25 मई से 2 जून तक बालिकाओं के लिए प्रशिक्षण शिविर का होगा आयोजन

25 मई से 2 जून तक बालिकाओं के लिए प्रशिक्षण शिविर का होगा आयोजन

Pawan Kumar Sharma | Publish: May, 12 2019 02:30:03 PM (IST) Tonk, Tonk, Rajasthan, India

बैठक में प्रशिक्षण शिविर को सफल बनाने के लिए सदस्यों को जिम्मेदारियां सौंपी गई।

 

मालपुरा. अग्रवाल समाज चौरासी, अग्रवाल समाज युवा परिषद्, महिला परिषद्, बालिका परिषद् के संयुक्त तत्वावधान में अग्रवाल सेवा सदन डिग्गी में 25 मई से 2 जून तक बालिकाओं के प्रशिक्षण शिविर के आयोजन सहित अग्रवाल समाज चौरासी की ओर से किए जाने वाले सामाजिक कार्यक्रमों को लेकर शनिवार को अग्रवाल समाज चौरासी के अध्यक्ष हुकमचन्द जैन की अध्यक्षता में बैठक हुई।


बैठक में अध्यक्ष हुकमचन्द जैन ने अग्रवाल सेवा सदन में किए जाने विकास कार्यों पर भी सदस्यों से अपने-अपने सुझाव लिए। बैठक में प्रशिक्षण शिविर को सफल बनाने के लिए सदस्यों को जिम्मेदारियां सौंपी गई।

 

बैठक में जयपुर ब्लॉक अध्यक्ष महेन्द्र पराणा, शिक्षा संयोजक रामगोपाल पीपल्या, कोषाध्यक्ष गोविन्द नारायण जैन, मंत्री अनिल सूराशाही, महामंत्री त्रिलोकचन्द जैन, युवा परिषद् के अध्यक्ष विनोद नेवटा, संजय सिंघी, राधेश्याम, महावीर प्रसाद जैन, मालपुरा ब्लॉक अध्यक्ष शांतिलाल जैन, देवकीनन्दन गुप्ता सहित कई सदस्य मौजूद रहे।

 

 

स्वैच्छिक कार्यशाला का आयोजन
टोडारायसिंह. अध्यापिका मंच टोडारायसिंह व अजीम प्रेमजी फाउण्डेशन के लर्निंग एण्ड रिसोर्स सेंटर की ओर से अध्यापिका मंच की दो दिवसीय स्वैच्छिक कार्यशाला का आयोजन हुआ।

 

कार्यशाला में अध्यापिका मंच से किरण व संतरा देवी ने वर्तमान परिप्रेक्ष में बालिका शिक्षा की आवश्यकता पर चर्चा की गई। कार्यशाला में शिक्षिका मुन्नी देवी, शांति देवी, उषा जैन, दुर्गा देवी, सुमित्रा, योगिता, ज्योति, ममता व अफरोज बानो ने शिक्षकों की भूमिका पर प्रकाश डाला।

 

जयपुर से आए गोपाल लाल ने मंच की परिचर्चा में शैक्षिक नवाचारों के बारे में बताया। कार्यशाला में अजीम प्रेमजी फाउण्डेशन दिलीप, पुष्पा व जितेंन्द्र भी मौजूद थे।


कूंची से दिए बच्चों ने संदेश
टोंक.अजीम प्रेमजी स्कूल के 7वें वार्षिक उत्सव पर आयोजित रंग उमंग चित्र प्रदर्शनी का उद्घाटन राजू लाल सैनी एवं विनोद गोयर व अचुत्य ठाकुर ने किया। प्रदर्शनी में बच्चों के चित्रों में काल्पनिक मौलिक अभिव्यक्ति दिखाई दी बच्चों ने आस-पास के पर्यावरण को साफ रखने और कचरे का पुन: उपयोग करने का सन्देश दिया।

 

वहीं मिट्टी से बनी शिल्प को भी प्रदर्शित किया। तीन दिवसीय रंग उमंग चित्र एवं शिल्प प्रदर्शनी में आए दर्शकों ने भी विचार व्यक्त किए।

 

प्रदर्शनी का अवलोकन वनस्थली विद्यापीठ के व्याख्याता अन्नपूर्णा शुक्ला, ललिता चावला, अजय मिश्रा, उमेश साहू, महेश गुर्जर, अजीत बहादूर, हरीराम चौधरी, रामरतन गुगलिया, देवेन्द्र जोशी, नरेन्द्र जाट, राजकुमार रजक, यावर हबीब, छोटे लाल तंवर आदि ने अवलोकन किया।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned