सहोदरा बांध से सिंचाई के लिए नहरों में छोड़ा पानी

सहोदरा बांध से सिंचाई के लिए नहरों में छोड़ा पानी

By: pawan sharma

Updated: 20 Nov 2020, 08:21 AM IST

पीपलू (रा.क.). क्षेत्र के सहोदरा बांध से गुरुवार को सिंचाई के लिए नहरों में विधिवत पूजा अर्चना के साथ पानी छोड़ा गया हैं। नहरों में जलधारा बहते ही किसानों के चेहरों पर खुशी की लहर दौड़ पड़ी। कनिष्ठ अभियंता शैलेंद्रसिंह ने बताया कि नहर संगम अध्यक्ष लादूलाल, नंदालाल, विनोद चौधरी, छीतरमल गुर्जर, कजोड़ आदि प्रमुख लोगों की मौजूदगी में बांध की मोरी से नहर में पानी छोड़ा गया हैं। बांध की नहरों से उपखंड क्षेत्र के कैलाशपुरी, रहीमपुरा, नानेर, ठाठा, निमेड़ा आदि गांवों की 1468 हैक्टेयर भूमि सिंचित होगी। बांध में पानी की उपलब्धता के मुताबिक नहर में करीब 40 दिन तक पानी छोड़ा जाएगा।

पूजा अर्चना के बाद बांध से नहरों में छोड़ा पानी

मालपुरा. उपखण्ड क्षेत्र के टोरडी सागर बांध की नहरों को विधिवत पूजा अर्चना के साथ खोली गई।जलदाय विभाग की ओर से खेतों में सिंचाई के लिए बांध के पानी को छोडे जाने को लेकर जिला कलक्टर गोरव अग्रवाल की अध्यक्षता में गतदिनों हुई बैठक के निर्णय के अनुसार नहरों में पानी छोडा गया। नहरों के हेड पर लगे वॉल्व की ग्राम पंचायत सरंपच हेमेन्द्र सिंह, कनिष्ठ अभियंता कोमल कुमावत, जयदेव सिंह सहित वार्ड पंचों ने विधिवत पूजा अर्चना कर नहरें खोली।

कनिष्ठ अभियंता कोमल कुमावत ने बताया कि टोरड़ी सागर बांध में 30 फुट के भराव होने पर 9960 हैक्टेयर भूमि मालपुरा, टोडारायसिंह व पीपलू तहसील के 86 गांवों में सिंचाई की जाती थी, लेकिन इस बार बांध में पानी की आवक आधे से भी कम होने के कारण लगभग 4199 हैक्टयर भूमि में ही सिंचाई हो सकेगी। वर्तमान वर्ष में टोरडी सागर बांध में 30 फुट की भराव क्षमता के मुकाबले 22.5 फुट पानी की आवक है।



किसानों का धरना जारी
टोंक. फसलों में सिंचाई के लिए बीसलपुर बांध की नहरों में पानी छोडऩे की मांग को लेकर किसानों का धरना कई गांवों में गुरुवार को भी जारी रहा। किसानों ने चंदलाई, डारडाहिन्द, अल्लाहपुरा, तारण समेत कई गांवों में अलग-अलग धरना देकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया। धरने पर बैठे किसानों ने बताया कि प्रशासन की ओर से किसानों की मांग के अनुरूप बीसलपुर बांध से नहरों में पानी नहीं छोड़ा गया तो किसान आंदोलन करेंगे। गत दिनों छान देवत माता मंदिर में आयोजित किसान महापंचायत में किए गए निर्णय के अनुसार जिले के किसान मंगलवार से धरना दे रहे हैं। इसके तहत

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned