण चौधरी ने दीप प्रज्वलन किया। जिला प्रमुख ने सावित्री बाई फुले की जीवनी पर प्रकाश डालते हुए बताया कि यह भारत देश की पहली महिला शिक्षिका थी।

 

 

उन्होंने दलित एवं पिछड़ी जातियों में बालिका शिक्षा को बढ़ावा देने व विवाह एवं नारी शोषण से मुक्ति के लिए संघर्ष किया। जिला प्रमुख सत्यनारायण चौधरी ट्यूबवैल का बटन दबाकर चालू किया गया।

 

 

अध्यक्षता कर रहे पीपलू सरपंच प्रताप सिंह राजावत, विशिष्ट अतिथि जीएसएस अध्यक्ष जगदीश सिंह राजावत, जिला मंत्री रमेश गढ़वाल, जिला परिषद सदस्य सत्य नारायण चंदेल, उपसभापति अजय सैनी, पूर्व सरपंच हीरा लाल साहू, भाजपा महामंत्री मंडल पीपलू राजेश, पार्षद चौथमल सैनी, पार्षद मुकेश सैनी, ताराचंद सैनी ने माली समाज छात्रावास विकास मेें योगदान देने वालों भामाशाह को भी सम्मान किया गया। कार्यक्रम में रानोली, मोहिनी,लोरवाडा, मोहनाबाद, नयागांव, मालीपुरा के माली समाज के लोगों ने हिस्सा लिया।

 

 

 

जयन्ती मनाई
निवाई. महात्मा ज्योतिबा फुले प्रतियोगी नि:शुल्क शिक्षण संस्थान व माली समाज निवाई की ओर से सावित्री बाई फुले जयन्ती गंगा जमुना मैरिज गार्डन में मनाई गई। मुख्य अतिथि पार्षद सुनिता सैनी, विशिष्ट अतिथि पार्षद कमलेश सैनी रहे।

 

 

 

इस दौरान समाज के बच्चों द्वारा सांस्कृतिक प्रस्तुतियां दी गई। इस अवसर मैजिक शो जादू के पीछे का विज्ञान का भी आयोजन किया गया। इस अवसर माली सैनी समाज तहसील अध्यक्ष पूर्व पार्षद प्रहलाद सैनी, सीताराम कटारा, सम्मेलन अध्यक्ष नारायण मुन्सी, रमेश गंगाडा, शंकर मुन्सी, किशनलाल सैनी, चन्दन सैनी, छोटू दिया, गणेश गंगाडा आदि लोग मौजूद थे।

Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned