प्रशासन की नजर सडक़ व बाजार तक, कोरोना वायरस के डर से फसल कटाई के लिए नही मिल रहे श्रमिक

पहले तैयार फसलों की कटाई के लिए दर्जनों श्रमिक मिल जाते थे ,वहीं अभी कोरोना वाइरस के कारण श्रमिक खेतों में काम करने से भी कतराने लगे है।

By: pawan sharma

Published: 27 Mar 2020, 03:00 PM IST

राजमहल. इन दिनों कोरोना वाइरस को लेकर सरकार ने लॉक डाउन कर रखा है। वही लॉक डाउन की पालना में प्रशासन सहित पुलिस भी मुस्तैद नजर आ रही है, लेकिन किसान इन दिनों फसल कटाई से लेकर तैयार माल को मण्डियों तक पहुंचाने में परेशान दिखाई दे रहे है। किसानों ने बताया कि पहले तैयार फसलों की कटाई के लिए दर्जनों श्रमिक मिल जाते थे ,वहीं अभी कोरोना वाइरस के कारण श्रमिक खेतों में काम करने से भी कतराने लगे है।

इसलिए किसानों को अपने परिवार सहित पड़ोसी किसानों को आपसी बारी-बारी फसल कटाई का कार्य करना पड़ रहा है। किसानों ने बताया कि वो सरसों की फसलों की लगभग कटाई कार्य पूर्ण करने के साथ ही तैयार फसल को निकलवा भी ली, लेकिन उसके मण्डी तक पहुंचाने के लिए प्रशासन की ओर से वाहन के पास बनाने आदि जैसी कोई कार्रवाई नहीं की जा रही है, जिसको लेकर किसान तैयार फसल के भण्डारण को लेकर परेशान नजर आ रहे है।

इसी प्रकार इन दिनों किसान गेंहू, जौ, चना आदि की फसल कटाई में लगे हुए है, जिसमें भी क्षेत्र के स्वास्थ्य केन्द्रों में मास्क का अभाव है। ऐसे में किसानों को रूमाल, टॉवल से ही मुहं व नाक को ढक कर फसल काटने में व्यस्त नजर आ रही है।

इनका कहना है- किसानों को मण्डी तक पहुंचने के लिए उपखण्ड अधिकारी कार्यालय से इजाजत लेकर आ-जा सकते है। किसानों को इजाजत दी जाएगी।
रमेश चन्द तहसीलदार देवली।

शहर की मंडियों से फल हुए खत्म
टोंक. कोरोना वायरस को लेकर लगाए गए लॉक डाउन के चलते शहर की मंडियों में भले ही सब्जियां पर्याप्त मात्रा में है, लेकिन फल खत्म हो गए हैं। ऐसे में लोगों को फल नहीं मिल पा रहे हैं। जबकि फिलहाल सब्जियां पर्याप्त मात्रा में है। हालांकि लॉक डाउन के चलते कईसब्जियों का आयात नहीं हुआ तो उनका भी संकट हो जाएगा।

शहर में आलू, लहसुन तथा अदरक की पैदावार नहीं है। जबकि अन्य सब्जियां शहर में हो रही है। इसके चलते आलू, लहसुन व अदरक की कमी हो जाएगी। हालांकि कमी होने पर प्रशासन सब्जियां मंगवाने की तैयारी कर रहा है, लेकिन फिलहाल मंडी में फल नहीं मिल रहे हैं। ऐसे में बाजार में भी फल नहीं है। जो फल अभी बिक रहे हैं, वो काफी दिन पुराने हैं। इनमें मौसमी समेत कई फल तो खराब हो चुके हैं।

Corona virus
pawan sharma
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned