सरेआम चोरियां कर जा बैठा ससुराल में, क्या सोचा था पुलिस पकड़ नहीं पाएगी?

थाना पुलिस ने पिछले 15 दिनों में सरेआम चोरी की दो वारदातें करने वाले दो बदमाशों को पकड़ा है।

Ashish Joshi

July, 0803:39 PM

थाना पुलिस ने पिछले 15 दिनों में सरेआम चोरी की दो वारदातें करने वाले दो बदमाशों को पकड़ा है। दोनों उस गिरोह से जुड़े बताए जाते हैं, जो भीण्डर के अलावा उदयपुर, चित्तौडग़ढ़ और इंदौर में भी वारदातें कर चुका है।


थानाधिकारी हिमांशुसिंह ने बताया कि भीण्डर में हुई दोनों वारदातों के मद्देनजर टीम 3-4 दिनों से करीबी थाना क्षेत्र के अपराधियों की वारदातों के तौर-तरीकों की जानकारी जुटा रही थी। इस बीच 6 जुलाई को मुखबिर से सूचना मिली कि मोटरसाइकिल पर आकर लूट की वारदातें करने वाला पीथलवड़ी (छोटीसादड़ी) निवासी सद्दाम पठान अपने ससुराल बिनोता (निम्बाहेड़ा) में ठहरा है। 



READ MORE: शादी का झांसा देकर किया पहले ये गलत काम, फिर वॉट्सअप से खुला लड़के का राज





टीम ने डिटेन करने के बाद बिनोता चौकी लाकर उससे पूछताछ की। हुलिया भी मिलाया, जो भीण्डर में हुई वारदात के मुल्जिम से मेल खा गया। उसी ने बताया कि पीथलवड़ी ंनिवासी लाल खान पठान वारदात वाले दिन उसके साथ था। लाल खान को घर पर दबिश देकर पकड़ लिया गया। सद्दाम पुत्र इस्माईल खान पठान व लाल खान उर्फ लाला पुत्र रफीक खान पठान ने बताया कि उनके गैंग में नियाज मोहम्मद, आजाद मोहम्मद, भगवाना डांगी व कमल भी शामिल हैं। 


दो-तीन सदस्य मोटरसाइकिल पर सवार होकर मौका मिलते ही लूट की वारदात कर देते। गैंग के सरगना सद्दाम खान पर कई थानों में मामले दर्ज हैं। सद्दाम और लाला ने 20 जून को रामपोल बस स्टैंड से नकदी से भरा बैग ले भागने व 29 जून को दवेला तालाब पर महिला की नथ खींचने की वारदात कबूल की है। दोनों बदमाशों ने बताया कि भीण्डर की घटनाओं से करीब 2-3 माह पहले उदयपुर शहर में सवीना मण्डी के गेट से व्यापारी से एक लाख 30 हजार से भरा बैग ले उड़े थे। चित्तौड़ के डूंगला क्षेत्र में ऐलवामाता पेट्रोल पम्प पर लूट की वारदात को अंजाम दिया।


 चित्तौड़ शहर में फव्वारा चौक पर व्यापारी से 80 हजार की लूट की। इन्द्रौर शहर में एसबीआई बैंक के सामने दो बार बैंक से पैसे लेकर निकलते लोगों को लूटा। जिसमें करीब एक बार ढाई लाख तो दूसरी बार एक लाख 70 हजार की लूट थी।



READ MORE: मूक बधिर विद्यालय के प्रधानाध्यापक की ये व्यथा आपकी भी आंखों को नम कर देगी, हर तरह से योग्य होने के बावजूद लेना पड़ा ये बड़ा फैसला 




व्यापारियों पर नजर रखकर करते थे वारदात

दोनों आरोपियों ने बताया कि पूरे क्षेत्र में कस्बे, शहर, गांव आदि जगहों पर बाजार में घूमते-घूमते व्यापारी या रुपये वाले व्यक्ति पर नजर रखकर वारदातों को अंजाम देते थे। इसमें कई बार वह 2-3 दिन रुक करके भी नजर रखते थे।



पुलिस टीम में थे यह सदस्य

वारदात को खोलने में थानाधिकारी हिमांशु सिंह राजावत, सहायक उपनिरीक्षक लालशंकर मीणा, कॉस्टेबल ङ्क्षहगलाजदान, सचिन कुमार, अुर्जन सिंह सांरगदेवोत, राजुराम विश्रोई, तख्तसिंह चौहान, रतनलाल जाट आदि शामिल हैं।

Show More
Ashish Joshi
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned