Madhya Pradesh

मध्य प्रदेश

Madhya Pradesh

विवरण :

मध्य प्रदेश भारत के केन्द्र में स्थित एक राज्य है, जिसकी राजधानी भोपाल है। 1 नवम्बर 2000 तक क्षेत्रफल के आधार पर मध्य प्रदेश भारत का सबसे बड़ा राज्य था। छत्तीसगढ़ के गठन के बाद मध्य प्रदेश से ये दर्जा छिन गया। मध्य प्रदेश की सीमाएं पांच राज्यों की सीमाओं से मिलती हैं। इसके उत्तर में उत्तर प्रदेश, पूर्व में छत्तीसगढ़, दक्षिण में महाराष्ट्र, पश्चिम में गुजरात तथा उत्तरपश्चिम में राजस्थान है। मध्य प्रदेश खनिज संसाधनों से समृद्ध है। यहां पर हीरे और तांबे का सबसे बड़ा भंड़ार है। यहां पर अनेक दर्शनीय स्थल है, जो कि इस प्रदेश को पर्यटन उद्योग में भी अग्रणी बनाते हैं।

 

मध्य प्रदेश का इतिहास
मध्यप्रदेश भू-वैज्ञानिक दृष्टि से यह भारत का प्राचीनतम भाग है। यह भूखण्ड हिमालय से भी पुरानी उस संरचना का हिस्सा था, जिसे गोंडवाना महाद्वीप कहा गया है। भारतीय इतिहास का भी मध्यप्रदेश से बहुत पुराना संबंध है। भारतीय इतिहास के अनुसार मध्यप्रदेश के इतिहास को इस तरह बांटा जा सकता है।

- प्रागैतिहासिक मध्यप्रदेश
- पाषाण एवं ताम्रकाल
- प्राचीन काल
- महाकाव्य काल
- महा जनपद काल
- शुंग और कुषाण
- मुगल काल
- भारत का प्रथम स्वतंत्रता संग्राम
- मध्यकाल

 

मध्य प्रदेश की संस्कृति
यहां पर मुख्य तौर पर पांच लोक संस्कृतियां पाई जाती हैं। ये इस प्रकार हैं।
- निमाड़
- मालवा
- बुन्देलखण्ड
- बघेलखण्ड
- ग्वालियर (चंबल)


मध्य प्रदेश - विस्तृत जानकारी
मध्य प्रदेश में कुल जिलों की संख्या 51 है। इनमें 367 तहसीलें हैं एवं 313 विकासखण्ड हैं। वहीं आदिवासी विकासखण्डों की संख्या 89 है।
सन् 2011 की जनगणना के अनुसार मध्य प्रदेश में कुल 476 नगर/शहर हैं एवं कुल ग्राम 54,903 हैँ। यहां पर 16 नगर निगम, 98 नगर पालिकाएं, 264 नगर परिषद्, 22,824 ग्राम पंचायत हैं। इसके अलावा 313 जनपद पंचायत, 51 जिला पंचायत हैं।

 

साल 2015-16 के अनुसार प्रदेश में 11 जोन (आई.जी पुलिस) हैं एवं 15 रेंज (डी.आई.जी. पुलिस) हैं। प्रदेश के जिलों में 51 एसपी एवं 53 कंट्रोल रूम स्वीकृत हैं। प्रदेश में 184 पुलिस उप संभाग, 575 पुलिस चौकियां एवं 1061 थाने स्वीकृत हैं। प्रदेश में 29 लोकसभा सीटें एवं 11 राज्य सभा सीटें हैं। विधानसभा सीटों की संख्या 230 है।


मध्य प्रदेश की भौगोलिक स्थिति
मध्य प्रदेश भारत के बीचोंबीच स्थित है। अक्षांश - 21°6' उत्तरी अक्षांश से 26°30' उत्तरी अक्षांश देशांतर -74°9' पूर्वी देशांतर से 82°48' पूर्वी देशांतर में स्थित हैं। प्रदेश की प्रमुख नदी नर्मदा है। जो कि विंध्य और सतपुड़ा पर्वतमाला के बीच पूरब से पश्चिम की ओर बहती है। मध्य प्रदेश दक्षिण में महाराष्ट्र से, पश्चिम में गुजरात से घिरा हुआ है, जबकि इसके उत्तर-पश्चिम में राजस्थान, पूर्वोत्तर पर उत्तर प्रदेश और पूर्व में छत्तीसगढ़ स्थित हैं। मध्य प्रदेश की सबसे ऊंची चोटी का नाम धूपगढ़ है, जो कि होशंगाबाद जिले के पचमढ़ी में स्थित है, जिसकी ऊंचाई लगभग 1,350 मीटर (4,429 फुट) है।


मध्य प्रदेश की अर्थव्यवस्था
मध्य प्रदेश कृषिप्रधान अर्थव्यवस्था वाला राज्य है। यहां पर गेहूं, सोयाबीन, चना, गन्ना, चावल, मक्का, कपास, राइ, सरसों और अरहर का उत्पादन प्रमुख तौर पर किया जाता है। लघु वनोपज जैसे तेंदू, साल बीज, सागौन बीज, और लाख आदि भी राज्य की ग्रामीण अर्थव्यवस्था के लिए योगदान देते हैं।

मध्य प्रदेश में 5 विशेष आर्थिक क्षेत्र यानि SAZE हैं, जिनमें 3 आईटी/आईटीईएस(इंदौर, ग्वालियर), 1 खनिज आधारित (जबलपुर) और 1 कृषि आधारित (जबलपुर) शामिल हैं। इंदौर, राज्य का प्रमुख वाणिज्यिक केंद्र है। राज्य के केंद्र में स्थित होने के कारण, यहाँ कई उपभोक्ता वस्तु कंपनियों ने अपनी विनिर्माण केंद्रों की स्थापना की है।

मध्य प्रदेश में देश का हीरे और तांबे का सबसे बड़ा भंडार है। अन्य प्रमुख खनिज भंडारों में कोयला, कालबेड मीथेन, मैंगनीज और डोलोमाइट शामिल हैं।
मध्य प्रदेश में 6 आयुध कारखाने, जिनमें से 4 जबलपुर (वाहन निर्माणी, ग्रे आयरन फाउंड्री, गन कैरिज फैक्टरी, आयुध निर्माणी खमरिया) में स्थित है, बाकि एक-एक कटनी और इटारसी में हैं। यहां पर भारतीय सशस्त्र बलों के लिए उत्पादों का निर्माण किया जाता हैं।

 

मध्य प्रदेश में पर्यटन
मध्य प्रदेश में पर्यटन उद्योग भी जोर-शोर से बढ़ रहा है, वन्यजीव पर्यटन और कई संख्या में ऐतिहासिक और धार्मिक महत्व के स्थानों की उपस्थिति इनका मुख्य कारण हैं। सांची और खजुराहो में विदेशी पर्यटकों की भीड़ लगी रहती है। प्रमुख शहरों के अलावा अन्य लोकप्रिय पर्यटन स्थलों में भेड़ाघाट, भीमबेटका, भोजपुर, महेश्वर, मांडू, ओरछा, पचमढ़ी, कान्हा और उज्जैन शामिल हैं।

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK