video: विद्यार्थियों ने थाने का अवलोकन कर पुलिस की कार्य प्रणाली को समझा, अधिकारी बोले पुलिस जनता की रक्षा के लिए

pawan sharma | Publish: Feb, 15 2018 08:27:13 AM (IST) Tonk, Rajasthan, India

विद्यार्थियों ने निवाई पुलिस थाने का अवलोकन कर कानून की जानकारी ली।

 

निवाई. राजस्थान पत्रिका के सामाजिक सरोकर के तहत टिंकलबेल उच्च माध्यमिक विद्यालय विद्यार्थियों ने बुधवार को पुलिस थाने का अवलोकन कर कानून की जानकारी ली। विद्यार्थियों को थाना प्रभारी रामजीलाल ने बताया कि पुलिस जनता की रक्षा करने के लिए होती है। किसी भी प्रकार का अपराध हो तो पुलिस को 100 नम्बर पर सूचित करना चाहिए। उन्होंने मामले दर्ज होने की प्रक्रिया के बाद होने वाली कार्रवाई की जानकारी दी।

 

 

सडक़ दुर्घटना, लूट, चोरी, हत्या, आग सहित कई घटनाओं में पुलिस तत्काल मौके पर पहुंचकर मामले को काबू करने का प्रयास करती है। कई बार पुलिस को अपराधियों से मुठभेड़ करने के साथ कई चुनौतियों का भी सामना करना पड़ता है। उन्होंने विद्यार्थियों के अवलोकन के लिए राजस्थान पत्रिका का आभार व्यक्त किया। पत्रिका हमेशा अपराध की खबरों को प्राथमिकता से प्राकाशित करती है। इससे अपराधियों में भय रहता है।

 

 

उन्होंने कहा कि विद्यार्थियों को नियमित रूप से अखबार पडऩा चाहिए, ताकि देश-विदेश की जानकारी रहे। विद्यार्थियों ने पहले हवालात का अवलोकन किया। इसमें बंद एक आरोपित को देख छात्राएं घबरा गई। पुलिस ने बताया कि यह देशी शराब ले जाने का आरोपित है। इसका न्यायालय से वारंट जारी है। इसके बाद विद्यार्थियों ने मालखाने का अवलोकन किया। मालखाना प्रभारी गोपाल शर्मा ने हथियार की जानकारी दी।

 

 

कमलेश गुर्जर एवं कालूराम गुर्जर ने एफआईआर, अनुसंधान, कम्प्यूटर कक्ष, पुलिस आवास एवं रिकॉर्ड संधारण के बारे में बताया। इस अवसर पर विद्यालय निदेश राकेश भदोरिया, प्रधानाचार्या कल्पना भदोरिया, उपेन्द्र अवस्थी, मधु त्रिवेदी, बीना जैन, स्वाति जैन, शीबा फिरदोस, स्वीटी मौजूद थे।

 

 


कानूनी जानकारी दी
देवली. तालुका विधिक सेवा समिति अध्यक्ष व मजिस्टे्रट मनोज कुमार निमौरिया के निर्देश पर बुधवार को राजमहल में नालसा के तहत नशा पीडि़तोंं व नशा उन्मूलन के लिए विधिक सेवाओं को लेकर जागरूकता शिविर लगा। इसमें पैनल अधिवक्ता बंशीलाल कलवार ने ग्रामीणों को कानूनी जानकारी दी। पीडि़तों के लिए विधिक सेवाएं प्रदान करने के उद्देश्य से सरकार ने नशा पीडि़तों के लिए योजना 2015 बनाई है।

 

 

इसके तहत मादक पदार्थो की गैर कानूनी बिक्री पर रोक है। वहीं वर्जित दवाई को रखने, बिक्री करने व खेती के बारे में सूचना देने पर पुलिस कानूनी कार्रवाई करती है। जबकि सूचनकर्ता का नाम पुलिस की ओर से गोपनीय रखा जाता है। इस दौरान प्रतिवर्ष 26 जून को ड्रग्स के दुरुपयोग के विरुद्ध मनाए जाने वाले अन्तरराष्ट्रीय दिवस की जानकारी देते हुए मिलने वाली विधिक सेवाओं के बारें में भी बताया। शिविर में उपसरपंच तेजाराम, बुद्धिराज, भवानीशंकर, अविनाश शर्मा, हुसैन मोहम्मद आदि उपस्थित थे।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

Ad Block is Banned