स्वर्णिम भारत अभियान: समानता का व्यवहार रखने व मौलिक अधिकार एवं कर्तव्य पालन करने की ली शपथ

राजस्थान पत्रिका के स्वर्णिम भारत अभियान के तहत राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बड़ोली में सरपंच रामजानकी सैनी के निर्देशन में विद्यार्थियों-शिक्षकों ने शुक्रवार को मौलिक अधिकारों एवं कर्तव्य का पालन करने एवं जाति-धर्म से उपर उठ समानता का व्यवहार रखने की शपथ ली।

दूनी. राजस्थान पत्रिका के स्वर्णिम भारत अभियान के तहत राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय बड़ोली में सरपंच रामजानकी सैनी के निर्देशन में विद्यार्थियों-शिक्षकों ने शुक्रवार को मौलिक अधिकारों एवं कर्तव्य का पालन करने एवं जाति-धर्म से उपर उठ समानता का व्यवहार रखने की शपथ ली।

सरपंच सैनी ने कहा कि छात्र-छात्राएं व शिक्षक घर-घर लोगों को जागरूक कर पत्रिका के महाअभियान को सफल बनाए। इसके बाद वरिष्ठ अध्यापक रमेशचंद कुम्हार ने छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों को स्वर्णिम भारत अभियान के तहत मौलिक अधिकार एवं कर्तव्य पालन करने की शपथ दिलाई।

वही राजकीय संस्कृत उच्च प्राथमिक विद्यालय सरकावास में प्रधानाध्यापक पवनकुमार जैन छात्र-छात्राओं एवं शिक्षकों को स्वर्णिम भारत अभियान के तहत शपथ दिलाई। इस मौके पर गजेन्द्रसिंह नाथावत, पूजा जाट, धनपाल सैनी, रविन्द्रकुमार विजयवर्गीय, सुरेन्द्र सिंह, कालूराम बैरवा, हरिशंकर यादव, जितेन्द्र साहू, बाबूलाल सैनी सहित अन्य थे।

शपथ लेकर कहा-जन्मभूमि को बनाएंगे सुंदर व स्वच्छ
पीपलू (रा.क.). राजस्थान पत्रिका के स्वर्णिम भारत अभियान के तहत शुक्रवार को संस्कार पब्लिक स्कूल एवं संस्कार कॉलेज ऑफ गे्रजुएशन में कॉलेज प्राचार्य डॉ. बीएन शास्त्री, स्कूल प्राचार्य अर्पणा मैत्रा, मैनेजर राजकुमार जैलवाल के निर्देशन में विद्यार्थियों, शिक्षकों ने अपनी जन्मभूमि को संवारने की सामूहिक शपथ ली।अपने गांव-शहर को प्लास्टिक मुक्त बनाने, संवैधानिक अधिकार व कर्तव्य पालना, सफाई तथा स्वच्छता रखने का संकल्प लिया। साथ ही दूसरों को भी इसके लिए प्रेरित करने की बात कही।

स्वच्छता की शपथ दिलाई
सिरस. राजस्थान पत्रिका के स्वर्णिम भारत अभियान के तहत शुक्रवार को कस्बे के राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय में छात्र व छात्राओं को स्वच्छता की शपथ दिलाई गई। प्रधानाचार्य कविता पूनिया ने छात्रों को नियमित स्वच्छता बनाए रखने व श्रमदान कार्य कर गांव को स्वच्छ बनाए रखने की शपथ दिलाई।

इस दौरान व्याख्याता रामनिवास मीणा व आत्माराम गुर्जर ने अभियान के तहत मौलिक अधिकारों, मूल कर्तव्यों का पालन करने को कहा। इस मौके पर व्याख्याता सुनिता पारीक, वरिष्ठ अध्यापक कैलाश चन्द गुर्जर, रामराय जाट, रामसहाय बैरवा, शारीरिक शिक्षक गोपालकृष्ण पारीक, भावना टांक, रामअवतार स्वामी सहित अन्य स्टाप मौजूद था।

pawan sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned