अतिक्रमियों ने बंद कराया मनरेगा कार्य, श्रमिकों ने किया प्रदर्शन

चरागाह में मनरेगा के तहत चल रहे मेड़बंदी एवं पौधारोपण कार्य को अतिक्रमियों की ओर से बंद कराने से नाराज दर्जनों श्रमिकों एवं ग्रामीणों ने शुक्रवार तहसील कार्यालय पहुंच फावड़े एवं तगारियां लहराकर प्रदर्शन कर चरागाह भूमि का सीमाज्ञान करा अतिक्रमण हटवाने का मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा।

By: pawan sharma

Updated: 31 Jul 2021, 08:07 AM IST

दूनी. जूनिया पंचायत के सरोली चरागाह में मनरेगा के तहत चल रहे मेड़बंदी एवं पौधारोपण कार्य को अतिक्रमियों की ओर से बंद कराने से नाराज दर्जनों श्रमिकों एवं ग्रामीणों ने शुक्रवार तहसील कार्यालय पहुंच फावड़े एवं तगारियां लहराकर प्रदर्शन कर चरागाह भूमि का सीमाज्ञान करा अतिक्रमण हटवाने का मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा।


उल्लेखनीय है कि सरोली के चरागाह में मेड़बंदी एवं पौधारोपण कार्य कर रहे श्रमिकों को चरागाह पर काबिज अतिक्रमियों ने कार्य करने से मनाकर दिया। इससे नाराज दर्जनों महिला-पुरुष श्रमिक एवं ग्रामीणों ने सत्यनारायण जाट, शंकरलाल जाट के नेतृत्व में तहसील कार्यालय पहुंचे और साथ लाए फावड़े एवं तगारियां लहरा प्रदर्शन करने लगे, इस दौरान श्रमिकों ने तहसीलदार के खिलाफ भी नारेबाजी की।

तहसील परिसर में प्रदर्शन कर रहे श्रमिकों को देख मौजूद नायब तहसीलदार नीलमराज बांशीवाल ने बाहर आकर श्रमिकों की समस्या सुन भू-अभिलेख निरीक्षक एवं हल्का पटवारी को तत्काल कार्रवाई के निर्देश दिए। इसके बाद श्रमिकों ने चरागाह भूमि का सीमाज्ञान कर अतिक्रमण हटाने की मांग का मुख्यमंत्री के नाम तहसीलदार को ज्ञापन सौंपा। एक घंटे तक चले प्रदर्शन के बाद श्रमिक एवं ग्रामीण अपने घरों को लौटे। ज्ञापन देने वालों में बद्रीलाल, बालूराम, सीताराम, रामस्वरूप, कालूराम, दुर्गाशंकर, प्रेमलाल, मोरपाल व दर्जनों श्रमिक एवं ग्रामीण थे।

नहीं हो रही सुनवाई
मनरेगा श्रमिकों एवं ग्रामीणों ने बताया की चरागाह भूमि पर काबिज अतिक्रमी अब तक कई बार मनरेगा कार्य को रूकवा चुके है, इसकी शिकायत सम्बंधित तहसीलदार, भू-अभिलेख निरीक्षक एवं हल्का पटवारी से कई बार कर चुकेे, लेकिन आज तक सुनवाई नहीं हुई। ग्राम पंचायत जूनियां की ओर से भी तहसील कार्यालय में अतिक्रमियों के खिलाफ कार्रवाई कर अतिक्रमण हटवाने को लिखा गया, लेकिन तहसील प्रशासन के कानों में जूं नहीं रेंगी।

Show More
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned