774 में से 635 स्वास्थ्य कर्मियों को लगाए गए एंटी कोरोना वैक्सीन के टीके

.िजले में एंटी कोरोना वैक्सीन कोविशिल्ड का टीकाकरण रविवार को छोड़कर सोमवार को दूसरे दिन फिर किया गया। इसमें जिले के 774 में से 635 स्वास्थ्य कर्मियों ने टीके लगवाए। यानी 82.04 प्रतिशत उपलब्धि रही। दूसरी ओर 234 पुरुषों और 401 महिला स्वास्थ्य कर्मियों ने टीके लगवाए। खास बात ये रही कि आरएनटी मेडिकल कॉलेज में दो कार्मिकों की तबीयत बिगड़ी लेकिन बाद में उपचार से सामान्य किया गया। जिले में चार नए केन्द्रों पर मंगलवार को टीकाकरण होगा, जबकि चार केन्द्र पर टीकाकरण पूर्ण होने से बंद किया गया। - दूसरे दिन

By: bhuvanesh pandya

Published: 21 Jan 2021, 09:08 AM IST

भुवनेश पंड्या

उदयपुर. उदयपुर में सोमवार को 774 में से 635 स्वास्थ्य कर्मियों को एंटी कोरोना वैक्सीन के टीके लगाए गए। पहले दिन ये लक्ष्य 900 था, जबकि दूसरे दिन कुछ चिकित्सा केन्द्रों पर कार्मिकों की संख्या कम होने के कारण लक्ष्य 900 से कम होकर स्वत: 774 ही रह गया। पूर्ण टीकाकरण जिले के दो केन्द्रों पर लक्ष्य पूर्ण हुआ, जिसमें नाई पर कुल 100 में से 100 लोगों ने और बडग़ांव में 90 में से 90 लोगों ने टीकाकरण करवाया, यानी यहां लक्ष्य की तुलना में शत प्रतिशत टीके लगे। आरएनटी में दो लोग टीके से बीमार हुए, हालांकि इनका स्वास्थ्य बाद में सामान्य हो गया। चार नए केन्द्रों पर मंगलवार को टीके लगेंगे, जबकि चार केन्द्रों पर टीकाकरण पूर्ण होने के कारण वहां अब रोक दिया गया है।

----

चिकित्सालय का नाम- लक्ष्य- कुल टीके लगे (पुरुष-महिलाएं)- बीमार हुए - टीकाकरण प्रतिशत

- आरएनटी मेडिकल कॉलेज- 100- 59 (37-22)- 2- 59 प्रतिशत

- सेटेलाइट हॉस्पिटल से. 6- 74- 58 (41-17)- 0- 78 प्रतिशत

- सेटेलाइट हॉस्पिटल चांदपोल- 57- 34 (20-14)-0- 59 प्रतिशत

- एसडीएच सलूम्बर- 75- 61 (28-33)- 0- 81.33 प्रतिशत

- सीएचसी भींडर- 100- 77 (19-58)- 0- 77 प्रतिशत

- सीएचसी मावली- 100- 82 (16-66)-0- 82 प्रतिशत

- सीएचसी नाई- 100- 100 ( 20-80)-0- शत प्रतिशत

- सीएचसी बडग़ांव- 90- 90 (32-58 )-0- शत प्रतिशत

- यूपीएचसी मादड़ी- 78- 74 (21-53)-0-94.87 प्रतिशत

----

कुल 9 साइट- 774- 635 (234-401)- 2- 82.04 प्रतिशत

--------------

ये केन्द्र नए खोलकर यहां वैक्सीन भेजी गई है। मंगलवार को यहां टीकाकरण होगा।

- सीएचसी कोनाड़

- सीएचसी वल्लभनगर

- सीएचसी खेरवाड़ा

- टीबी हॉस्पिटल बड़ी

-----

इनमें काम पूरा-अब नहीं होगा टीकाकरण:
- मावली
- नाई

- बडग़ांव

- मादड़ी

-----

टीकाकरण में महिला व पुरुष

टीकाकरण में पुरुषों के मुकाबले महिलाओं का लक्ष्य अधिक था, जिसमें उनकी संख्या 490 थी, जिनमें से 401 ने टीकाकरण करवाया, जबकि पुरुषों का लक्ष्य 284 था, जिसमें से 234 पुरुषों ने टीके लगवाए।

प्रतिशत

महिला- 81.83 प्रतिशत

पुरुष- 82.39 प्रतिशत

----

मुख्य चिकित्सा एवं स्वास्थ्य अधिकारी डॉ दिनेश खराड़ी ने सेमवार को कोविड.19 वैक्सीनेशन साइट सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र बडग़ांव का दौरा किया। विजिट के दौरान उन्होंने टीकाकरण स्थल पर की गई व्यवस्थाओं का जायजा लिया एवं टीकाकरण कर रही टीम से टीकाकरण संबंधित विषयों पर सवाल किए, उन्होंने वैक्सीनेशन टीम को टीका लगाते वक्त आवश्यक सावधानियां बरतने, कोरोना प्रोटोकॉल का पूर्णत: पालन करने, सभी लाभार्थियो का वेरिफि केशन कोविन एप पर पूर्ण रूप से करने हेतु भी निर्देशित किय। सीएमएचओ डॉक्टर खराड़ी ने टीकाकरण के लिए आए हेल्थ वर्कर्स से भी संवाद कर टीका लगवाने के बाद हो रहे स्वास्थ्य अनुभव के बारे में जाना। विजिट के दौरान उन्होंने सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र पर उपस्थित चिकित्सकों एवं ब्लॉक मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देशित किया कि यह सुनिश्चित हो कि सभी लाभार्थियों को 1 दिन पूर्व ही टीकाकरण की सूचना भिजवा दी जाए, ताकि अधिक से अधिक लाभार्थियों का टीकाकरण किया जा सके। टीकाकरण के दौरान व्यवस्थाएं ऐसी हो कि अस्पताल का दैनिक कार्य प्रभावित नहीं हो और अस्पताल आने वाले रोगियों को किसी भी तरह की समस्या का सामना नहीं करना पड़े। विजिट के दौरान आरसीएचओ डॉ अंकित जैन, एसएमओ डब्ल्यूएचओ डॉ अक्षय व्यास, खंड मुख्य चिकित्सा अधिकारी बडग़ांव डॉ गणपत चौधरी सहित अन्य अधिकारीगण मौजूद थे। बडग़ांव में टीकाकरण की पहले जो व्यवस्था की गई थी, उसे बाद में बदला गया। सीएमएचओ डॉ खराड़ी ने यहां कमियों को दूर करवा बेहतर व्यवस्था करवाई।

----

आरएनटी में एमबीबीएस कर रहे एक लड़का व एक लड़की की तबीयत खराब हुई थी। लड़की को टीका लगने के बाद पसीना होने की शिकायत हुई थी तो लड़के को खुजली की समस्या हुई लेकिन थोड़ी देर में सामान्य उपचार के बाद ठीक हो गए। हालांकि लड़की को तो किसी उपचार की जरूरत भी नहीं पड़ी। सुमन ने बताया कि 100 के मुकाबले संख्या कम होने का कारण एमबीबीएस की बारी होना था, अभी अभी कक्षाएं शुरू होने के कारण विद्यार्थी कम आए, हालांकि बाद में लक्ष्य पूरा हो जाएगा।

डॉ आरएल सुमन, अधीक्षक एमबी हॉस्पिटल उदयपुर

-----

bhuvanesh pandya
और पढ़े

राजस्थान पत्रिका लाइव टीवी

हमारी वेबसाइट पर कंटेंट का प्रयोग जारी रखकर आप हमारी गोपनीयता नीति और कूकीज नीति से सहमत होते हैं।
OK
Ad Block is Banned