संपर्क सडक़ निर्माण नहीं होने से आमजन को हो रही है परेशानी

संपर्क सडक़ निर्माण नहीं होने से आमजन को हो रही है परेशानी

 

By: pawan sharma

Published: 10 Jan 2021, 07:28 PM IST

देवली. वर्ष 2018-19 की बजट घोषणा में करीब ढाई वर्ष पूर्व नगर पालिका ने 48 लाख की लागत से बनाया गया अंबेडकर भवन की भूमि पर हक का विवाद नहीं सुलझ सका है। भूमि पर काबिज खातेदार एवं पालिका के आपसी विवाद में शहर से पुराने अजमेर मार्ग को जोडऩे वाले देवली गांव नेकचाल संपर्क सडक़ अंबेडकर भवन से लेकर बालाजी मंदिर गेट तक करीब एक सौ मीटर बीच के हिस्से की सडक़ का नामोनिशान मिटने से रास्ते में गड्ढे बन गए है।

मार्ग पर रोजाना आवागमन करने वाले आमजन को सडक़ के अभाव में परेशानी उठानी पड़ रही है। अंबेडकर भवन निर्माण से उठे भूमि विवाद पर न्यायालय के यथा स्थिति आदेश से भवन वीरान है। वहीं नेकचाल संपर्क सडक़ का हिस्सा प्रशासनिक लापरवाही का शिकार हो गया।

डॉ भीमराव अंबेडकर के विचारों को जन जन तक पहुंचने के उद्देश्य से प्रदेश में तत्कालीन भाजपा सरकार ने वितीय वर्ष 2018-19 में सभी नगर निकायों में अंबेडकर भवन निर्माण की घोषणा की थी, जिसमें नगर पालिका क्षेत्र में 500 वर्गमीटर स्वामित्व की भूमि पर 48 लाख की लागत से अंबेडकर भवन का निर्माण करना था।

इसको लेकर 16 मार्च 2018 को स्वायत शासन विभाग ने आदेश जारी किए थे, जिसके तहत यहां नगर पालिका में 23 मार्च 2018 को निविदा जारी कर 6 अप्रैल को खोली गई। बाद में 19 अप्रैल से भवन निर्माण शुरू हुआ, जो चार माह में बनकर तैयार हो गया, लेकिन उद्घाटन से पूर्व भवन निर्माण स्थल की भूमि पर मालिकाना हक की लड़ाई पूर्व काबिज खातेदार एवं नगर पालिका के बीच न्यायालय में चली गई।

मामले पर न्यायालय ने कार्य को रोकते हुए यथास्थिति के आदेश देने से नवनिर्मित अंबेडकर भवन पर ताले लटक गए। विवाद के चलते यहां से निकल रही देवली गांव वाया पुराने अजमेर संपर्क सडक़ का करीब 100 मीटर लंबा मार्ग खातेदारी भूमि का हिस्सा के चलते निर्माण नहीं हुआ। यहां बनी पुरानी डामर सडक़ का नामोनिशान तक मिट गया।

इस सडक़ पर जगह-जगह गहरे गड्ढे होने से आमजन परेशान है। खातेदार हरिराम पुत्र किशन ग्वाला का कहना है उन्होंने सडक़ मार्ग नहीं रोका है, लेकिन सडक़ बनने में उनकी भूमि चली गई। विवाद से नवनिर्मिति भवन पर भी ताले लगे है तो सडक़ भी अपना अस्तित्व खो चुकी है। इसका खामियाजा भुगत रहा है तो वह आमजन है।

आवागमन की राह बाधित है जो दुर्घटनाओं का सबब बन रही है।नगरपालिका द्वारा नवनिर्मित अंबेडकर भवन की भूमि पर रेवेन्यू न्यायालय में मामला चल रहा है जिस पर फिलहाल स्टे से यथास्थिति है। मामले की सुनवाई आगामी दिनों में होनी है। सुरेश कुमार मीणा,अधिशाषी अधिकारी नगरपालिका ,देवली

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned