पुलिस की नाकाबंदी देख गोवंश से भरा कंटेनर छोड भागा चालक, रैकी कर रही कार सहित 3 जनों को किया गिरफ्तार

पुलिस की नाकाबंदी देखकर गोवंश से भरे कंटेनर का चालक मौके से फरार हो गया। कंटेनर में 34 गौवंश पाए गए। इस दौरान कंटेनर की रेकी कर रही एक कार को भी जब्त किया गया हैं।

पीपलू (रा.क.). पीपलू थाना पुलिस व झिराना चौकी पुलिस ने झिराना में गौवंश से भरे कंटेनर को पकड़ा हैं। थानाधिकारी रामअवतार सिंह ने बताया कि टोंक से झिराना होकर डिग्गी की तरफ एक गोवंश से भरा कंटेनर निकलने की सूचना मिली थी, जिस पर नाकाबंदी की गई।

पुलिस की नाकाबंदी देखकर गोवंश से भरे कंटेनर का चालक मौके से फरार हो गया। कंटेनर में 34 गौवंश पाए गए। इस दौरान कंटेनर की रेकी कर रही एक कार को भी जब्त किया गया हैं। साथ ही कार सवार 3 जनों को गिरफ्तार किया हैं। इनमें मुस्तगीन पुत्र मदारी खां इस्लामनगर थाना मालपुरा, गोविंद पुत्र रामअवतार रामजीपुरा थाना डिग्गी, मो. नईम पुत्र हतीक भोपाल को गिरफ्तार किया हैं, जिनसे पुलिस पूछताछ कर रही हैं। पुलिस ने गोवंश को निवाई स्थित आशाराम गौशाला में सुरक्षार्थ भिजवाया हैं।

घायल मिला दुलर्भ पक्षी बाज, पशु चिकित्सालय में कराया उपचार
टोंक. बनेठा वन क्षेत्र में घायलावस्था में दुलर्भपक्षी बाज (इगल) मिला है। वन विभाग की टीम ने इस दुलर्भघायल पक्षी बाज का पशु चिकित्सालय में उपचार कराया। इसके बाद इसे वन विभाग के जखीरा स्थित रेस्क्यू सेंटर में रखा गया है। ये बाज रामकेश मीणा को बनेठा वन क्षेत्र में मिला।

ऐसे में वह इसे टोंक ले आया। जहां टोंक नाका प्रभारी बी. एल. शर्मासमेत अन्य ने घायल बाज का उपचार कराया। बाद में इसे सेंटर में छोड़ा गया है। गौरतलब हैकि दुलर्भपक्षी बाज की संख्या जिले में करीब 10 ही है। टोडारायसिंह क्षेत्र के बीसलपुर कन्जर्वेशन में ये बाज हैं। बाज के घायल होने का पता नहीं चल पाया है।

12 नामजद और 150 अन्य लोगों के विरुद्ध मुकदमा दर्ज
निवाई. डंपर की टक्कर से पिता-पुत्री की मृत्यु पर आक्रोशित भीड़ द्वारा पुलिस और प्रशासन पर पथराव करने के मामले में गुरुवार को पुलिस ने 12 लोगों के नामजद और 150 अन्य लोगों के नाम मुकदमा दर्ज कर लिया हैं। नामजद मुकदमा दर्ज होने की सूचना के बाद से ही कई लोग शहर से गायब हो गए हैं। पुलिस पत्थरबाजों की तलाश में जुट गई हैं।

pawan sharma Desk
और पढ़े
हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned