video: नलों में पानी नहीं आने से नाराज महिलाओं का टूटा सब्र का बांध, मार्ग पर जाम लगा जलदाय विभाग के खिलाफ नारेबाजी कर फोड़ी मटकियां

कई दिनों नलों में पानी नहीं आने से नाराज महिलाओं, पुरुष एवं युवाओं ने मंगलवार को दूनी-सरोली मार्ग पर जाम लगा दिया।

 

बंथली. दूनी के चूंगीनाका मोहल्ले में विगत कई दिनों नलों में पानी नहीं आने से नाराज महिलाओं, पुरुष एवं युवाओं ने मंगलवार को दूनी-सरोली मार्ग पर जाम लगा दिया। नाराज महिलाओं ने जलदाय विभाग के खिलाफ नारेबाजी कर मटकियां फोड़ अभियंताओं को मौके पर बुलाने की मांग की।

 

सूचना पर पहुंचे दूनी तहसीलदार तेजपाल गोठवाल व थानाप्रभारी घीसालाल राव ने लोगों से वार्ताकर समस्या का समाधान कराए जाने का आश्वास देकर एक घंटे बाद जाम खुलवाया। बाद में पहुंचे जलदाय विभाग के कनिष्ठ अभियंता पूरणमल बैरवा ने लोगों को जल्दी ही समस्या का समाधान कर सुचारू पेयजलापूर्ति कराए जाने का आश्वासन दिया।

 

जाम लगाए जाने के दौरान मार्ग के दोनों ओर वाहनों की कतारें लग गई। करीब पन्द्रह दिनों से नलों में पानी नहीं आने पर महिला एकजुट होकर दूनी-सरोली मार्ग पर आ गई और वहां रखे पत्थर व लकडिय़ां लगाकर मार्ग जामकर दिया। इस दौरान उन्होंने जलदाय विभाग के खिलाफ नारेबाजी कर विरोध स्वरूप साथ लाई मटकियों को मार्ग पर फोड़ वाहनों को नहीं निकलने दिया।

 

जाम लगाने में महिलाओं का पुरुषों, बच्चों एवं युवाओं ने भी सहयोग किया। रामचरण शर्मा, रामप्रसाद शर्मा, नरेन्द्र शर्मा सहित अन्य ने बताया कि विभागीय लापरवाही के चलते नलों में पानी नहीं आने से महिलाओं को दूर-दराज के कुओं या अन्य स्रोतों से पेयजल लाकर प्यास बुझानी पड़ रही है। वहीं मोहल्ले में कई अवैध कनेक्शन भी है जो ठेकेदार की मिलीभगत से मुफ्त में मजे ले रहे हैं।

 

उन्होंने बताया कि कई बार स्थानीय कर्मचारियों से लेकर उच्चाधिकारियों को समस्या समाधान की मांग करने के बावजूद सुनवाई नहीं करने पर उन्हें मार्ग जाम करने का कदम उठाना पड़ा। इस मौके पर अक्षय विजय, अविनाश पारीक सहित दर्जनों महिला-पुरूष थे।


शर्त रख खोला जाम
महिला-पुरुषों की ओर से दूनी-सरोली मार्ग पत्थर-लकडिय़ां लगाकर मार्ग जाम किए जाने के बाद मौके पर पहुंचे दूनी तहसीलदार तेजपाल गोठवाल व दूनी थानाप्रभारी घीसालाल राव की ओर से महिलाओं को जाम हटाने को कहा। इस पर महिलाओं ने जलदाय विभाग के अधिकारियों के नहीं आने तक दोनों को मौके पर रुके रहने की शर्त मानने पर जाम खोलने की बात कही। इस पर तहसीलदार एवं थानाप्रभारी ने महिलाओं की शर्त मान वहीं बैठ गए। बाद में लोगों ने पत्थर एवं लकडिय़ां हटाकर जाम हटा दिया। इसके बाद मार्ग पर वाहनों की आवाजाही शुरू हुई।

 



Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned