सिरस पुलिस चौकी में सभी पर रिक्त, सरपंच के नेतृत्व में ग्रामीणों ने किया प्रदर्शन

राजकीय पुलिस चौकी में पुलिस कर्मियों के पद रिक्त होने से ताला लटका हुआ है।

 

By: pawan sharma

Published: 27 Jul 2020, 06:26 PM IST

सिरस. राजकीय पुलिस चौकी में पुलिस कर्मियों के पद रिक्त होने से ताला लटका हुआ है। सरपंच शिवजी राम जाट के नेतृत्व में ग्रामीणों ने पुलिस चौकी कार्यालय में प्रदर्शन कर रोष व्यक्त किया। ग्रामीणों ने बताया कि पुलिस चौकी कार्यालय पर पिछले ६ माह से पुलिस कर्मियों के पद रिक्त है।


वैकल्पिक व्यवस्था के नाम पर थाने से बीच में एक या दो पुलिस कर्मियों को प्रतिनियुक्ति पर भी लगाया था। ग्रामीणों ने बताया कि वर्तमान में २० दिन से तो चौकी कार्यालय पर एक भी पुलिस कर्मी नही होने से ताले लटके हुए है। पुलिस कर्मियो के अभाव में क्षैत्र में चोरियों की वारदात को भी बढ़ावा मिल रहा है। प्रदर्शन के बाद ग्रार्मीणों ने बैठक आयोजित कर पुलिस अधीक्षक को ज्ञापन देने का निर्णय लिया।

गौरतलब है कि पुलिस चौकी पर एक एएसआई, एक हेड कांस्टेबल एवं तीन कांस्टेबल के पद सृजित है। बैठक में भैरू लाल सैनी, कमलेश शर्मा, रामअवतार जांगिड़, लादू लाल वर्मा, रसीद खां, कपूर चन्द खटीक, चिंरजी लाल, राम सिंह कुशवाह सहित अन्य लोग मौजूद थे।

पुलिस हिरासत में मारपीट का आरोप

पीपलू(रा.क.). पुलिस हिरासत में आरोपियों से मारपीट के विरोध में उपखंड क्षेत्र के रानोली के ग्रामीणों ने एसपी ओमप्रकाश से मिलकर पीपलू थानाधिकारी पर थाने में मारपीट करने की शिकायत की हैं। साथ ही थानाधिकारी पर कार्रवाई की मांग की हैं। मारपीट से पीडि़त सलीम खां ने बताया कि 21 जुलाई की रात पुलिसकर्मी घर पर आए ओर उसे थाने में ले गए। जहां पर थानाधिकारी ने मारपीट की जिससे सिर से खून निकल गया।

इसके बावजूद थानाधिकारी मारपीट करते रहे। ग्रामीणों ने आरोप लगाया कि थाने में से उपचार के लिए अस्पताल ले जाकर पीडि़त के टांके लगवाने के बाद पट्टी करवाई गई, लेकिन बाद में वापस थाने में ले जाकर सलीम और प्रहलाद से फिर मारपीट की गई।

दअरसल पीपलू के रानोली में गत दिनों चोरी एवं लूट के बाद हुई फायरिंग की घटना को लेकर आक्रोशित ग्रामीणों ने करते हुए पीपलू थानाधिकारी के पुतले के साथ प्रदर्शन किया था। इसके बाद पुलिस ने प्रदर्शन करने वालों पर कार्यवाही करते उन्हे गिरफ्तार किया था। पुलिस हिरासत के दौरान पीडि़त ने थानाधिकारी पर मारपीट करने का आरोप लगाया हैं। पीडि़त के गहरी चोट आने पर ग्रामीणों ने टोंक पहुंचकर एसपी से मिलने कार्यालय पहुंचे।

वहां नहीं मिलने पर सभी एसपी आवास जाकर उन्हें ज्ञापन देकर उक्त मामले की जांच करवाकर कार्यवाही की मांग की हैं, जिसको लेकर पीडि़त ग्रामीणों के साथ टोंक पुलिस अधीक्षक कार्यालय पर पहुंचा और एसपी से थानाधिकारी की शिकायत कर थानाधिकारी पर कार्यवाही की मांग की हैं।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned