मध्यप्रदेश से जुड़े हैं नकली नोट चलाने वालों के तार

पुलिस टीम पहुंची मध्यप्रदेश, नकली नोट रखने के आरोपी रिमांड पर, मुख्य आरोपी ने गाड़ी खरीदने के बदले थमाए नकली नोट

By: Pankaj

Published: 19 Nov 2020, 01:48 PM IST

उदयपुर. अम्बामाता थाना क्षेत्र के सज्जननगर में नकली नोट लाने वाले के तार मध्यप्रदेश से जुड़े हैं। मुख्य आरोपी की तलाश में पुलिस मध्यप्रदेश पहुंच गई है। इधर, पराठा सेंटर चलाने वाले जिन युवकों से 6 लाख के नकली नोट मिले हैं, उन्हें चार दिन के पुलिस रिमांड पर भेजा है।

मामले की जांच कर रहे सूरजपोल थानाधिकारी रामसुमेर मीणा ने बताया कि सज्जननगर में हिंद पराठा सेंटर संचालक सद्दाम खान पुत्र रफीक खान और आमीन उर्फ सोनू पुत्र नसीम खान को गिरफ्तार किया गया था। उन्हें चार दिन के रिमांड पर भेजा गया है। इधर, दोनों को नकली नोट देने वाले वसीम नामक आरोपी की तलाश की जा रही है। मूलत: कोटड़ा निवासी वसीम का ससुराल मध्यप्रदेश के जावरा में है। वह जावरा में ही रहता है, लिहाजा नकली नोट का काम भी वहीं से जुड़ा हुआ है। वसीम की मोबाइल लोकेशन के आधार पर पुलिस टीम को मध्यप्रदेश के लिए रवाना किया गया।

गाड़ी की सौदेबाजी का खेल
इधर, बताया गया कि आरोपी सद्दाम खान के उदयपुर में ही निवासरत मामा की कार बेचनी थी। सद्दाम ने गाड़ी बेचने की बात वसीम से की। वसीम कार का सौदा करने उदयपुर आया। वह गाड़ी के बदले छह लाख के नकली नोट थमा गया। सद्दाम औ आमीन पुलिस में जाने से डर गए और अपने स्तर पर ही नकली नोट चलाने की कोशिश की। इसका खुलासा होते ही पुलिस ने पकड़ लिया।
यह था मामला

पुलिस की स्पेशल टास्क फोर्स व अम्बामाता थाना पुलिस ने सज्जननगर में ठेला संचालक से 6 लाख के नकली नोट बरामद किए थे। आरोपी सेन्टर जेल के पास कोटड़ा छावनी, हाल लालमगरी अहमद हुसैन कॉलोनी निवासी सद्दाम खान पुत्र रफीक खान और दूसरा आमीन उर्फ सोनू पुत्र नसीम खान को गिरफ्तार किया था। उनके कब्जे से पांच-पांच सौ के नकली नोट की 12 गड्डियां (कुल 1200 नोट) मिले, जो करीब 6 लाख रुपए मूल्य की नकली भारतीय मुद्रा है।

Show More
Pankaj Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned