आप नहीं जानते होंगे कुमार विश्वास की ये 10 बातें

By: Preeti Khushwaha
| Updated: 10 Feb 2018, 03:15 PM IST
आप नहीं जानते होंगे कुमार विश्वास की ये 10 बातें
Kumar Vishwas

कुमार विश्वास आज 47 साल के हो चुके हैं। कुमार विश्वास ने खुद को न सिर्फ कविताओं तक सीमित रखा है बल्कि उन्होंने कुछ समय से वो राजनीति में भी सक्रीय है

कोई दीवाना कहता है, कोई पागल समझता है! मगर धरती की बेचैनी को बस बादल समझता है!! मैं तुझसे दूर कैसा हूं, तू मुझसे दूर कैसी है! ये तेरा दिल समझता है या मेरा दिल समझता है!! ये कविता हर उम्र के लोगों को दिल को धकड़ा देती है। आज इसी कविता को जन्म देने वाले कुमार विश्वास का जन्म दिन है। हिंदी कविता की प्रसिद्ध कविताओं में कुमार विश्वास की अधिकतर कविताएं शुमार है। आज उन्हीं कुमार विश्वास का जन्मदिन है। कुमार विश्वास आज 47 साल के हो चुके हैं। कुमार विश्वास ने खुद को न सिर्फ कविताओं तक सीमित रखा है बल्कि उन्होंने कुछ समय से वो राजनीति में भी सक्रीय है। आज हम आपको कुमार के बारे में 10 ऐसी बातें बताने जा रहे हैं जिनसे शायद अबतक आप अंजान हों...

 

Kumar Vishwas

1. कुमार विश्वास का जन्म 10 फरवरी 1970 को उत्तर प्रदेश के गाजियाबाद में पिलखुवा में हुआ था।

2. कुमार के पिता पिता डॉ चंद्र पाल शर्मा आरएसएस डिग्री कॉलेज में एक लेक्चरर के पद पर रहे। वहीं उनकी मां राम शर्मा हाउस वाइफ थीं।

3. इनके पिता चाहते थे कि कुमार इंजीनियर बनें, लेकिन इनका इंजीनियरिंग की पढ़ाई में मन नहीं लगता था। वह कुछ अलग करना चाहते थे, इसलिए उन्होंने बीच में ही पढ़ाई छोड़ दी और हिंदी साहित्य में 'गोल्ड मेडेल' के साथ स्नातक की डिग्री हासिल की।

4. बता दें कि कुमार विश्वास ने हिंदी साहित्य में मास्टर ऑफ आर्ट्स (एमए) की डिग्री प्राप्त की है। यहीं नहीं उन्होंने इसी में डॉक्टरेट की उपाधि भी हासिल की।

5. वह 1994 में प्रोफेसर के रूप में राजस्थान कॉलेज में पढ़ाना शुरु किया। वो यहां सन् 2000 तक रहे। यहां से छोड़ने के बाद उन्होंने गाजियाबाद में लाला लाजपत राय कॉलेज में हिंदी साहित्य पढ़ाना शुरु किया।

Kumar Vishwas

6. पढ़ाने के साथ ही उनका रुझान राजनीति की ओर भी रहा। जिसके चलते उन्होंने गांधीवादी कार्यकर्ता अन्ना हजारे के साथ मिलकर भ्रष्टाचार विरोधी आंदोलन का समर्थन किया।

7. कुमार विश्वास अपने राष्ट्रीय कार्यकारी के सदस्य के रूप में आप में शामिल हुए। उन्होंने मुख्य रूप से पार्टी के साइबर विंग को संभाला और रैलियों की व्यवस्था की।

8. 2014 में, कुमार विश्वास ने उत्तर प्रदेश में अमेठी से लोकसभा चुनाव लड़ा, लेकिन कांग्रेस उपाध्यक्ष राहुल गांधी से हार गए।

9. उन्होंने मुख्य रूप से रोमांटिक कविता लिखी हैं। यही नही उन्होंने चौधरी चरण सिंह विश्वविद्यालय, मेरठ के लिए यूनिवर्सिटी गान भी लिखा है।

10. कुमार विश्वास भारत और विदेशों में संयुक्त राज्य अमेरिका, दुबई, सिंगापुर, और जापान सहित कई जगह अपनी कविताओं का प्रोग्राम किया।