फिर छाया कोहरा, सर्दी ने दिखाए तैवर

जिले में चार दिन बाद फिर से सर्दी ने तैवर दिखाए हैं। सुबह से ही कोहरा छाया रहा। सर्दी के चलते लोग ठिठुर गए। हाइवे पर भी वाहनों की गति धीमी रही।

By: pawan sharma

Published: 06 Jan 2020, 09:11 AM IST

टोंक. जिले में चार दिन बाद फिर से सर्दी ने तैवर दिखाए हैं। सुबह से ही कोहरा छाया रहा। सर्दी के चलते लोग ठिठुर गए। हाइवे पर भी वाहनों की गति धीमी रही। हालांकि हवा में गलन कम होने से लोगों राहत पाई, लेकिन ज्यादर समय बादल छाए रहने से सूरज कम ही निकल पाया। ऐसे में लोग धूप नहीं ले पाए।

कोहरे से जनजीवन प्रभावित
निवाई. उपखण्ड मुख्यालय पर सुबह छाए कोहरे से जनजीवन प्रभावित हुआ है एवं राष्टï्रीय राजमार्ग पर चलने वाले वाहन भी प्रभावित हो रहे है। पिछले दो सप्ताह से छा रहे कोहरे के चलते सुबह के समय 9-10 बजे तक भी राष्टï्रीय राजमार्ग पर वाहनों को चलाने में वाहन चालकों को लाइटों का प्रयोग करना पड़ रहा है।

शहर में कोहरे को लेकर सुबह 10 बजे तक भी धुंध छाई रहती है तथा कोहरे के चलते स्थानीय बस स्टेण्ड, राजकीय सामुदायिक अस्पताल सहित अनेक सरकारी दफ्तरों एवं सार्वजनिक स्थानों व बाजारो में सन्नाटा देखा गया। कोहरा पडऩे से दोपहर तक भी पेड़ो एवं फसलों पर ओस की बूंदे जमी हुई रहती है तथा ग्रामीण क्षेत्रों में लोगों ने सर्दी से बचने के लिए अलाव का सहारा लेना पड रहा है।

शीत लहर व पाले की भेंट चढ़ी सब्जियां
टोडारायसिंह. कस्बे समेत ग्रामीण क्षेत्र में गत दिनों से शीत लहर व पाले से टमाटर, लोकी, मिर्च समेत अन्य फसलों में किसानों को नुकसान हुआ है। किसानों ने बताया कि बीसलपुर बांध किनारे थड़ोली, भासू, दाबड़दुम्बा के अलावा टोडारायसिंह कस्बा, मोर, रीण्डल्यारामपुरा, पंवालिया, भांवता, लक्ष्मीपुरा समेत नदी किनारे गांवों में टमाटर, लोकी, मिर्च, गोबी समेत अन्य सब्जी की फसलें बोई थी।

पिछले दिनों से लगातार तामपान में गिरावट के बीच शीत लहर व पाला गिरने से फसले झुलस गई है। पत्ते मुरझाकर काले पडऩे से पौधों के लगी सब्जियां पकने से ही दम तोड़ दिया है। मोर निवासी कैलाश माली ने बताया कि उसने करीब 8 बीघा में लोकी व टमाटर की फसल उगाई थी। फसल खराबे में उन्हें भारी आर्थिक नुकसान उठाना पड़ा है।


दूनी. कोहरा छाने से रविवार सुबह जयपुर-कोटा राष्ट्रीय राजमार्ग सहित अन्य मार्गों पर वाहनों की गति धीमी रही। लोगों को गर्म कपड़ों में लिपटने पर मजबूर होना पड़ा। लोगों ने अलाव जला सर्दी से बचने का जतन किया। दोपहर बारह बजे तक कोहरा छाया रहा।

शीतलहर से छूटी धूजणी
मालपुरा. उपखण्ड क्षेत्र में सर्द हवाओं के चलने व घने कोहरे के कारण लोगों की दिनचर्या देरी से शुरू हुई। ठण्डी हवाओं के कारण लोगों को तेज धूप भी ठण्डी लगी। चल रही शीतलहर से जन-जीवन अस्त-व्यस्त हो गया। वहीं गांवों में बोई गई टमाटर, मटर, बेंगन सहित सरसों की फसल में आठ दिन से चल रही शीतलहर के चपेट में आने से नष्ट होने लगी है। लोग देर सवेरे तक अलाव जलाकर जगह जगह तपते नजर आए। शीतलहर से सर्द हवाओं से ठिठुरन भी बढ़ गई। दिनभर लोग गर्म कपड़े पहने रहे। शीतलहर से किसानों के चेहरों पर चिंता की लखीरें मंडरा रही है।

weather update
Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned