उदयपुर में पतंग उड़ा रहे थे दो भाई और अचानक क्या हुआ...

पतंगबाजी के दौरान हुुए हादसे से माहौल में पसरा गम

By: jitendra paliwal

Published: 10 May 2020, 10:32 AM IST

उदयपुर. शहर के हिरणमगरी सेक्टर-5 में पतंग उड़ाने के दौरान बिजली लाइन से करंट लगने से दो बच्चों की मौत हो गई। दोनों के शव अंतिम संस्कार शनिवार सुबह किया जाएगा। इस हादसे से पूरे इलाके में शोक व्याप्त हो गया।
हिरणमगरी थाना अधिकारी डॉ. हनुवंत सिंह ने बताया कि गायत्री नगर में एक ही मकान में रहने वाले खेमचंद सिंधी का पुत्र नमन (13) और हरीश सिंधी का बेटा हार्दिक (14) शाम को घर की छत पर पतंग उड़ा रहे थे। इस दौरान पतंग उड़कर घर के सामने बिजली व टेलीफोन के तारों में जा उलझी। पतंग छुड़ाने के लिए बालकनी में आ गए। नमन लोहे का पाइप लेकर तारों में उलझी पतंग को निकालने की कोशिश करने लगा, इसी दौरान तीन फीट दूर से गुजरती 11 हजार केवी की बिजली लाइन को पाइप छू गया। नमन को करंट लगने का आभास होते ही हार्दिक उसे छुड़ाने के लिए पास गया तो उसे भी करंट लगा और दोनों झटके से दूर जा गिरे। बच्चे न तो करंट से जले न ही पाइप से चिपके। पड़ोसी मनीष जिनवानी ने यह नजारा देखा तो तुरंत परिजनों को सूचित किया। दोनों बच्चों को तुरंत अस्पताल ले जाया गया, जहां चिकित्सकों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया। दोनों के शव मुर्दाघर में रखवाया गया है। शनिवार सुबह अंतिम संस्कार किया जाएगा।
दोनों एक ही कक्षा में पढ़ते थे
नमन के पिता खेमचंद और हार्दिक के पिता हरीश दोनों सगे भाई हैं। नमन व हार्दिक कक्षा छह में पढ़ते थे। एक ही घर में दो मासूमों की अचानक मौत से पूरा परिवार सदमे में है। आस-पड़ोसियों के घर में भी शाम का खाना नहीं बना।

jitendra paliwal Desk
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned