फ्लोराइड युक्त पानी उगल रहे है जल स्त्रोत, दुषित पानी पीने को मजबूर ग्रामीण

पंचायत में जल स्त्रोत फ्लोराइड युक्त पानी उगल रहे है। ग्रामीण दुषित पानी पीने को मजबूर बने हुए है।

 

पलाई. क्षेत्र की पलाई पंचायत में जल स्त्रोत फ्लोराइड युक्त पानी उगल रहे है। ग्रामीण दुषित पानी पीने को मजबूर बने हुए है। वार्ड पंच श्योजीलाल गुर्जर, बीना देवी धाकड़, राजूलाल धाकड़, माजिद मंसूरी, शंकर माली, बबलू सैन, राजूलाल मीणा आदि ने बताया कि करीब एक दर्जन से अधिक व नलकूप लगे हुए है, जिनमें कुछ चालू है एवं कुछ बंद पड़े हुए है, जो चालू है वह भी फ्लोराइड युक्त पानी दे रहे है। दूषित पानी को पीने से लोगों की हड्डियां कमजोर हो गई है तथा दांत पीले पड़ रहे है।

हर घर में बंटा दर्द
पलाई गांव में लगभग साढ़े तीन हजार की आबादी बसी हुई है। हर परिवार में औसतन एक सदस्य फ्लोराइड के पानी पीने से होने वाले रोगों से ग्रसित है। माजिद व चेतराम धाकड़ ने बताया कि फ्लोराइड युक्त पानी पीने से दस्त दंातों का पीला पडऩा, कमर दर्द आदि रोग हो गए है।


मर्ज का नहीं मिला मरहम
ग्रामीण राजूलाल धाकड़ का कहना है कि फ्लोराइड युक्त पानी पीने से पूरा शरीर में दर्द होता है। चलने फि रने में परेशानी का सामना करना पड़ रहा है। कस्बे एवं क्षेत्र के अस्पतालों में इलाज करवाते है, लेकिन कुछ दिन बाद वापस दर्द शुरू हो जाता है।


युवा हो रहे है शिकार
पलाई पंचायत में फ्लोराइड युक्त पानी पीने से युवा भी बीमारियों का शिकार हो रहे है। गांव की कविता, नसीम, अनिता, सीता, शिमला देवी आदि को अभी से घुटनों और कमर में दर्द रहने लगा है। दांत पीले हो गए है।

उच्चाधिकारियों को करवाएंगे अवगत
ग्राम विकास अधिकारी जसराम मीणा का कहना है कि यदि फ्लोराइड युक्त पानी है तो जांच करवाई जाएगी। मात्रा अधिक पाई गई तो सार्वजनिक स्थानों पर आरओ की व्यवस्था कर जनता को शुद्ध मीठा पानी उपलब्ध करवाया जाएगा। बीसलपुर परियोजना के शोपीस बने हुए पाइंट के मामले पत्र प्रेषित कर उच्चाधिकारियों को अवगत करवाएंगे।

pawan sharma Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned