ढाई सौ की क्षमता, बैठेंगे पांच सौ परीक्षार्थी, पड़ोस की छत पर लगाया टीनशेड

रीट परीक्षा को लेकर जहां पूरे प्रदेश में परीक्षार्थियों के लिए जोर शोर व्यवस्थाएं की जा रही है।

By: pawan sharma

Published: 25 Sep 2021, 08:08 AM IST

निवाई. रीट परीक्षा को लेकर जहां पूरे प्रदेश में परीक्षार्थियों के लिए जोर शोर व्यवस्थाएं की जा रही है। वहीं दूसरी ओर शहर के एक निजी विद्यालय को बनाया आ रीट परीक्षा का केन्द्र चर्चा में है, जिसको लेकर जिला व उपखंड अधिकारी परीक्षा केंद्र का बार बार जायजा लेकर व्यवस्थाओं को पूरा करवाने की कोशिश में लगे है।

वहां मात्र 250 परीक्षार्थियों के बैठने की व्यवस्था है, लेकिन जिला शिक्षा अधिकारी और रीट जिला समन्वयक ने बिना सोचे समझे तथा विद्यालय का निरीक्षण किए बिना 500 परीक्षार्थियों के लिए रीट परीक्षा का केंद्र बना दिया है। 500 परीक्षार्थियों का परीक्षा केंद्र घोषित होने के बाद विद्यालय के संस्था प्रधान ने 9 सिंतबर 2021 को जिला शिक्षा अधिकारी को लिखित पत्र भेजकर कोरोना गाइड लाइन की पालना के अनुसार मात्र विद्यालय परिसर में 250 परीक्षार्थियों के बैठने की क्षमता होने की जानकारी दी है।

बताया फिर भी नहीं माने: संस्था प्रधान बजरंग लाल यादव ने बताया जिला शिक्षा अधिकारी को पत्र लिखने के साथ ही उक्त पत्र की प्रतिलिपि रीट परीक्षा के जिला समन्वयक टोंक को भी दी है। संस्था प्रधान ने बताया कि दोनों अधिकारियों को लिखित पत्र मिलने पर उन्होंने बिना मौका देखे ही मौखिक रूप से कहा कि अब परीक्षा केंद्र नहीं बदला जा सकता है। आपको अपने विद्यालय में 500 परीक्षार्थियों की व्यवस्थाएं करनी है, जिसके संस्था प्रधान ने विद्यालय से सटे खाली पड़े मकान को तत्काल किराए पर लिया और उसकी साफ सफाई करवाई, लेकिन फिर भी जगह कम होने के कारण संस्था प्रधान ने किराए पर लिए मकान की छत पर आनन फानन में टीनशेड खरीद अस्थायी तौर पर लगा दिए। टीन शेड को कवर करने के लिए साइड में टेंट के पर्दे लगाकर खानापूर्ति कर दी।

धूप से बचाने के लिए लगाया टेंट
संस्था प्रधान द्वारा लिखित पत्र देने के बाद भी जिला व उपखंड प्रशासन सोता रहा। उक्त परीक्षा केंद्र के अतिरिक्त शहर में अन्य कई जगह है, जहां परीक्षा केंद्र बनाया जा सकता था। उक्त परीक्षा केंद्र के खुले चौक में भी करीब 60 परीक्षार्थियों के लिए बैठने की व्यवस्था की जा रही है। खुले चौक को बारिश और धूप से बचाने के लिए संस्था प्रधान द्वारा चौक को टेंट से ढकवाया, लेकिन तेज हवा और बारिश में टेंट अपर्याप्त है। गोरतलब है कि चर्चा में आए रीट परीक्षा केंद्र की व्यवस्थाओं और सुरक्षा को लेकर जिला कलक्टर और पुलिस अधीक्षक भी गुरुवार की शाम निरीक्षण कर चुके है।(ए.सं.)

बारिश आई तो होगी परेशानी

मकान की छत पर लगाए गए अस्थायी टीन शेड में पंखों की व्यवस्था नहीं होने पर तहसीलदार प्रांजल कंवर ने टीनशेड को चारों ओर से पैक कर बड़े कूलर लगाने के लिए निर्देश दिए हैं। तेज हवा और बारिश में परीक्षार्थी टीनशेड के नीचे परीक्षा नहीं दे पाएंगे।

&संस्था प्रधान द्वारा रीट परीक्षा केंद्र बनाने के लिए ऑनलाइन आवेदन किया था, लेकिन शिक्षा विभाग के अधिकारियों द्वारा बिना निरीक्षण किए ही रीट परीक्षा केंद्र बना दिया। परीक्षा केंद्र का जब निरीक्षण किया तो परीक्षा केंद्र पर अपर्याप्त व्यवस्थाओं को लेकर उच्चाधिकारियों को सूचित किया था।
त्रिलोकचंद मीणा, उपखंड अधिकारी, निवाई

REEt 2021
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned