पेयजल संकट से परेशान ग्रामीण, तीन दिन से जलापूर्ति बाधित

जलदाय एवं बीसलपुर परियोजना विभागीय लापरवाही के चलते तीन दिन से तेलोलाय ढाणी के नल एवं पाइंटों में पेयजल नहीं पहुंच पा रहा है।

By: pawan sharma

Updated: 13 Sep 2021, 05:40 PM IST

दूनी. तहसील मुख्यालय स्थित तेलोलाय ढाणी के नल एवं पाइंटों में जलदाय एवं बीसलपुर परियोजना विभागीय लापरवाही के चलते तीन दिन से पेयजल नहीं पहुंच पा रहा है। हालांकि ग्रामीणों की ओर से गत दिनों प्रदर्शनकर आंदोलन की चेतावनी देने के दूसरे दिन कुछ देर पाइंटों में पेयजल आया, मगर वह नाकाफी होने से ग्रामीणों को फ्लोराइडयुक्त हैण्डपम्प एवं दूर-दराज के स्रोतों से पेयजल लाकर प्यास बुझानी पड़ रही है।

पेयजल संकट से परेशान ग्रामीण अब जलदाय एवं बीसलपुर परियोजना विभाग के खिलाफ आंदोलन की तैयारी में है। ग्रामीण रामनिवास जाट ने बताया की पेयजल संकट से परेशानी को लेकर 8 सितम्बर को दूनी-कालानाड़ा मार्ग पर खाली बर्तनों सहित ढाणी की महिला, पुरुष एवं युवाओं ने प्रदर्शनकर पेयजल सुचारू करने की मांग की थी, हरकत में आए परियोजना विभाग की ओर से 9 सितम्बर को कुछ देर के लिए पाइंटों में पेयजल दिया मगर वह नाकाफी था, इसके बाद बाद आज तक नलों एवं पाइंटों में पानी नहीं आया।


शिवराज बराला, रामलाल बराला सहित अन्य ग्रामीणों ने बताया की फ्लोराइडयुक्त पेयजल से आने वाली पीढ़ी विभिन्न खतरनाक रोगों की चपेट में आ रही है। जल्दी ही पेयजल सुचारू दिए जाने की मांग को लेकर आंदोलन किया जाएगा।

गौरतलब है की गत तीन माह से जलदाय विभाग के नलों एवं बीसलपुर परियोजना के पाइंटों में पेयजल सुचारू करने की मांग को लेकर ग्रामीणों एवं महिलाओं ने कालानाड़ा मार्ग पर खाली बर्तन रखकर दोनो विभागों के खिलाफ प्रदर्शन एवं नारेबाजी की, मगर वहां कोई सुध लेने नहीं आया।


पानी की मोटर चोरी
टोंक . पुरानी टोंक थाना क्षेत्र की सुभाष नगर कॉलोनी के एक मकान स्थित गैराज की कुंदी खोलकर चोर पानी की मोटर ले गए। इसकी रिपोर्ट पीडि़त ने पुरानी टोंक थाने में दी है। मामला गत 10 सितम्बर का है। यह गैराज सुभाष नगर कॉलोनी निवासी बाबूलाल नामा का है। बाबूलाल ने बताया कि मकान नम्बर 18 स्थित गैराज की कुंदी खोलकर चोर पानी खींचने की मोटर ले गए। इसकी रिपोर्ट थाने में दी
गई है।

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned