ऑक्सीजन का निर्धारित कोटा भी नहीं मिल रहा टोंक को

राजकीय सआदत अस्पताल टोंक में भर्ती मरीजों की संख्या के मुताबिक प्रतिदिन 100 ऑक्सीजन सिलेंडरों की जरूरत है। पिछले दो दिनों से प्रतिदिन 90 से 95 सिलेण्डरों की खपत हो रही है। ऐसे में कोविड वार्ड में भर्ती मरीजों के लिए फिलहाल प्रतिदिन 100 सिलेण्डरों की आवश्यकता है।

By: pawan sharma

Published: 07 May 2021, 09:18 PM IST

टोंक. कोरोना संक्रमण की दूसरी लहर में जिले में कोरोना संक्रमित रोगियों का आंकड़ा थमने का नाम नहीं ले रहा, वहीं प्रतिदिन मौत का आंकड़ा भी बढ़ रहा है। इतना ही नहीं जिले के सबसे बड़े सआदत अस्पताल टोंक में ऑक्सीजन की किल्लत अभी तक बनी हुई है। साथ ही अस्पताल में ऑक्सीजन, रेमडेसिविर इंजेक्शन तक उपलब्ध नहीं है।


राजकीय सआदत अस्पताल टोंक में भर्ती मरीजों की संख्या के मुताबिक प्रतिदिन 100 ऑक्सीजन सिलेंडरों की जरूरत है। पिछले दो दिनों से प्रतिदिन 90 से 95 सिलेण्डरों की खपत हो रही है। ऐसे में कोविड वार्ड में भर्ती मरीजों के लिए फिलहाल प्रतिदिन 100 सिलेण्डरों की आवश्यकता है।

वैसे तो राज्य सरकार ने चिकित्सा विभाग को अलवर से 100 तथा किशनगढ़ से 50 ऑक्सीजन सिलेंडर रोजाना उपलब्ध कराए जाने के आदेश तो दिए है लेकिन सच तो यह है कि अलवर से करीब 70 ही सिलेण्डर मिल पा रहे है। किशनगढ़ से भी तय कोटे से कम सिलेंडर मिल रहे है, लेकिन यहां से नियमित सप्लाई नहीं हो पाने के कारण आवश्यकता के अनुसार ऑक्सीजन की कमी बनी हुई है।

पीएमओ डॉ खेमराज बंशीवाल ने बताया कि हाल ही में कुल 18 ऑक्सीजन कंसंट्रेटर सआदत अस्पताल टोंक को उपलब्ध कराए गए है, जिनसे मेडिकल कोविड वार्ड में रोगियों को ऑक्सीजन उपलब्ध कराई जा रही है। जबकि आईसीयू,आइसोलेशन वार्ड में ऑक्सीजन प्लांट से तथा सर्जिकल वार्ड कोविड में सिलेंडरों से ऑक्सीजन की आपूर्ति की जा रही है।

सआदत अस्पताल टोंक में गुरुवार को सिर्फ 20 रेमडेसिविर इंजेक्शन उपलब्ध कराए गए थे, जबकि प्रतिदिन भर्ती एक मरीज को एक इंजेक्शन के हिसाब से 60 की आवश्यकता है। इतना ही नहीं ऑक्सीजन प्लांट की आपूर्ति गड़बड़ा जाए तो भर्ती मरीज को पलंग पर सिलेण्डर से ऑक्सीजन उपलब्ध कराए जाने के लिए सिर्फ 50 रेग्यूलेटर ही उपलब्ध है, जब कि 150 की जरूरत है ताकि रोगियों को सिलेंडरों से ऑक्सीजन दी जा सके।

सभापति ने शहर में ऑक्सीजन प्लांट लगाने की स्वीकृति जारी की

टोंक. कोविड-19 के संक्रमण के प्रकोप में अधिक से अधिक लोगों की जान बचाने के लिए स्वायत्त शासन विभाग जयपुर की ओर से टोंक शहर में ऑक्सीजन प्लांट स्थापित करने की नगर परिषद सभापति अली अहमद ने स्वीकृति जारी की है। इसके बाद ऑक्सीजन प्लांट लगाने की प्रक्रिया पूर्ण की जा रही है।

अतिशीघ्र कार्य आदेश जारी कर प्लांट स्थापित किया जाएगा। प्लांट लगाने के लिए सभापति अली अहमद ने सहमति दे दी है। प्लांट स्थापित करने पर लगभग एक करोड़ रुपए का व्यय होगा, जिसे नगर परिषद वहन करेगी। उक्त प्लांट स्थापित होने से प्रतिदिन 100 सिलेण्डर ऑक्सीजन का उत्पाद होगा। इससे वर्तमान में आ रही ऑक्सीजन की कमी से अधिक से अधिक आमजन को राहत मिलेगी।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned