भगवान की भक्ति से खुलेंगे मोक्ष मार्ग के द्वार

भगवान की भक्ति से खुलेंगे मोक्ष मार्ग के द्वार

 

By: pawan sharma

Published: 18 Dec 2020, 06:01 PM IST

दूनी. दिगम्बर जैन मंदिर दूनी में चल रहे सोलह दिवसीय शांतिनाथ मण्डल विधान कार्यक्रम मेें प्रवचन करते हुए गणिनी आर्यिका विशिष्ट ने कहा कि हमें बुराइयों का त्यागकर सच्चाई एवं धर्म के मार्ग पर चलना होगा। भगवान की भक्ति से मोक्ष मार्ग के द्वार खुलना संभव है। इस दौरान गणिनी आर्यिका विशिष्टमति ससंघ के निर्देशन में चल रहे आयोजन में श्रद्धालुओं ने धार्मिक कार्यक्रम में भाग लेकर पुण्य कमाया।

दिगम्बर जैन समाज मंत्री पवनकुमार जैन ने बताया कि धार्मिक कार्यक्रम के तीसरे दिन श्रद्धालुओं ने प्रात: भगवान का अभिषेक-शांतिधारा की। इसके पश्चात मण्डल शुद्धि, मण्डप शुद्धि कर भगवान की आरती की गई। उन्होंने बताया कि आयोजित धार्मिक कार्यक्रम में समाज की महिला-पुरुष एवं युवक-युवतियां बढ़-चढकऱ हिस्सा ले रहे है। शांतिनाथ मण्डल विधान कार्यक्रम का समापन 1 जनवरी को होगा। इस दौरान प्रतिदिन विभिन्न धार्मिक कार्यक्रम आयोजित होंगे। इस दौरान अशोक बज, चेतनकुमार जैन, सतीश जैन थे।

महायज्ञ का आयोजन
पीपलू(रा.क.). कस्बे के दिगंबर जैन चंद्रप्रभु मंदिर के संत भवन में क्षुल्लक नयसागर के सान्निध्य में कोरोना महामारी से छुटकारा पाने के लिए जैन श्रद्धालुओं द्वारा धार्मिक भक्तामर पाठ का आयोजन किया गया। कार्यक्रम से पहले भगवान आदिनाथ के समक्ष दीप प्रज्जवलन किया गया। कार्यक्रम में मंत्रोच्चार द्वारा संगीतमय णमोकार महामंत्र का उच्चारण कर भक्तामर पाठ किए गए।

इसमें श्रद्धालुओं ने भगवान आदिनाथ के समक्ष 48 भक्तामर श्लोक के 48 दीपदान किया। कार्यक्रम में 48 रिद्धि मंत्रों का उच्चारण कर दीपदान किए गए। कार्यक्रम में टोडारायसिंह की जैन मंडली एवं गायक मुकेश गोयल ने भजनों की आकर्षक प्रस्तुतियां दी। क्षुल्लक नयसागर ने प्रवचन में सत्य, अहिंसा, अचोरिय, बह्मचर्र्य, अपरिग्रह जैसे महावीर के सिद्धांतों पर विस्तार से प्रकाश डाला।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned