सफाई कर्मचारियों ने आयुक्त को सौंपा ज्ञापन, स्थाईकरण व वेतन नियतन की मांग

नगर परिषद के सफाई कर्मचारियों के दो साल बाद भी स्थाईकरण व नियतन के आदेश जारी नहीं किए जाने से कर्मचारियों में निराशा छाई हुई है। टोंक नगर परिषद में 345 सफाई कर्मचारियों का परिविक्षा काल पूरा होने के बाद भी स्थाईकरण नहीं किए जाने व वेतन नियतन की मांग को लेकर बुधवार को सफाई कर्मचारियों ने राजस्थान सफाई मजदूर कांग्रेस की ओर से नगर परिषद आयुक्त को ज्ञापन सौंपा है।

By: pawan sharma

Published: 10 Jun 2021, 03:21 PM IST

टोंक. नगर परिषद के सफाई कर्मचारियों के दो साल बाद भी स्थाईकरण व नियतन के आदेश जारी नहीं किए जाने से कर्मचारियों में निराशा छाई हुई है। टोंक नगर परिषद में 345 सफाई कर्मचारियों का परिविक्षा काल पूरा होने के बाद भी स्थाईकरण नहीं किए जाने व वेतन नियतन की मांग को लेकर बुधवार को सफाई कर्मचारियों ने राजस्थान सफाई मजदूर कांग्रेस की ओर से नगर परिषद आयुक्त को ज्ञापन सौंपा है।

राजस्थान सफाई मजदूर कांग्रेस के अध्यक्ष अमर सौदा ने बताया कि राज्य सरकार की ओर से 2018 में सफाई कर्मचारियों की भर्ती निकाली गई थी, जिसमें सभी 345 पात्र आवेदन कर्ताओं को नगर परिषद की ओर से नियुक्ति दे दी गई थी। सौदा ने बताया की सभी कर्मचारियों का 2020 में दो वर्ष का परिवीक्षा काल भी पूरा हो चुका है। लेकिन इसके बाद भी किसी भी कर्मचारी का अभी तक वेतन नियतन नही हो पाया है।


कलक्टर ने किया गतिविधियों का निरीक्षण

पीपलू .जिला कलक्टर चिन्मयी गोपाल द्वारा डिजिटल शिक्षा तथा रोजगार विकास संस्थान बगड़ी पर लगी सैनेटरी नेपकिन इकाई एंव अन्य कार्यालय गतिविधियों का निरीक्षण किया गया। जिसमें उन्होंने विभाग के निदेशक डॉ. श्यामसुन्दर धाकड़ से संस्थान की सैनेटरी नेपकिन इकाई से संबंधित एंव स्वरोजगार उत्पत्ति की संभावनों के बारे में जानकारी प्राप्त की। संस्थान द्वारा निरंतर स्वरोजगार की संभावनों को तलाशा जा रहा है कि किस प्रकार से आम नागरिकों को स्वरोजगार प्राप्त हो सकें। इस मौके पर आएएस नवनीत कुमार उपखंड अधिकारी रवि वर्मा, धर्मवीर ललिता देवी मौजूद थे।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned