सरकार की श्रमिक विरोधी नीतियों के खिलाफ रोडवेजकर्मियों ने धरना देकर किया प्रदर्शन

सरकार की और से रोडवेजकर्मियों की मांगों का निस्तारण नहीं किया जा रहा है। इसको लेकर रोडवेजकर्मियों ने रोडवेज बस स्टैण्ड पर धरना दिया।

 

By: pawan sharma

Published: 24 Jul 2018, 04:37 PM IST

टोंक. विभिन्न मांगों को लेकर रोडवेजकर्मियों ने सोमवार को रोडवेज बस स्टैण्ड पर धरना दिया। उन्होंने मांगों का निस्तारण नहीं होने पर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन भी किया। धरने पर बैठे सम्पतलाल सुवालका, नंदसिंह, श्योजीराम, रतिराम जाट, पुष्पेन्द्र शर्मा, पारसचंद जैन, कृपाशंकर शर्मा, जाकिर मियां, मोहम्मद हसन, अश्फाक मोहम्मद, मोहम्मद मियां, मोहम्मद रईस, राधेश्याम मीणा, बच्चू सिंह व भागचंद रैगर ने बताया कि सरकार की और से मांगों का निस्तारण नहीं किया जा रहा है। सरकार की श्रमिक विरोधी नीतियों के कारण श्रमिकों की मांगों का निस्तारण नहीं हो रहा है। इसके चलते उन्होंने धरना देकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया है।

 

शिक्षकों ने सौंपा ज्ञापन
विभिन्न मांगों को लेकर राजस्थान शिक्षक संघ प्रगतिशील के शिक्षकों ने मुख्यमंत्री के नाम जिला कलक्टर को ज्ञापन सौंपा। इससे पहले शिक्षकों ने कलक्ट्रेट में प्रदर्शन भी किया। संगठन के प्रदेश संरक्षक सैयद मेहमूद शाह, कार्यकारी प्रदेशाध्यक्ष जसवंतसिंह नरूका, संयुक्त महासंघ के जिलाध्यक्ष रामनारायण चौधरी, धनराज सिंह राजावत, हंसराज चौधरी, उपेन्द्रनारायण शर्मा, मोहम्मद इरफान, मोहम्मद इस्लाम नागौरी आादि ने बताया कि सरकार शिक्षकों की समस्याओं का समाधान नहीं कर रही है। इससे उनमें नाराजगी है। उन्होंने 21 सूत्री मांगों का निस्तारण करने की मांग की है।

 

इन्होंने भी सौंपा
अनुसूचित जाति की छात्राओं को स्कूटी वितरण में अंक प्रतिशत निर्धारण कर स्कूटी वितरण कराने की मांग को लेकर राजस्थान शिक्षक संघ अम्बेडकर ने ज्ञापन सौंपा। इसमें जिलाध्यक्ष हरिराम बड़ीवाल, जिला मंत्री सुदर्शन जोनवाल, तहसील अध्यक्ष रमेशचंद बोयत, जयंतीप्रकाश, ओमप्रकाश आदि ने बताया कि सभी वर्गों में अंक प्रतिशत निर्धारित है, लेकिन अनुसूचित जाति में अंक निर्धारित नहीं है। इससे छात्राएं स्कूटी से वंचित है।

 

वाहनों के काटे चालान
लाम्बाहरिसिंह. थाना पुलिस ने सोमवार को वाहनों की जांच कर चालान काटे। थाना प्रभारी रतन लाल ने बताया कि बिना हेलमेट दुपहिया वाहन चालकों, बिना सीट बेल्ट चला रहे चालकों समेत क्षमता से अधिक सवारी व बिना नम्बर वाहन मिलने पर चालीस वाहनों के चालान काटे गए।

 

Patrika
Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned