कोरोना काल में हवाई सफर सुरक्षित, उदयपुर एयरपोर्ट पर बढ़ा यात्री भार

- जून से लेकर अगस्त माह में यात्रियों की संख्या में दोगुनी बढ़ोतरी, यात्री भी हवाई सफर को अन्य साधनों से मान रहे ज्यादा सुरक्षित

By: madhulika singh

Published: 23 Sep 2020, 02:21 PM IST

उदयपुर. कोरोना महामारी और लॉकडाउन के कारण प्रभावित हुई हवाई सेवाएं अब फिर से पटरी पर आ रही हैं। पिछले तीन माह में जहां उड़ानों की संख्या में इजाफा हुआ है, वहीं, यात्रियों की संख्या में भी बढ़ोतरी हुई है। एयरपोर्ट प्रशासन की ओर से जारी आंकड़ों पर नजर डालें तो जून से अगस्त माह में यात्रियों की संख्या में दोगुनी बढ़ोतरी देखी गई है। वहीं, आने वाले समय में ये संख्या और बढऩे की संभावना है। वहीं, यात्री भी हवाई सफर को दूसरे साधनों से ज्यादा सुरक्षित मानते हैं।


नवरात्र-दिवाली पर और बढ़ेगी संख्या

नवरात्र, दिवाली और आने वाले वेडिंग सीजन को देखते हुए अनुमान लगाया जा रहा है कि यात्री भार बढ़ सकता है। उदयपुर एयरपोर्ट निदेशक नंदिता भट्ट के अनुसार एयरपोर्ट प्रशासन इसके लिए तैयार है और कोविड-19 की गाइडलाइंस की पूरी पालना करते हुए यात्रियों की सुरक्षा का पूरा ध्यान रख रहा है। एयरपोर्ट पर हर जगह सफाई व्यवस्था, बायो वेस्ट डिस्पोजेबल्स से लेकर सेेनेटाइजेशन मशीन आदि लगाई गई है, जिससे यात्री खुद की पूरी सुरक्षा कर सकते हैं। यात्री भी हवाई सफर करना अधिक सुरक्षित मानते हैं। पिछले महीनों में यात्री भार बढ़ा है और आगे भी बढऩे की पूरी संभावना है।
वर्तमान में 3 दिल्ली, 2 मुंबई और 1 बेंगलूरू के लिए उड़ान है। इंडिगो, एयर इंडिया और विस्तारा की फ्लाइट्स आ रही है।

क्वॉरंटीन नियमों में मिली राहत तो बढ़ रहे यात्री
अब एयरपोर्ट अथॉरिटी ऑफ इंडिया ने घरेलू यात्रियों के लिए काफी हद तक नियमों में राहत प्रदान की है। कई राज्यों ने अब यात्रियों के संस्थागत व होम क्वॉरंटीन के नियमों को हटा दिया है। ऐसे में यात्री भी अब क्वॉरंटीन किए जाने के भय के बिना यात्रा करने लगे हैं। राजस्थान में सभी घरेलू यात्रियों के लिए केवल एयरपोर्ट पर थर्मल स्क्रीनिंग ही जरूरी रखी गई है। वहीं, सिम्प्टोमेटिक यात्रियों के लिए कोविड टेस्ट जरूरी है। क्वॉरंटीन की बात की जाए तो अब होम क्वॉरंटीन भी खत्म कर दिया गया है। सिम्प्टोमेटिक यात्रियों को आइसोलेट कर नजदीकी स्वास्थ्य केंद्र पर ले जाना अनिवार्य है। वहीं, अंतरराष्ट्रीय यात्रियों के लिए थर्मल स्क्रीनिंग, सिम्प्टोमेटिक यात्रियों के लिए कोविड टेस्ट और सेल्फ डिक्लेयरेशन फार्म भी जरूरी है। सभी यात्रियों के लिए 7 दिन का संस्थागत और होम क्वॉरंटीन जरूरी है।


उदयपुर एयरपोर्ट पर इस तरह बढ़ा यात्रीभार -

अप्रेल - 3
मई - 716

जून- 3820
जुलाई- 6498

अगस्त - 13583

उदयपुर एयरपोर्ट पर इस तरह बढ़ी आने-जाने वाली उड़ानों की संख्या
अप्रेल - 7

मई - 76
जून- 141

जुलाई- 183
अगस्त - 245

(स्रोत: उदयपुर एयरपोर्ट प्रशासन)

Corona virus
madhulika singh Reporting
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned