प्यास बुझाने की बजाय नाले में बह गया हजारों गैलन पानी

बीसलपुर-टोंक-उनियारा पेयजल परियोजना पर रखरखाव का कार्य देख रही कम्पनियों के कार्मिकों की अनदेखी से हजारों गैलन पानी बह गया। जहां एक तरफ ग्रामीण पाइप लाइन से लाखों लीटर पानी घंटों तक व्यर्थ सडक़ पर बहता रहा, लेकिन कार्मिकों को जलापूर्ति बंद करने तक की जहमत नहीं उठाई। वही दूसरी ओर उनियारा की तरफ जा रही पेयजल परियोजना के प्रथम चरण की शहरी पाइप लाइन को किसानों से जेसीबी मशीन से तोड़ डाली जिससे घंटों तक जलापूर्ति बंद रही।

By: pawan sharma

Published: 09 Jun 2021, 07:03 PM IST

राजमहल. बीसलपुर-टोंक-उनियारा पेयजल परियोजना पर रखरखाव का कार्य देख रही कम्पनियों के कार्मिकों की अनदेखी से मंगलवार को हजारों गैलन पानी बह गया। जहां एक तरफ ग्रामीण पाइप लाइन से लाखों लीटर पानी घंटों तक व्यर्थ सडक़ पर बहता रहा, लेकिन कार्मिकों को जलापूर्ति बंद करने तक की जहमत नहीं उठाई। वही दूसरी ओर उनियारा की तरफ जा रही पेयजल परियोजना के प्रथम चरण की शहरी पाइप लाइन को किसानों से जेसीबी मशीन से तोड़ डाली जिससे घंटों तक जलापूर्ति बंद रही।


उल्लेखनीय है कि राजमहल फिल्टर प्लांट से देवली की ओर जा रही ग्रामीण पाइप लाइन गांवड़ी पंचायत के रूपारेल गांव के करीब मंगलवार सुबह क्षतिग्रस्त हो गई, जिससे लाखों लीटर पानी सडक़ पर बह गया। ग्रामीणों ने बताया कि गांवड़ी के पास 225 एमएम (9 इंच) गोलाई वाली पाइप लाइन क्षतिग्रस्त होते ही देवली सडक़ मार्ग पर बरसाती नाले की तरहा लाखों लीटर पानी व्यर्थ बहने लगा, जिसकी जानकारी ग्रामीणों की ओर से परियोजना के द्वितीय चरण पर रखरखाव का कार्य देख रही गेमन इण्डिया प्राइवेट लिमिटेड कम्पनी के कार्मिकों को देने के तीन घंटे बाद भी जलापूर्ति बंद नहीं की गई, जिससे कार्मिकों की लापरवाही सामने आने के साथ ही घंटों तक सडक़ पर पानी बहता रहा।

इसी प्रकार बीसलपुर-टोंक-उनियारा पेयजन परियोजना के प्रथम चरण के दौरान बिछाई गई उनियारा की ओर जा रही पाइप लाइन घाड़ गांव के करीब किसानों की ओर से खेत में जेसीबी चलाने के दौरान क्षतिग्रस्त कर दी गइ, जिसकी सूचना मिलते ही परियोजना के कार्मिकों ने जलापूर्ति बंद कर दी गई।

प्रथम चरण पर रखरखाव का कार्य देख रही एलएण्डटी कम्पनी के राजमहल फिल्टर प्लांट के प्रोजेक्ट मैनेजर सादाब खान ने मौके पर पहुंचकर मरम्मत का कार्य करवाया, जिससे लगभग चार घंटे तक उक्त जलापूर्ति प्रभावित रही। इधर, पेयजल परियोजना के प्रथम चरण के तहत रखरखाव का कार्य देख रही कम्पनी के कार्मिकों से दूरभाष पर सम्पर्क करने का प्रयास किया गया, लेकिन सम्पर्क नहीं हो पाया।

Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned