11 लाख पौधों को नहीं मिल रही है वितरण के लिए तारीख

वन विभाग टोंक जिले में घर-घर तक 11 लाख 68 हजार 416 औषधीय पौधे पहुंचाएगा, जिसकी कार्य योजना विभाग ने पूरी कर ली है अब सिर्फ राज्य सरकार के आदेश की प्रतीक्षा है।

By: pawan sharma

Updated: 22 Jul 2021, 02:02 PM IST

टोंक. वन विभाग टोंक जिले में घर-घर तक 11 लाख 68 हजार 416 औषधीय पौधे पहुंचाएगा, जिसकी कार्य योजना विभाग ने पूरी कर ली है अब सिर्फ राज्य सरकार के आदेश की प्रतीक्षा है। वहीं मानसून का एक माह गुजर जाने के बाद भी तिथि तय नहीं होने से विभाग के अधिकारी भी असमंजस में है। जबकि नर्सरियों में पौधे बढ़े हो रहे है।

वन विभाग टोंक के उपसंरक्षक श्रवण कुमार ने बताया कि हाल ही में राजस्थान में घर-घर तक पौधे पहुंचाने का नवाचार किया गया है, जिसके पीछे हरियालो राजस्थान की संकल्पना को साकार करना है। वन विभाग टोंक की आकर से घर- घर वितरित किए जाने वाले औषधीय पौधों में ऐसे पौधे शामिल किए गए है, जिनका उपयोग कोरोना संक्रमण से बचाव के लिए किया गया था।

इन औषधीय पौधों के जरिए कोरोना जैसी महामारी के संक्रमण को रोकने के लिए व्यक्ति आसानी से उपयोग कर सकेगा, क्योंकि यह औषधीय पौधे उसके घर में ही मिल सकेंगे। वन विभाग मंडल टोंक के उप संरक्षक श्रवण कुमार ने बताया कि टोंक जिले के 1 लाख 32 हजार 775 परिवारों तक 11 लाख 68 हजार 416 पौधे पहुंचाने का लक्ष्य रखा गया है।

उन्होंने बताया कि टोंक जिले सभी 6 रेंज की पंद्रह नर्सरियों में औषधीय पौधे तैयार किए गए है, जिनमें अश्वगंधा, कालमेघ, तुलसी, गिलोय के प्रत्येक प्रजाति के 2 लाख 92 हजार 104 पौधे तैयार किए गए है। ये चार प्रकार के पौधे जिले में प्रत्येक घर-घर में विभाग की ओर से नि:शुल्क उपलब्ध कराया जाएगा।

उप संरक्षक श्रवण कुमार ने रेंज वाइज जानकारी देते हुए बताया कि टोंक रेंज में 30 हजार परिवारों में 2 लाख 64 हजार, मालपुरा रेंज में 20 हजार परिवारों में1 लाख 76 हजार, निवाई रेंज में 22 हजार परिवारों में 1 लाख 93 हजार 600, बीसलपुर रेंज में 15 हजार परिवारों में 1 लाख 32 हजार , उनियारा रेंज में 17 हजार परिवारों में 1 लाख 49 हजार 800 तथा देवली रेंज में 28 हजार 775 परिवारों में 2 लाख 53 हजार 16 औषधीय पौधे पहुंचाए जाएंगे।

तिथि मुख्यमंत्री की ओर से तय की जाएगी। हालाकि नर्सरियों में पौधे बढ़े हो रहे है। आदेश जारी के बाद ही पौधे वितरित किए जाएंगे।
श्रवण रेड्डी, उप संरक्षक, टोंक

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned