उदयपुर की आयड़ नदी को निखारने का रोड मेप तैयार, अब बदलेगी कायाकल्प

- खूबसूरत बनाने से पहले अफसरों ने देखी आयड़ नदी की डर्टी पिक्चर

 

By: madhulika singh

Published: 11 Sep 2017, 12:52 AM IST

उदयपुर . शहर के बीच से गुजरने वाली आयड़ नदी के कायाकल्प पर अब काम शुरू किया जा रहा है। नदी के अभी क्या हाल हैं और इसे कैसे खूबसूरत बना सकते हैं, इसके लिए रविवार को अधिकारियों ने आयड़ की डर्टी पिक्चर देखी तो बहुत  लगा लेकिन उन्होंने संकल्प दोहराया कि सब मिलकर आयड़ को सुंदर और स्वच्छ बना देंगे। इधर, राजस्थान अरबन इंफास्ट्रक्चर डवलपमेंट प्रोजेक्ट (आरयूआईडीपी) ने इसके लिए 120 करोड़ रुपए के कार्यादेश जारी कर दिए है। संभावना है कि गांधी जयंती से पहले कार्य शुरू कर दिया जाएगा।

 

READ MORE : अब एईएन निपटाएंगे वीसीआर, उदयपुर जिले में बकाया है 1.19 करोड़ रुपए 

 

जिला कलक्टर बिष्णुचरण मल्लिक के नेतृत्व में अधिकारियों ने रविवार को आयड़ की बदहाली देखी और इस स्थिति में सुधार पर चर्चा करते हुए कार्ययोजना बनाई। दौरे में आयड़ में गिरते छोटे-बड़े गंदे नाले तथा गंदगी के ढेर देखने को मिले। अफसरों ने नदी पेटे में विभिन्न स्थलों पर जाकर वस्तुस्थिति देखी। दल ने अहिंसापुरी श्मशान से लेकर ठोकर चौराहा स्थित रेलवे पुलिया तक करीब साढ़े चार किलोमीटर नदी को लेकर कार्ययोजना तैयार की। कलक्टर ने बताया कि 2 अक्टूबर से यह कार्य शुरू करने की योजना है और गुमानिया वाळा पर आलू फैक्ट्री पुलिया से आयड़ संगम तक का 900 मीटर का इलाका भी इसमें शामिल किया गया है। आयड़ के इस कार्य में नगर निगम, यूआईटी, वन विभाग, सिंचाई विभाग के साथ ही सामाजिक उत्तरदायित्व के तहत मिराज, जेके, आर.के. मार्बल, हिंदुस्तान जिंक, आरएसएमएमएल, वंडर सीमेंट तथा यूसीसीआई जैसे संगठनो की भागीदारी भी ली जाएगी। दौरे में नगर निगम आयुक्त सिद्धार्थ सिहाग, एडीएम (सिटी) सुभाषचंद्र शर्मा, एडीएम (प्रशासन) सीआर देवासी, यूआईटी सचिव रामनिवास मेहता, नगर निगम एसई अरुण व्यास, एसीएफ डीके तिवारी शामिल थे।

 

चरणबद्ध आयड़ को निखारेंगे

- नदी में झाडिय़ों और मलबे की सफाई।

- नदी पेटे से गंदगी निकाली जाएगी।

- नदी पेटे में गिर रहे 139 गंदे नालों को बंद किया जाएगा और एसटीपी से जोड़ा जाएगा।

- नदी पेटे में चिह्नित अतिक्रमण हटाने पर कार्य होगा।

- दोनों किनारों पर पार्क एवं पाथ-वे बनाए जाएंगे।

आठ खंडों में बांटा आयड़ नदी के इलाकों को

1. अहिंसापुरी श्मशान से शहीद भगत सिंह कच्ची बस्ती

2. भगतसिंह कच्ची बस्ती से कृष्णा कॉलोनी जंक्शन तक

3. कृष्णा कॉलोनी से गुमानिया वाळा जंक्शन

4. गुमानिया जंक्शन से भूपालपुरा पुलिस चौकी तक

5. पुलिस चौकी से सीपीएस स्कूल पुलिया तक

6. सीपीएस पुलिया से लेकसिटी मॉल पुलिया तक

7. मॉल से ठोकर पुलिया तक

8. ठोकर पुलिया से ठोकर रेलवे पुलिया

 

इसी माह शुरू हो सकते हैं काम
इधर, आयड़ नदी में इसी महीने (आरयूआईडीपी) 1२0 करोड़ रुपए का कार्य शुरू कर सकती है, इसके लिए कार्यादेश हो चुके हैं। यह तैयारी है कि दो अक्टूबर से पहले काम शुरू कर दिया जाए। इस बजट में से 70 करोड़ रुपए से 22 किलोमीटर ट्रंक लाइन बिछाई जाएगी जिससे छोटे-बड़े 40 नाले कवर होंगे। एक तरह से गंदा पानी नदी मेंं गिरना बंद हो जाएगा। इसके बाद नगर निगम को आयड़ में कूड़ा फेंकने वालों पर ही निगरानी रखनी होगी। पंचवटी से नदी पेटे में कोजवे तक नाला बनाया जाएगा और बची राशि से तीन वार्डों में सीवरेज का कार्य किया जाएगा।

 

madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned