रोग की चपेट में मटर की फसल, सूखने लगे पौधे

कस्बे सहित आस-पास के क्षेत्र में मटर व चने की फसल रोग की चपेट मेंं आने से किसान परेशान है। किसानों ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से दलहन की फसलों में रोग लगने के कारण पौधे सूखने लगे है।

राजमहल. कस्बे सहित आस-पास के क्षेत्र में मटर व चने की फसल रोग की चपेट मेंं आने से किसान परेशान है। किसानों ने बताया कि पिछले कुछ दिनों से दलहन की फसलों में रोग लगने के कारण पौधे सूखने लगे है। कई जगह मटर की फसल के पौधे समय से पहले ही सूखने लगे है।

इसी प्रकार कई जगह चने की फसल में भी रोग लगने से पक कर तैयार होने से पहले ही पौधे सूखने लगे है। कृषि पर्यवेक्षक सूरज मल बैरवा ने बताया कि चना, मटर, मसूर आदि दलहन की फसलों में उगटा नामक रोग लग गया है। इसके लिए किसानों को कृषि विभाग से जानकारी कर कीट नाशक दवा आदि का प्रयोग करना चाहिए। जिससे पौधों की जड़ों में कीट का प्रकोप नहीं हो सके।


29 गांवों में अतिवृष्टि से हुआ नुकसान
मालपुरा. मालपुरा उपखण्ड क्षेत्र में खरीफ फसल में अतिवृष्टि से 29 गांवों में फसलों को हुए नुकसान की सूचियां बनाने का कार्य शुरु हो गया है। तहसीलदार अनिल चौधरी ने बताया कि संवत 2076 फसल खरीफ में गिरदावरी कराए जाने पर क्षेत्र के कांटोली, दौराई, सिंधोलिया, इंदोली, ढीबरु, नयागांव गुर्जरान, रुपाहेली, प्रतापपुरा, तितरियां, हिण्डोला, रतनपुरा, नयागांव जाटान, रामपुरा बास बागडी, बागडी, बाढ दौराई, तांतियां, महादेवपुरा, देवल, बाघपुरा, आसन जोगियान, लाम्याजुनारदार, फूलमालियान, अरर्निया उर्फ रामसिंहपुरा, सनोदिया, झाडली, किशनपुरा एवं संग्रामपुरा में अतिवृष्टि से फसलों में नुकसान हुआ है, जिनके लिए सम्बंधित क्षेत्र के पटवारियों को निर्धारित प्रपत्र में किसानों के नाम एवं आधार कार्ड, बैंक खाते की फोटो प्रति एवं मोबाईल नम्बर संकलित करने के लिए निर्देश दिए गए है।

औषधियों के उपयोग पर हुई कार्यशाला
निवाई. बाल विकास परियोजना विभाग के तत्वावधान में शनिवार को गौड धर्मशाला में होम्योपैथिक की चिह्नित औषधियों के उपयोग के लिए ब्लॉक के चिकित्सक, एएनएम, आंगनबाड़ी कार्यकर्ता एवं आशा सहयोगिनी का एक दिवसीय प्रशिक्षण आयोजित किया गया। प्रशिक्षण शिविर में कॉलेज आयुक्त शिक्षा राजस्थान प्रदीप कुमार ने होम्योपैथिक चिकित्सकों को उपचार की जानकारी दी।

उपनिदेशक आईसीडीएस टोंक डॉ. धर्मवीर मीणा और मुख्य चिकित्सा अधिकारी टोंक डॉ.अशोक यादव ने कई जानकारिया दी। भानुप्रकाश यादव सहायक निदेशक महिला अधिकारिता टोंक ने बेटी बचाओ बेटी पढाओ योजना की जानकारी देकर सभी को शपथ दिलाई।

स्थानीय राजकीय महाविद्यालय में शनिवार को आयुक्तालय जयपुर कमिश्नर डॉ प्रदीप बोरड ने निरीक्षण किया। इस दौरान आयुक्तालय कमिश्नर डॉ प्रदीप ने महाविद्यालय में भूगोल विभाग, खेल मैदान, पेयजल व्यवस्था, बिजली, शौचालय, पुस्तकालय, प्रयोगशाला एवं कक्षा कक्षों का अवलोकन किया और शौचालय में गंदगी देखकर महाविद्यालय प्रशासन को फ टकार लगाई।

pawan sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned