शिक्षा में किया नवाचार, विद्यार्थियों के लिए हवाई यात्रा से लेकर 21 हजार तक नकद प्रोत्साहन राशि दी

जिले की पीपलू तहसील के गांव जंवाली की राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय की प्रधानाचार्य उमा हाड़ा ने शिक्षा के साथ नवाचार कर मिसाल कायम की है। हाड़ा ने यहां अध्ययन करने वाले विद्यार्थियों का शिक्षा के प्रति हौंसला बढ़ाने के लिए कई तरह की घोषणाएं की हुई है।

By: pawan sharma

Published: 05 Mar 2021, 09:02 PM IST

टोंक. जिले की पीपलू तहसील के गांव जंवाली की राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय की प्रधानाचार्य उमा हाड़ा ने शिक्षा के साथ नवाचार कर मिसाल कायम की है। हाड़ा ने यहां अध्ययन करने वाले विद्यार्थियों का शिक्षा के प्रति हौंसला बढ़ाने के लिए कई तरह की घोषणाएं की हुई है। हाड़ा ने विद्यार्थियों को हवाई यात्रा करवाने सहित सरकार की लेपटॉप व गार्गी पुरस्कार योजना में चयनित होने व 80 प्रतिशत से अधिक अंक प्राप्त करने पर किसी भी एक श्रेणी में 1100 रुपए से लेकर 21000 रुपए तक की नकद प्रोत्साहन राशि स्वयं के निजी खर्च से देने का बीड़ा उठाया है।

हाड़ा ने गत वर्ष सत्र 2019-20 में दसवीं एवं बाहरवीं बोर्ड की परीक्षा में राज्य स्तर पर प्रथम आने पर 21000, द्वितीय आने पर 11000, जिला स्तर पर प्रथम आने पर 5100 व द्वितीय आने पर 2100 रुपए की नकद राशि प्रोत्साहन के रूप में विद्यार्थियों को देने की घोषणा की थी। इसी प्रकार आठवीं बोर्ड परीक्षा में जिला स्तर पर प्रथम आने पर 3100 व द्वितीय स्थान प्राप्त करने पर 2100 नकद प्रोत्साहन राशि देने की घोषणा की है। इसी तरह आठवीं में ही सभी विषयों में ए ग्रेड लाने वाले विद्यार्थियों को भी 500 रुपए की प्रोत्साहन राशि देने की घोषणा की है।


महिने की एक दिन की तनख्वाह स्कूल के नाम
उमा हाड़ा ने सितम्बर 2017 से सितम्बर 2019 तक लगातार 24 माह तक एक दिन का वेतन स्कूल के नाम दिया है। इस वेतन को विद्यालय की आवश्यकताओं की पूर्ति के काम में लिया जाता है। हाड़ा का वर्तमान में जंवाली स्कूल में लगातार 42 माह का सफल कार्यकाल पूरा हो गया है। हाड़ा ने बताया कि 19 मार्च को विद्यालय के सालाना वार्षिकोत्सव समारोह पर सत्र 2021-22 के लिए नई घोषणा की जाएगी।

उदयपुर की हवाई यात्रा के लिए रवाना
हाड़ा की घोषणा के अनुसार विद्यालय की दो सगी बहनें पूजा यादव (93.40 प्रतिशत)व विष्णु यादव (87.60 प्रतिशत) अंक प्राप्त करने पर उदयपुर की हवाई यात्रा करवाने के लिए वो दोनों छात्राओं को साथ लेकर गुरुवार 4 मार्च देर शाम को जयपुर के लिए रवाना हुई। जहां पर शुक्रवार 5 मार्च को सुबह की फ्लाइट से वो उदयपुर के लिए रवाना हुई।

दोनों छात्राओं को उदयपुर जिले के प्रमुख स्थानों का भ्रमण कराने के बाद रविवार 7 मार्च को वापस टोंक पहुंचेगी। जयपुर के लिए रवाना होने से पूर्व मुख्य कार्यकारी अधिकारी नवनीत कुमार, मुख्य जिला शिक्षा अधिकारी सुरेश जैन, मुख्य ब्लॉक शिक्षा अधिकारी उपेन्द्र कुमार रैना आदि नेे जाने वाले सभी का स्वागत कर मंगल यात्रा की कामना की।

शिक्षा के द्वारा समाज में न केवल अपनी पहचान बना सकते है बल्कि दूसरों के सपनो को पूरा करने में सहयोग कर सकते है। आज जो बालिकाएं हवाई यात्रा कर रही है वो आने वाले समय में हवाई जहाज उड़ाए। बच्चों को शिक्षा के प्रति प्रोत्साहन के लिए आगे भी ऐसे आयोजन किए जाना प्रस्तावित है। - उमा हाड़ा, प्रधानाचार्य, राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय जंवाली।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned