scriptटोंक प्रदेश में 8 वें स्थान पर, 5 लाख 10 हजार से अधिक ने कराई ई-केवाईसी में | Patrika News
टोंक

टोंक प्रदेश में 8 वें स्थान पर, 5 लाख 10 हजार से अधिक ने कराई ई-केवाईसी में

राशन की दुकानों पर ई-केवाईसी कराने के लिए इन दिनों लोगों की भीड़ उमड़ रही है। परिवार के साथ ई-केवाईसी कराई जा रही है। कई जगह परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अब तक 51 प्रतिशत ने ई-केवाईसी करा ली है।

टोंकJun 15, 2024 / 07:40 pm

pawan sharma

e KYC

राशन की दुकानों पर उपभोक्ताओं को ई-केवाईसी के बिना राशन सामग्री नहीं मिलेगी।

  • राशन की दुकानों पर ई-केवाईसी कराने के लिए इन दिनों लोगों की भीड़ उमड़ रही है। परिवार के साथ ई-केवाईसी कराई जा रही है। कई जगह परेशानियों का सामना करना पड़ रहा है। अब तक 51 प्रतिशत ने ई-केवाईसी करा ली है।
खाद्य एवं आपूर्ति विभाग की ओर से जारी निर्देशों के अनुसार राशन की दुकानों पर उपभोक्ताओं को ई-केवाईसी के बिना राशन सामग्री नहीं मिलेगी। इसके लिए प्रदेश में राशनकार्डधारी अपने परिवार के साथ राशन की उचित मूल्य की दुकान पर पहुंच कर पोस मशीन पर अपने अंगूठे की निशानी देकर ई-केवाईसी करवा रहे है। विभाग की ओर से टोंक जिले में करीबन 51 प्रतिशत लक्ष्य पूरा कर लिया गया है। जो प्रदेश में 8 वां स्थान है। वहीं पहले स्थान पर 67.06 कोटा व अंतिम पायदान पर 28.67 प्रतिशत पर बाड़मेर का स्थान है।
ई-केवाईसी करवाना आवश्क

जिला रसद अधिकारी इंदरपाल मीना ने बताया कि राज्य ओर केन्द्र सरकार की ओर से योजनाओं का लाभ लेने के लिए राशन कार्ड में जिन सदस्यों के नाम है उन सभी को राशन की दुकान जाकर अपनी ई-केवाईसी करवाना आवश्क होगा। इसके बाद ही रसद सामग्री मिल सकेगी। जिला रसद अधिकारी ने बताया कि टोंक जिले में 2 लाख 49 हजार 242 राशन कार्ड जारी किए हुए है। जिनके सदस्यों की संख्या 9 लाख 82 हजार 141 है। जो एनएफएस योजना के तहत लाभान्वित हो रहे है। 5 लाख 10 हजार 297 राशन सदस्यों ने अपनी ई-केवाईसी कराई है जो कुल सदस्यों का करीबन 51 प्रतिशत है।
शहरी क्षेत्र देवली में सबसे कम

शहरी क्षेत्र में भी सर्वाधिक राशनकार्डधारी मालपुरा में है। यहां 18788 राशनकार्डधारी है। जिनमें से 12062 ने अपनी ई-केवाईसी करवाई है। इसी प्रकार श्हरी क्षेत्र देवली में 7339 राशनकार्डधारी में से 3626, निवाई में 15713 कार्डधारी में से 11496, टोडारायङ्क्षसह में 15540 में से 5681, टोंक में 92597 कार्डधारी में से 64961 व उनियारा में 8024 कार्डधारी में से 4379 सदस्यों ने अपनी ई-केवाईसी पूरी करवा ली है।
सर्वाधिक कार्डधारी मालपुरा ग्रामीण में

जिले के ग्रामीण क्षेत्र में सर्वाधिक राशन कार्डधारियों के सदस्यों की संख्या 1 लाख 58 हजार 718 मालपुरा ग्रामीण में है। यहां पर 78069 सदस्यों ने अपनी ई-केवाईसी करवाई है। इसी प्रकार देवली ग्रामीण में 1 लाख 48 हजार 514 राशनकार्डधारी है। यहां पर 88 हजार 646 सदस्यों की ई-केवाईसी हो चुकी है। इसी प्रकार निवाई में 133952 कार्डधारी में से 67700 सदस्यों ने, पीपलू में 84433 कार्डधारी में से 41409, टोडारायङ्क्षसह के 91506 राशनकार्डधारी के 35278 सदस्यों ने, उनियारा के 119709 कार्डधारी में से 60293 सदस्यों ने व टोंक ग्रामीण के 85308 कार्डधारी में से 36697 ने ई-केवाईसी करवाई है।
आधार अपडेशन के लिए एसीपी को पत्र लिखा

खाद्य सुरक्षा योजना के लाभार्थियों को आधार अपडेशन में आ रही परेशानी को देखते हुए जिला कलक्टर डॉ .सौम्या झा ने एसीपी डूईट को पत्र लिखा है। पत्र में बताया कि एसीपी डूईट की ओर से टोंक नगरपरिषद क्षेत्र में 10 तथा प्रत्येक पंचायत समिति एवं नगरपालिका में न्यूनतम 5-5 आधार सेंटर शुरू किए जाए।

Hindi News/ Tonk / टोंक प्रदेश में 8 वें स्थान पर, 5 लाख 10 हजार से अधिक ने कराई ई-केवाईसी में

ट्रेंडिंग वीडियो