आधा घंटे देर से खुला विद्यालय का ताला,प्रधानाचार्य व अध्यापकों को सुनाई खरी-खोटी

Locking school: प्रतिदिन की भांति विद्यार्थी नियत समय पर विद्यालय के बाहर पहुंच गए। मगर विद्यालय के ताले नहीं खुलने पर बाहर खड़े होकर इंतजार करने लगे।

By: pawan sharma

Updated: 05 Sep 2019, 03:17 PM IST

दूनी. दूनी तहसील मुख्यालय स्थित राजकीय उच्च माध्यमिक विद्यालय सतवाड़ा (बालून्दा) के समय पर ताले नहीं खुलने व विद्यार्थियों के बाहर खड़े इंतजार करने से नाराज ग्रामीणों ने बुधवार प्रधानाचार्य सहित अध्यापकों को खरी-खोटी सुनाई। बाद में ताला खोलने पहुंचे चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को भी ग्रामीणों ने आड़े-हाथों लेकर समय पर विद्यालय का ताला खोलने की चेतावनदी देकर छोड़ा।

read more: बीसलपुर के एक गेट से बनास नदी में प्रति सेकंड 6 हजार 10 क्यूसेक पानी की निकासी जारी

उल्लेखनीय है की प्रतिदिन की भांति विद्यार्थी नियत समय पर विद्यालय के बाहर पहुंच गए। मगर विद्यालय के ताले नहीं खुलने पर बाहर खड़े होकर इंतजार करने लगे। इसी दौरान विद्यालय के ताले नहीं खुलने पर ग्रामीण एकत्रित होने लगे। वही अध्यापक भी आने लगे उनसे ताला नहीं खुलने की जानकारी लेने पर चतुर्थ श्रेणी के पास होना बताई तो नाराज ग्रामीण लापरवाह प्रधानाध्यापिका व अध्यापकों को खरी-खोटी सुनाने लगे।

read more:स्कूल का मुंह तक नहीं देखा टोंक की सईदा ने , अब बच्चों को दे रही नि:शुल्क तालीम, मिल चुका है प्रथम अक्षर मित्र का गौरव

सुचना के आधा घंटे बाद चाबी लेकर पहुंचे चतुर्थ श्रेणी कर्मचारी को भी खरी-खोटी सुना समय पर आने की चेतावनी दे ताला खुलवाने बाद विद्यार्थियों ने विद्यालय में प्रवेश किया। नाराज ग्रामीणों ने बताया विद्यालय में आए दिन कर्मचारियों की लेट-लतिफी से विद्यार्थियों का शिक्षण कार्य बाधित हो रहा है तो प्रधानाध्यापिका का आने का व जाने का समय नहीं है। इधर, प्रधानाध्यापिका सरिता सिंह का कहना है की आज में विद्यालय समय पर गई थी ऐसी कोई बात नहीं है।

read more:बनास की बजरी पर माफिया की नजर , प्रदेश के कई जिलों के खननकर्ता बनास में कूदे

Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned