महिला निरीक्षक ने कमाण्डेंट पर लगाया यौन उत्पीडऩ का आरोप, इस्तगासे से दर्ज कराया मामला

सीआइएसएफ की रिर्जव बटालियन की एक महिला निरीक्षक ने कमाण्डेंट पर यौन उत्पीडऩ का आरोप लगा हनुमाननगर थाने में जरिए इस्तगासा मामला दर्ज कराया है।

 

By: Vijay

Published: 07 Jul 2020, 06:13 PM IST

देवली. सीआइएसएफ की रिर्जव बटालियन की एक महिला निरीक्षक ने कमाण्डेंट पर यौन उत्पीडऩ का आरोप लगाते हुए मंगलवार को हनुमाननगर थाने में जरिए इस्तगासा मामला दर्ज कराया है। मामले में पीडि़ता ने आरोप लगाया कि गत वर्ष 2 अक्टूबर को राजकीय अवकाश होने के बावजूद कमाण्डेंट ने पीडि़ता को शाम के वक्त कार्यालय में बुलाया। जहां कमाण्डेंट ने पीडि़ता को बुलाकर उसके साथ छेड़छाड़ की, जिसका पीडि़ता ने विरोध किया।

आरोप लगाया कि कमाण्डेंट ने पीडि़ता को चुप रहने को कहा। वहीं बात नहीं मानने पर भविष्य खराब करने की धमकी दी। पीडि़ता ने दर्ज रिपोर्ट में बताया कि इसके बाद से कमाण्डेंट ने उसे मानसिक रुप से प्रताडि़त करना शुरू कर दिया। इसके तहत निरीक्षक स्तर की महिला को गेट पर ड्यूटी लगाकर परेशान करने का प्रयास किया गया। वहीं बटालियन में कार्यरत पीडि़ता के पति को भी परेशान करने का प्रयास किया गया।

इससे आहत होकर पीडि़ता ने गत 23 जनवरी का सीआइएसएफ के पुलिस महानिदेशक को पत्र लिखा। लेकिन मामले में वहां से कोई कार्रवाई नहीं हुई। वहीं पीडि़ता ने अपने अधिवक्ता एस. डी. गुर्जर के जरिए गृह विभाग में विधिक नोटिस प्रेषित किया। कमाण्डेंट की लगातार प्रताडऩा से परेशान होकर पीडि़ता ने इसी वर्ष 11 अप्रेल को सीआइएसएफ महानिरीक्षक उत्तरी खण्ड मुख्यालय महिलापुर नई दिल्ली को शिकायत भेजी।

लेकिन मामले में कहीं से कोई कार्रवाई नहीं हुई। इस पर पीडि़ता ने परेशान होकर जहाजपुर न्यायालय में इस्तगासा का पेश किया। इससे पहले पीडि़ता के अधिवक्ता ने महानिदेशक सीआइएसएफ से सीआरपीसी 1973 की धारा 197 के तहत अपराधिक कार्यवाही शुरु करने अनुमति मांगी थी।

इस पर वरिष्ठ कमाण्डेंट कार्यालय पत्र संख्या 3003 की दिनांक 14 मई 2020 को परिवादी को अनुमति प्रदान की। पीडि़ता का उक्त इस्तगासा मंगलवार दोपहर हनुमाननगर थाने में दर्ज हो गया है। जिसकी जांच एएसआई उम्मेद सिंह के सुर्पुद की है। इस सम्बन्ध में बटालियन कमाण्डेंट के अधीनस्थ कर्मचारियों से उनका पक्ष जानना चाहा, लेकिन कमाण्डेंट ने अपने पक्ष में कहने से मना कर दिया। पुलिस ने मामला दर्ज कर जांच शुरू कर दी है।

Vijay Bureau Incharge
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned