पीएम आवास योजना : देश की रैकिंग में टोंक 380 नम्बर पर, लोगों को नहीं मिला रहा है लाभ

प्रधानमंत्री आवास योजना स्टेट रैकिंग में जिला सबसे आखिरी पायदान पर है, वहीं देश में 380 नम्बर पर है। प्रदेश में पहले नम्बर पर झालावाड़ है तथा देश में 99 नम्बर पर है।

By: pawan sharma

Published: 11 Jun 2021, 06:13 PM IST

टोंक. गरीब तबके को आशियाना सुलभ करवाने के लिए बनाई गई प्रधानमंत्री आवास योजना का जिले के पात्र लोगों को पूर्ण रूप से लाभ नहीं मिल पा रहा है। ऐसे में सैकड़ों लोगों को अभी तक किस्त नहीं मिलने पर आवास निर्माण कराए जाने में समस्या सामने आ रही है तो कुछ मानसून आने से पहले निर्माण कार्य पूरा कराए जाने के लिए कर्जा लेकर कार्य शुरू कर रखा है।

वहीं प्रधानमंत्री आवास योजना स्टेट रैकिंग में जिला सबसे आखिरी पायदान पर है, वहीं देश में 380 नम्बर पर है। प्रदेश में पहले नम्बर पर झालावाड़ है तथा देश में 99 नम्बर पर है। जानकारी अनुसार वर्ष 2016-17 से 2020-21 तक जिले में 38 हजार 253 प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत किए गए, जिसमें से 36 हजार 436 को प्रथम किस्त, 30 हजार 48 को द्वितीय किस्त एवं मात्र 25 हजार145 को तृतीय किस्त जारी की गई। ऐसे में अभी भी 13 हजार 108 पात्र लोगों को भवन निर्माण के लिए तीसरी किस्त नहीं मिल पाई है।

बारिश में होगी समस्या
मौसम विभाग की माने तो जून के अंतिम व जुलाई माह के प्रथम सप्ताह तक क्षेत्र में मानसून सक्रिय हो जाएंगे। ऐसे में बिना छत के करीब 13 हजार से अधिक मकानों के लोगों को परेशानी का सामना करना पड़ेगा। वहीं छत के अभाव में दीवारों के भी गिरने की संभावना बनी रहेगी।

मालपुरा में सबसे अधिक

मालपुरा में सबसे अधिक 11 हजार 23, निवाई में 2392, देवली में 7882, टोंक में 2791, टोडारायसिंह में 6156, उनियारा में 5048 एवं पीपलू में 2961 प्रधानमंत्री आवास स्वीकृत किए गए थे, जिनमें मालपुरा में 4833, निवाई में 389, देवली में 2005, टोंक में 689, टोडारायसिंह में 2202, उनियारा में 1967 एवं पीपलू में 994 प्रधानमंत्री आवास योजना लाभ धारकों को तीसरी किस्त नहीं मिल पाई है।

जिले में 28 मार्च के बाद से प्रधानमंत्री आवास योजना में भुगतान नहीं आया है, जिन पात्र लोगों की छत नहीं बन पाई है, उनकी छत नहीं गिरे इसकी व्यवस्था करने के विकास अधिकारियों को निर्देश दिए गए है।
सौम्या झा, मुख्य कार्यकारी अधिकारी, जिला परिषद, टोंक

मार्च माह में कुछ प्रधानमंत्री आवास योजना लाभ धारकों का भुगतान मिला था। इसके बाद से कोई भुगतान नहीं मिल पाया है। ऐसे में कार्य गति नहीं पकड़ पा रहा है।
सरोज बैरवा, विकास अधिकारी, निवाई

आवास निर्माण में आ रही अड़चनों को दूर करने के लिए केन्द्र सरकार के स्थानीय प्रतिनिधि सांसद व संबंधित मंत्री को अवगत कराया जाएगा, ताकि पात्र लोगों को आवास सुलभ हो सके।
सरोज बंसल, जिला प्रमुख, टोंक

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned