अब पूर्व उप मुख्यमंत्री सचिन पायलट ने दिया बड़ा बयान

सचिन पायलट ने कहा कि केन्द्र सरकार से अकाली दल व रालोपा ने समर्थन वापस ले लिया है। इसके बावजूद भी सरकार किसानों का दुखदर्द नहीं समझ रही है।

By: santosh

Published: 11 Jan 2021, 10:47 AM IST

टोंक। आजादी से लेकर अब तक रही केन्द्र सरकारों ने किसानों से मदद का वादा किया है, जिसे वर्तमान केन्द्र सरकार से बिना किसानों से चर्चा किए बदल कर तीन कानून लागू कर दिए। मण्डी अर्थव्यवस्था को खत्म कर उद्योगपतियों को खुली छूट दे दी। यह बात टोंक विधायक सचिन पायलट ने रविवार को विभिन्न ग्राम पंचायतों में आयोजित सभाओं में कही।

पायलट ने कहा कि किसान पिछले कई सप्ताह से दिल्ली की सीमा पर धरना दे रहे है। अगर कानून किसानों के हित में होते तो किसान सर्द मौसम में धरना नहीं देते। कई किसान आत्महत्या कर चुके हैं। सभी तरफ केन्द्र सरकार के इस कदम का विरोध हो रहा है। वहीं कानून के तहत समर्थन मूल्य को भी खत्म कर दिया है।

24 विपक्षी दल विरोध में
पायलट ने कहा कि देश के 24 विपक्षी दल केन्द्र सरकार द्वारा पारित किसान कानून के विरोध में एकजुट हैं। सभी तीनों कानून को वापस लिए जाने की मांग कर रहे हैं। केन्द्र सरकार से अकाली दल व रालोपा ने समर्थन वापस ले लिया है। इसके बावजूद भी सरकार किसानों का दुखदर्द नहीं समझ रही है।

विकास की चिंता हमारी
पायलट ने कहा कि कोरोना काल के दौरान विकास की गति कम हो गई थी, जिसे वापस से बढ़ाया जाएगा। विकास में किसी प्रकार की कमी नहीं आने दी जाएगी। उन्होंने देवली-भांची व लवादर में ग्राम पंचायत को एक-एक ट्रैक्टर भी सौंपे।घांस में पायलट को हल भेंट किया गया।

आन्दोलन से जुड़े किसान - पायलट
चाकसू बाइपास पर आयोजित समारोह में पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट ने कहा कि सभी कांग्रेस कार्यकर्ता एकजुट रहे और पार्टी को मजबूत बनाएं। इससे पहले विधायक वेदप्रकाश सोलंकी के नेतृत्व में क्षेत्र के कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने चाकसू पहुंचने पर पायलट का स्वागत किया। पायलट के स्वागत को लेकर कार्यकर्ताओं में खासा उत्साह नजर आया।

जनप्रतिनिधियों समेत आमजन में पायलट के स्वागत को लेकर होड़ मच गई। इस दौरान पायलट ने चाकसू नगरपालिका के नव नियुक्त चैयरमेन कमलेश बैरवा व वाईस चैयरमेन सीताराम गुर्जर को माला पहनाकर शुभकामनाएं दी। इस अवसर पर कृषि मंडी के पूर्व अध्यक्ष हरिनारायण चौधरी, पूर्व उपाध्यक्ष अवध शर्मा, महिला कांग्रेस की जिला देहात अध्यक्ष रही कविता गुर्जर, पूर्व ब्लॉक अध्यक्ष शहजाद नागौरी, सियाराम कसाना, सीताराम मंडावरिया, विक्रम सांवरिया समेत अनेक कार्यकर्ता व पदाधिकारी मौजूद रहे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned