दिनभर छाए रहे बादल, रुक-रुक होती रही बरसात से बढ़ी सर्दी, लोगों ने अलाव का सहारा

https://www.patrika.com/rajasthan-news/

By: pawan sharma

Published: 03 Mar 2019, 08:23 AM IST

टोंक. इन दिनों फागुन माह चल रहा है, लेकिन मौसम के बदलाव से सावन का सा अहसास हो रहा है। जिलेभर में शनिवार को भी बादल छाए रहे। जिले के कईस्थानों पर रुक-रुककर बरसात हुई। शहर में तो दिनभर सूरज नहीं निकला। ऐसे में लोग सर्दी से कंपकंपाते रहे। दोपहर में कुछ देर बाद बूंदा-बांदी हुई।

 

जबकि मार्चका महीना शुरू हो गया है। मार्चके पहले सप्ताह में सर्दी का असर कम हो जाता है और गर्म कपड़े शरीर से उतर जाते हैं। तेज सर्दी का अहसास देर रात से अलसुबह तक ही होता है,

 

लेकिन इन दिनों लगातार मौसम में आ रहे बदलाव से बादल छाए रहने तथा बरसात होने से सर्दी लगातार बनी हुई है। इसी प्रकार देवली शहर में शनिवार को दिनभर आसमान में बादल छाए रहे तथा तेज सर्दी का अहसास हुआ। इस दौरान जनजीवन प्रभावित रहा। शहरवासी गर्म कपड़ों से लिपटे रहे।

 

आर्थिक नुकसान होने की आशंका
मालपुरा. मुख्यालय पर शनिवार को दिनभर आसमान में बादल छाए रहने व हल्की बरसात से किसानों के चेहरों पर चिंता की लकीरें मंडरा गई। बरसात व ओलावृष्टि होने से आशंकित किसानों को आर्थिक नुकसान होने की आशंका बनी हुई है।

 

इधर, कृषि मण्डी में प्रतिदिन 2 हजार बोरी की आवक होने से अधिकांश सरसों खुले में ही पड़ी हुई है जिससे व्यापारियों को भी जिंस के पानी से खराब होने की आशंका बनी हुई है।


पचेवर. कस्बे में शनिवार सुबह से बूंदाबांदी होती रही। खेतों में सरसों की कटाई कर रहे किसानों को इस बारिश से नुकसान होने से मायुस नजर आ रहे हैं। खेतों में कटी व खड़ी फसलों पर होने वाली बारिश से किसान चिंतित हो रहे हैं। किसान फसल कटाई करने में जुटे हैं।

 

अलीगढ़. कस्बे सहित तहसील क्षेत्र में सुबह से बादलों की आवाजाही व बीच-बीच में बूदांबादी होने से सर्दी बढ़ गई। वहीं बारिश होने पर खेतों में खड़ी फसल व कटी हुई फसल को नुकसान की संभावना बनी हुई है।

इसी प्रकार लाम्बाहरिसिंह मौसम में आए बदलाव के चलते कस्बे में रुक-रुक कर दिनभर बूंदाबांदी हुई। इससे तापमान में गिरावट होने से सर्दी का असर बढ़ गया।

Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned