ट्रक की टक्कर से बाइक पर सवार शादी से लौट रहे दम्पती सहित तीन की मौत

राष्ट्रीय राजमार्ग 116 पर ककोड गांव के समीप रूपवास मोड़ पर मंगलवार रात ट्रक की टक्कर से मोटरसाइकिल सवार दम्पती एवं एक युवती की मौत हो गई।

By: pawan sharma

Published: 17 Feb 2021, 08:43 PM IST

बनेठा. क्षेत्र स्थित राष्ट्रीय राजमार्ग 116 पर ककोड गांव के समीप रूपवास मोड़ पर मंगलवार रात ट्रक की टक्कर से मोटरसाइकिल सवार दम्पती एवं एक युवती की मौत हो गई। पुलिस के अनुसार मंगलवार रात को घास गांव में आयोजित शादी समारोह में शरीक होकर बुद्धीप्रकाश (22) पुत्र हेमराज प्रजापत, उसकी पत्नी मोना उर्फ मोनिका (19)तथा उसकी नजदीकी रिश्तेदार रीना (18) पुत्री रामेश्वर प्रजापत निवासी गोठड़ा मोटरसाइकिल से अपने गांव भरनी आ रहे थे।

इस दौरान ककोड़ गांव के समीप रूपवास मोड़ के आगे उनियारा की तरफ से आ रहे एक ट्रक ने टक्कर मार दी, जिससे तीनों घायल हो गए। पीछे आ रहे गोठडा निवासी हनुमान व धनराज ने दुर्घटना देखकर पुलिस को सूचना दी, जिस पर ककोड़ चौकी प्रभारी ओम प्रकाश यादव, हेड कांस्टेबल प्रधान मीणा सहित पुलिस जाप्ता मौके पर पहुंचा एवं एंबुलेंस से घायलों को उपचार के लिए टोंक पहुंचाया, जहां तीनों घायलों को चिकित्सकों ने मृत घोषित कर दिया गया।

घटना की जानकारी मिलते ही जिला कलक्टर टोंक गौरव अग्रवाल व पुलिस अधीक्षक ओमप्रकाश सआदत अस्पताल पहुंचे। वहीं घटना स्थल से चालक ट्रक छोडकऱ फरार हो गया। पुलिस ट्रक जब्त कर ककोड़ चौकी ले आई। बुधवार सुबह शवों को पोस्टमार्टम कर शव परिजनों को सुपुर्द किए गए।


मृतका मोनिका के पिता गोठड़ा निवासी गिर्राज पुत्र नारायण ने बनेठा पुलिस थाने में मामला दर्ज कराते हुए बताया कि उसकी पुत्री मोनिका, पति बुद्धि प्रकाश व उसकी रिश्तेदार गोठडा निवासी रीना घास गाव से अपने गांव आ रहे थे। रूपवास मोड़ के आगे लघुशंका से निवृत होकर मोटरसाइकिल समीप खड़े थे, जिस पर सामने से तेज गति से गलत साइड से आ रहे ट्रक के चालक ने लापरवाही व तेज रफ्तार से टक्कर मार दी, जिसमें तीनो की मौत हो गई।


छीन गया माता-पिता का सहारा

दूनी. दुर्घटना के बाद देर शाम बुद्धिप्रकाश, मोनिका व रीना की मौत की खबर भरनी व थली में लगी तो दोनों गांवों में कोहराम मच गया। लोग मृतक के घर की ओर दौड़ पड़े। दुर्घटना मृतकों के माता-पिता, बहिनों एवं परिजनों का रो-रोकर बुरा हाल था।

परिजनों ने रात तो जैसे-तैसे बिताई, इसके बाद सुबह से ही परिजन एवं ग्रामीण शवों का इंतजार करने लगे। करीब साढ़े नो बजे भरनी में एक साथ दो शव पहुंचे तो परिजनों का विलाप देखकर ग्रामीणों की आंखें भी नम हो गई। परिजनों ने बताया कि मोनिका दो-तीन माह की गर्भवती थी। घर से एक साथ निकली पुत्र एवं पुत्रवधु की अर्थियां देखकर माता-पिता तो बेसुध हो गए। वहीं गोठड़ा निवासी रीना का अंतिम संस्कार ससुराल थली में किया गया।

Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned