वैक्सीनेशन की मुहर के बाद ही पात्र राशन कार्ड धारकों को दिया गेहूं

राज्य सरकार की ओर से खाद्य सुरक्षा के तहत दिया जाने वाले गेहूं के लिए कस्बे में राशन कार्ड पर वैक्सीनेशन करवाए जाने की मुहर लगाई जा रही है। वहीं मुहर लगाई जाने के बाद ही खाद्य सुरक्षा में पात्र लोगों को गेहूं वितरित किए जा रहे है। वहीं जिन पात्र लोगों के मुहर नहीं लगा होना पाया जा रहा है उन्हें बेरंग लौटाया दिया गया।

By: pawan sharma

Updated: 18 Sep 2021, 08:18 AM IST

पचेवर. राज्य सरकार की ओर से खाद्य सुरक्षा के तहत दिया जाने वाले गेहूं के लिए कस्बे में राशन कार्ड पर वैक्सीनेशन करवाए जाने की मुहर लगाई जा रही है। वहीं मुहर लगाई जाने के बाद ही खाद्य सुरक्षा में पात्र लोगों को गेहूं वितरित किए जा रहे है। वहीं जिन पात्र लोगों के मुहर नहीं लगा होना पाया जा रहा है उन्हें बेरंग लौटाया दिया गया।


हालांकि लोगों ने इसका विरोध भी जताया, लेकिन उच्चाधिकारियों ने सुनवाई नहीं की। राशन कार्ड पर मोहर लगाने की प्रक्रिया शुरू करने से राजकीय प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्र पचेवर पर लोगों की भीड़ उमड़ पड़ी, जिसके कारण कोरोना गाइडलाइन की धज्जियां उड़ती नजर आई।

दूसरी तरफ कस्बे में नियमित वैक्सीनेशन नहीं होने के कारण लोगों को भी चक्कर लगाने पड़ रहे है। स्वास्थ्य केन्द्र पर राशन कार्ड पर मुहर लगाने वाले शिक्षक रामेश्वर चौधरी ने बताया कि उपखण्ड अधिकारी राम कुमार वर्मा के आदेश पर खाद्य सुरक्षा में चयनित परिवारों के सदस्यों के वैक्सीन लग हुई है। उनके ही राशन कार्ड पर मुहर लगाई जा रही है, जिन परिवारों ने वैक्सीन की प्रथम डोज नहीं लगाई है।उनको सामग्री का वितरण नहीं किया जाएगा।

ऐसा कोई आदेश नहीं
उपखण्ड अधिकारी रामकुमार वर्मा ने बताया कि उन्होंने ऐसा कोई आदेश जारी नहीं किया है। आदेश यह था कि वैक्सीन को लेकर सुनिश्चिता बरती जाए,जिससे वैक्सीनेशन के आंकड़े स्पष्ट हो।
रामकुमार वर्मा, उपखण्ड अधिकारी मालपुरा

जानकारी नहीं
रसद विभाग की ओर से ऐसा कोई आदेश जारी नहीं हुआ है। उपखण्ड अधिकारी ने कोई आदेश जारी किया हो तो पता नहीं है।
विनिता शर्मा, जिला रसद अधिकारी, टोंक

pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned