राजस्‍थान की सभी पालिकाओं में हुई ‘अन्नपूर्णा रसोई’ की शुरुआत लेकिन उदयपुर की इन 4 पालिकाओं में आने में देरी...

राजस्‍थान की सभी पालिकाओं में हुई ‘अन्नपूर्णा रसोई’ की शुरुआत लेकिन उदयपुर की इन 4 पालिकाओं में आने में देरी...

Mukesh Hingar | Publish: Oct, 16 2017 06:53:29 PM (IST) Udaipur, Rajasthan, India

प्रदेशभर में शुरुआत, भींडर, फतहनगर, कानोड़ व सलूंबर में भी लगेगी गाडिय़ां

उदयपुर . प्रदेश की सभी नगर पालिकाओं के लिए सोमवार को अन्नपूर्णा रसोई योजना शुरू की जाएगी। शुरुआत अजमेर से मुख्यमंत्री करेगी। उदयपुर जिले की चारों नगर पालिकाएं भी इसकी जद में हैं, लेनिक फिलहाल उदयपुर की पालिकाओं में अन्नपूर्णा रसोई वाहन उपलब्ध नहीं हो पाएंगे। योजना शुरू होने के साथ ही जैसे-जैसे वाहन उपलब्ध होंगे, पालिकाओं में पहुंचाए जाएंगे।

राज्य सरकार ने गत वर्ष दिसम्बर में 12 शहरों में कुल 80 अन्नपूर्णा वैन लगाई, जिन पर रियायती दर से भोजन दिया जा रहा है। सरकार ने यह सुविधा सभी नगर पालिकाओं में लागू करने की बात कही। उसी के तहत सोमवार को सभी नगर पालिकाओं में आग्‍ााज हुआ। उदयपुर जिले की नगर पालिकाओं में अभी वैन नहीं पहुंची है। फतहनगर-सनवाड़, भींडर, कानोड़ व सलूंबर नगर पालिकाओं में इसकी शुरुआत होना प्रस्तावित है।
--

5 रुपए में नाश्ता, 8 में भोजन
योजना के तहत सभी श्रेणियों के जरुरतमंदों, श्रमिकों, रिक्शा-ऑटो संचालकों व अन्य असहाय व्यक्तियों को नाश्ता 5 रुपए में, दोपहर और रात का भोजन 8 रुपए में उपलब्ध कराया जाएगा।

 

READ MORE: उदयपुर के इस मेडिकल कॉलेज की लैब के हैं ये हाल, दिखावा कुछ और हकीकत कुछ

 

--
वर्तमान स्थिति--

जिला... वैन...
जयपुर... 25

कोटा ... 10
उदयपुर... 05

जोधपुर ... 05
अजमेर... 05

बीकानेर ... 05
भरतपुर... 05

बारां... 03
बांसवाड़ा... 04

डूंगरपुर... 04
प्रतापगढ़... 03

झालावाड़... 06
--

इनका कहना है...
सभी निकायों में अन्नपूर्णा रसोई वैन शुरू की जा रही है। हमारा प्रयास है कि शुरुआत के साथ ही सभी पालिकाओं में रसोई वैन पहुंचा कर, सेवा शुरू करवा देंगे।

- पवन अरोड़ा, निदेशक (डीएलबी)

 

READ MORE: DIWALI 2017: दिवाली का महीना और माथे पर पसीना, पूरे राजस्‍थान की है ये हालत.. किसका है असर, जानें video..

 

200 किग्रा नकली मिल्क केक सीज

उदयपुर . दीपावली पर विशेष अभियान के तहत चिकित्सा एवं स्वास्थ्य विभाग के खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने एक व्यापारी के भूपालपुरा स्थित गोदाम से 200 किलोग्राम मिलावटी मिल्क केक बरामद किया। पहले तो व्यवसायी ने माल के खुद का होने से इनकार किया। बाद में सख्ती से हुई पूछताछ पर व्यापारी ललित मनवानी ने मिलावटी मिल्क केक पर मालिकाना हक स्वीकार किया। खाद्य सुरक्षा अधिकारी अनिल भारद्वाज के निर्देश पर माल को व्यापारी के धानमंडी की नाल स्थित ललित इंटरप्राइजेज के नाम से संचालित प्रतिष्ठान में पहुंचाया गया। मौका कार्रवाई करते हुए खाद्य सुरक्षा अधिकारी ने मिलावटी माल को सीज किया। यह मिल्क केक 6 पेटियों में अलवर से आना सामने आया है। प्राथमिक अनुभव के हिसाब से इसमें यूरिया मिक्स होने की पुष्टि तो नहीं हुई है, लेकिन सोयाबीन का तेल और रिफाइंड तेल मिक्स होना स्पष्ट है। रविवार होने के कारण सीज माल को लैब में नहीं पहुंचाया जा सका है। आगे की कार्रवाई सोमवार को होगी। माल में मिलावट साबित होने के बाद व्यापारी के खिलाफ कानूनी कार्रवाई होगी।

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

खबरें और लेख पढ़ने का आपका अनुभव बेहतर हो और आप तक आपकी पसंद का कंटेंट पहुंचे , यह सुनिश्चित करने के लिए हम अपनी वेबसाइट में कूकीज (Cookies) का इस्तेमाल करते हैं। हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति (Privacy Policy ) और कूकीज नीति (Cookies Policy ) से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned