20 किलोमीटर पैदल चलकर टोंक पहुंचे श्रमिक, अधिकारियों ने वापस लौटाया

सरसों काटने के लिए मध्यप्रदेश के रतलाम से पीपलू उपखण्ड के झिराना गांव आए श्रमिक वापस जाने के लिए पैदल ही टोंक पहुंच गए। उन्होंने करीब 20 किलोमीटर का सफर पैदल ही तय किया

By: pawan sharma

Published: 06 Apr 2020, 09:22 PM IST

टोंक. सरसों काटने के लिए मध्यप्रदेश के रतलाम से पीपलू उपखण्ड के झिराना गांव आए श्रमिक वापस जाने के लिए पैदल ही टोंक पहुंच गए। उन्होंने करीब 20 किलोमीटर का सफर पैदल ही तय किया और टोंक में जनाना अस्पताल के बाहर आ गए। प्रशासन को जब इसकी सूचना मिली तो श्रमिकों को वापस झिराना में भेजा।


जहां श्रमिकों को फसल कटाई के लिए बुलाने वाले किसानों को उनके खाने व रहने की व्यवस्था के लिए कहा गया है। ये श्रमिक 25 है, जिनमें तीन बच्चों समेत महिला-पुरुष शामिल है। वे करीब महीने भर पहले झिरना गांव में सरसों की कटाई करने आए थे। सरसों की कटाई खत्म के बाद लॉकडाउन लग गया। ऐसे में झिराना में अटक गए।

अब वापस रतलाम जाने के लिए पैदल ही खेतों के रास्तों से झिराना से निकल गए। जब टोंक पहुंचे तो पुलिस ने उन्हें रोक लिया और प्रशासन को सूचना दी। उपखण्ड अधिकारी रतनलाल गिरी ने तहसीलदार सुरेश शर्मा को निर्देश दिए और बस के जरिए वापस झिराना गांव में पहुंचा। उपखण्ड अधिकारी रतनलाल ने बताया कि जिन किसानों ने श्रमिकों को बुलाया था वो लॉकडाउन जारी रहने तक खाने व रहने की व्यवस्था करेंगे।

अधिकारियों पर नाराज हुए पार्षद

टोंक. कोरोना वायरस के पॉजिटिव मिलने के बाद शहर में लगाए गए कफ्र्यू में परेशान लोगों तक मदद नहीं पहुंचने से नाराज नगर परिषद के पार्षदों ने रविवार को प्रशासन के अधिकारियों के खिलाफ प्रदर्शन किया। पार्षदों ने आरोप लगाया कि मदद के लिए कहने पर प्रशासन के कुछ अधिकारी अभद्रता करते हैं।

इससे पार्षद नाराज हो गए और विरोध करने के लिए नगर परिषद में जमा हो गए। जहां सभापति अली अहमद, कांग्रेस अभाव अभियोग के प्रदेश सहसंयोजक सऊद सईदी ने नाराज पार्षदों से समझाइश की और जिला कलक्टर के. के. शर्मा को ज्ञापन सौंपा। इसमें बताया कि रामदेव गुर्जर ने जरुरतमंद लोगों तक खाद्य सामग्री नहीं पहुंचने की शिकायत जिला अधिकारियों से की थी।

आरोप लगाया कि जिला अधिकारियों ने पार्षदों से अभद्रता की और किसी मामले में फंसाने की धमकी भी दी। रामदेव ने इसकी जानकारी अन्य पार्षदों को दी। इस पर करीब दो दर्जन पार्षद दोपहर में नगर परिषद में जमा हो गए। बाद में उन्होंने जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपकर अधिकारियों के रवैय को सही करने को कहा। साथ ही जरुरतमंद तक खाद्य सामग्री पहुंचाने को कहा। इस दौरान दिनेश चौरासिया, अताउल्लाह, मुन्ना, यूसुफ इंजिनियर, इमदाद, राहुल सैनी, विकास लोदी आदि मौजूद थे।

Corona virus
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned