बिजली के खम्भों पर शहर का सौन्दर्य बिगाड़ रहे झूलते तार व केबल को हटाने की कवायद शुरू

बिजली के खम्भों पर शहर का सौन्दर्य बिगाड़ रहे झूलते तार व केबल को हटाने की कवायद शुरू

Pawan Kumar Sharma | Publish: May, 13 2019 01:03:43 PM (IST) | Updated: May, 13 2019 01:03:44 PM (IST) Tonk, Tonk, Rajasthan, India

ये कार्रवाई इस लिए की जा रही है कि बिजली के खम्बों पर डिश केबल समेत अन्य निजी फर्मों ने लगा दिए हैं।

 

टोंक. शहर के सौन्दर्य पर ग्रहण साबित हो रहे झूलते तारों पर विद्युत वितरण निगम कार्रवाई करेगा। इसकी कवायद निगम ने शुरू कर दी है। इसके लिए निगम के अधीक्षण अभियंता जेके मिश्रा ने अभियंताओं को निर्देश दिए हैं।

 

इसके तहत पहले बिजली के खम्बों तथा तारों के सहारे केबल डालने तथा बोर्ड लगाने वाले को हटाने के लिए सूचित किया जाएगा। इसके बाद निगम बिना सूचना के केबल काट देगी तथा खम्बों पर लगे बॉक्स व अन्य सामान को जब्त कर लेगी। दूसरी ओर नगर परिषद भी इन झूलते तारों पर सख्त हो गई है।

 

परिषद के राजस्व अधिकारी मोतीशंकर नागर भी खम्बों पर लगे तारों को हटाने तथा स्वीकृति के लिए नोटिस जारी करेंगे। ये कार्रवाई दो से तीन दिन में पूरी कर ली जाएगी।

 

ये कार्रवाई इस लिए की जा रही है कि बिजली के खम्बों पर डिश केबल समेत अन्य निजी फर्मों ने लगा दिए हैं। इससे आए दिन बिजली का फाल्ट आ रहा है। वहीं निगम तथा परिषद को राजस्व का नुकसान भी हो रहा है। बड़ी समस्या फाल्ट से निपटने के लिए बिजली के खम्बों पर लगी केबल को हटाने की प्रक्रिया शुरू की गई है।


बाजार के हालात खराब
विद्युत वितरण निगम ने उपभोक्ताओं को घरों तथा प्रतिष्ठानों के कनेक्शन तथा नगर परिषद ने रोड लाइट के लिए शहर में खम्बे लगाकर तार लगाए हुए हैं। इन तारों का जाल पूरे शहर में बिछा हुआ है।

 

शहर की एक भी गली ऐसर नहीं है जहां बिजली के खम्बे तथा तार नहीं जा रहे हैं। इसी का सहारा लेकर केबल डालने वाली निजी फर्मों ने अपनी केबल डाल दी। ये केबल बेतरतबीग ढंग से होने पर जी का जंजाल बनी हुई है।

 

कई बार तो इससे होने वाले फाल्ट से दुर्घटनाएं तक हो चुकी है। सबसे ज्यादा हालात शहर के मुख्य बाजार के हैं। हालांकि निगम तथा परिषद ने शहर के मुख्य बाजार की लाइन को भूमिगत कर दिया, लेकिन अभी तक रोड के दोनों किनारों तथा डिवाइडर के बीच खम्बे लगे हुए हैं। इन पर परिषद तथा निगम के तार नहीं है, लेकिन निजी फर्मों के तार अभी भी झूल रहे हैं।


राजस्व तक नहीं मिला
बिजली के खम्बों पर बैनर पोस्टर लगाने पर यूं तो विद्युत वितरण निगम तथा नगर परिषद तुरंत हरकत में आ जाती है और बैनर लगाने वाले पर कार्रवाई करती है, लेकिन शहर में सालों से बिजली के खम्बों पर लगे बॉक्स तथा केबल पर कभी ध्यान तक नहीं गया।

 

अब तक विद्युत वितरण लगातार हो रहे फाल्ट के कारण से इन्हें हटाने लगी तो नगर परिषद भी आगे आ गई। हालांकि निगम तथा परिषद को केबल तथा बॉक्स लगाने के लिए राजस्व नहीं मिला है।

 

ना ही किसी निजी फर्म ने निगम तथा परिषद से इस सम्बन्ध में अभी तक कोई स्वीकृति ली है। ऐसे में नगर परिषद तथा निगम को बिजली खम्बों पर लगे तार तथा बॉक्स से नुकसान हो रहा है। साथ ही राजस्व का नुकसान भी हो रहा है।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned